Sunday, July 3, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयनाइजीरिया के चर्च में 'मुस्लिम आतंकियों' ने ईसाइयों पर ताबड़तोड़ बरसाई गोलियाँ: 50 की...

नाइजीरिया के चर्च में ‘मुस्लिम आतंकियों’ ने ईसाइयों पर ताबड़तोड़ बरसाई गोलियाँ: 50 की मौत, कई घायल, पादरी का भी हुआ अपहरण

चर्च में हुए भीषण हमले को लेकर सांसद अडेमी ओलेमी का मानना है कि ये हमला मुस्लिम फुलानी आतंकवादियों द्वारा किया गया था। इन आतंकियों को डकैत भी कहा जाता है। इन आतंकियों ने लगातार उत्तरी नाइजीरिया समेत देश के कई हिस्सों को दहलाया है।

अफ्रीकी देश नाइजीरिया (Nigeria Church Attack) से दुखद घटना प्रकाश में आई है। जहाँ दक्षिण-पश्चिमी नाइजीरिया के ओवो शहर में स्थित कैथोलिक चर्च में रविवार (5 जून 2022) को बंदूकधारियों ने प्रेयर के दौरान जमकर गोलीबारी की, जिसमें कम से कम 50 लोगों की मौत (Death) हो गई। हमलावरों ने चर्च के अंदर धमाका भी किया। विधायक ओगुनमोलासुयी ओलुवोले ने कहा कि इस हमले में मारे गए लोगों में बच्चे भी शामिल हैं।

ओलुवोले के मुताबिक, ओवो के इतिहास में पहले कभी ऐसी घटना नहीं हुई। नाइजीरिया के निचले विधायी सदन में ओवो क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले एडेलेगबे टिमिलीन ने कहा कि हमलावरों ने चर्च के मुख्य पादरी का भी अपहरण कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि घटना स्थानीय समयानुसार दोपहर करीब 11:30 बजे घटी। हालाँकि, हमलावरों का पता नहीं चल सका है। घटना स्थल से जो तस्वीरें सामने आई हैं, उनमें वहाँ पर खून से लथपथ लोगों को जमीन पर पड़े थे।

इस नृशंस हमले की कड़ी निंदा करते हुए नाइजीरियाई राष्ट्रपति मुहम्मदु बुहारी ने कहा कि चाहे कुछ भी हो जाए ये देश बुरे लोगों के सामने कभी नहीं झुकेगा। अंधकार कभी भी प्रकाश पर विजय नहीं पा सकेगा। उन्होंने कहा कि आखिर में नाइजीरिया ही जीतेगा।

अधिकारियों का कहना है कि रविवार को पेंटेकोस्ट के दिन ईसाई धर्म को मानने वाले चर्च में इकट्ठे हुए थे। उसी दौरान उन्हें निशाना बनाया किया। घायलों का इलाज करने वाले डॉक्टरों, स्थानीय अधिकारियों और स्वयंसेवकों ने कहा कि मरने वालों की संख्या कम से कम 50 थी। जबकि इस हमले में दर्जनों लोग घायल भी हुए हैं।

फुलानी आतंकियों पर शक

कैथोलिक चर्च में हुए भीषण हमले को लेकर सांसद अडेमी ओलेमी का मानना है कि ये हमला मुस्लिम फुलानी आतंकवादियों द्वारा किया गया था। इन आतंकियों को डकैत भी कहा जाता है। इन आतंकियों ने लगातार उत्तरी नाइजीरिया समेत देश के कई हिस्सों को दहलाया है।

इस आतंकी संगठन का उदय चरवाहों और स्थानीय समुदायों के बीच जमीन तक पहुँच को लेकर और खेतों पर अतिक्रमण के बीच ऐतिहासिक संघर्ष के कारण हुआ है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दोस्त सलमान, शाहवेज, अलीजान और इमरान ने यश रस्तोगी को मार डाला, शव टुकड़े-टुकड़े कर नाले में फेंक दिया: मेरठ पुलिस बोली – ब्लैकमेल...

यूपी के मेरठ में LLB छात्र यश रस्तोगी की गला दबा कर और चाकुओं से वार कर के हत्या कर दी गई। दोस्त सलमान, शाहवेज, अलीजान और इमरान गिरफ्तार।

भाजपा MLA राहुल नार्वेकर बने महाराष्ट्र के नए स्पीकर, मिले 164 मत: ‘जय श्रीराम, जय शिवाजी’ के नारों से गूँजा सदन

महाराष्ट्र विधानसभा के दो दिवसीय विशेष सत्र में भाजपा के विधायक राहुल नार्वेकर को सदन का स्पीकर चुना गया है। उन्हें 164 मत मिले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,752FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe