Monday, December 6, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयनमस्ते: बेंजामिन नेतन्याहू ने दी इजराइल के लोगों को कोरोना से निपटने के लिए...

नमस्ते: बेंजामिन नेतन्याहू ने दी इजराइल के लोगों को कोरोना से निपटने के लिए भारतीय तरीका अपनाने की सलाह

पेटीएम के उस कर्मचारी ने सोमवार को ही दफ्तर ज्वॉइन किया था। फिलहाल वह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती है, जहाँ उसका इलाज चल रहा है। उसे आज ही अस्पताल लाया गया था। पेटीएम का वह कर्मचारी पेटीएम गुरुग्राम ऑफिस का बताया जा रहा है।

विश्व में बढ़ते हुए कोरोना वायरस के ख़ौफ़ के बीच इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने आज अपने नागरिकों से अभिवादन के लिए भारतीय तरीका अपनाने की सलाह दी है। नेतन्याहू ने कहा है कि कोरोना वायरस से लड़ने के लिए भारतीय तरीका यानी, नमस्ते कहना सबसे बेहतर है।

दरअसल, अभिवादन के समय गले मिलना, हाथ मिलाना, चुम्बन, आदि कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा संक्रमित करने वाले तरीके हैं। अब तक दुनियाभर में हजारों लोगों की मौत इस वायरस की वजह से हो चुकी है। हालाँकि तमाम लोग ऐसे भी हैं जो ठीक हो कर अपने घर वापस जा चुके हैं। लेकिन इसका खौफ कम होता नहीं दिख रहा है। भारत में भी कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़ रही है। ताजा जानकारी के मुताबिक गुरुग्राम में डिजिटल पेमेंट ऐप पेटीएम के एक कर्मचारी के भी कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

पेटीएम के उस कर्मचारी ने सोमवार को ही दफ्तर ज्वॉइन किया था। फिलहाल वह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती है, जहाँ उसका इलाज चल रहा है। उसे आज ही अस्पताल लाया गया था। पेटीएम का वह कर्मचारी पेटीएम गुरुग्राम ऑफिस का बताया जा रहा है।

भारत और इजराइल की दोस्ती बेहद स्वाभाविक है। गत 15 अगस्त को ही एक ट्वीट में बेंजामिन नेतन्याहू ने पीएम मोदी और सभी भारतीयों को आजादी की बधाई देते हुए सभी को ‘नमस्ते’ कहा था। 23 सेकंड के वीडियो में बेंजामिन नेतन्याहू ने पीएम मोदी और भारतीयों को संबोधित करते हुए आजादी की बधाई दी थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पिता को 15 टुकड़ों में काटा, बैग में भरकर झेलम किनारे फेंका’: USA में पल्लवी जोशी ने दुनिया को बताया कश्मीरी पंडितों का दर्द

अभिनेत्री पल्लवी जोशी ने बताया कि 'द कश्मीर फाइल्स' के निर्माण के दौरान उन्होंने कई कश्मीरी पंडितों के इंटरव्यूज लिए, जो अपने-आप में एक दर्द भरा अनुभव था।

UAE में खुले में नमाज पर ₹20000 जुर्माना: ‘द गार्डियन’ के लिए मुस्लिम पीड़ित और हिन्दू गुंडे, सड़कों को बता रहा ‘नमाज साइट्स’

90% सुन्नी मुस्लिम जनसंख्या वाले UAE में सड़क किनारे नमाज पढ़ने पर Dh 1000 (20,484 रुपए) के जुर्माने का प्रावधान है। गुरुग्राम पर हंगामा क्यों?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
141,816FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe