Saturday, July 2, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयसेक्स करने पर मिलेगी 7 साल की सज़ा, सिंगल्स के लिए क़तर का शरिया...

सेक्स करने पर मिलेगी 7 साल की सज़ा, सिंगल्स के लिए क़तर का शरिया कानून: FIFA वर्ल्ड कप से पहले किया ऐलान

वर्ल्ड कप के कई महीने पहले ही क़तर ने फुटबॉल फैंस को खुली चेतावनी दे दी है कि इस साल के यदि विश्व कप में वन-नाइट स्टैंड में पकड़े गए तो आपको सात साल तक सलाखों के पीछे रहना पड़ सकता है।

फ़ुटबॉल प्रशंसक, सावधान! कतर में फीफा विश्व कप 2022 (FIFA World Cup 2022) के दौरान किसी भी विवाहेत्तर यौन संबंध स्थापित करते पकड़े गए तो सात साल की जेल की सजा हो सकती है। दरअसल, इस साल नवंबर में फुटबॉल वर्ल्ड कप खेला जाना है, जिसकी मेजबानी कतर कर रहा है। वहीं इस्लामिक देश क़तर ने शरिया कानून को ध्यान में रखते हुए फीफा वर्ल्ड कप के दौरान शराब और सेक्स को लेकर कई तरीके की बंदिशें लगाई हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, खाड़ी देश क़तर में जब तक आप पति-पत्नी की टीम के रूप में नहीं आ रहे हैं, तब तक सेक्स आपको सेक्स से दूर ही रहना होगा। ऐसे में निश्चित रूप से इस टूर्नामेंट में कोई वन-नाइट स्टैंड नहीं होगा। कोई ऐसी पार्टी नहीं होगी जहाँ सिंगल्स दूसरों से मिल सकें। वर्ल्ड कप के कई महीने पहले ही क़तर ने फुटबॉल फैंस को खुली चेतावनी दे दी है कि इस साल के यदि विश्व कप में वन-नाइट स्टैंड में पकड़े गए तो आपको सात साल तक सलाखों के पीछे रहना पड़ सकता है।

असल में क़तर अपने इस्लामिक कानून और नियमों को लेकर सख्त पाबन्द है और यहाँ सेक्स को लेकर भी कई कड़े नियम लागू हैं। यहाँ पर पति-पत्नी के अलावा किसी और के साथ सेक्स करना गैर कानूनी है, चाहे वह दोनों की मर्ज़ी से ही क्यों न हुआ हो फिर भी इसके लिए कड़ी सजा का प्रावधान हैं। इसलिए फीफा वर्ल्ड कप के दौरान क़तर आने वाले सिंगल्स अगर किसी के साथ सेक्स करते पकड़े जाते हैं तो उन्हें पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज सकती है। यदि आप होमोसेक्शुअल रिलेशनशिप में है तो भी आपके विरुद्ध शरिया कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जा सकती है। कुलमिलाकर, इस साल के विश्व कप में पहली बार अनिवार्य रूप से अवैध सेक्स प्रतिबंध है।

गौरतलब है कि कतर में अपने नागरिकों के लिए भी शादी के बाहर सेक्स और समलैंगिकता अवैध है। वहाँ पहले से ही अलग-अलग सरनेम वाले फैंस को होटल का कमरा तक नहीं मिल रहा। कतर में फीफा 2022 विश्व कप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नासिर अल-खतर ने कहा, “हमारे लिए हर एक फैन की सिक्योरिटी बेहद अहम है। यहाँ खुले में तो पति-पत्नी भी किसी तरह के प्यार का इजहार नहीं कर सकते क्योंकि यह हमारी संस्कृति का हिस्सा नहीं है। कतर एक रूढ़िवादी देश है और अगर आप यहाँ आ रहे हैं तो आपको नियमों का पालन करना ही होगा।”

वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट में समलैंगिकता को लेकर कतर फुटबॉल संघ के महासचिव मंसूर अल अंसारी के हवाले से कहा गया है कि क़तर में वर्ल्ड कप के दौरान इंद्रधनुषी झंडों पर भी प्रतिबंध लगाने का विचार किया जा रहा है। उन्होंने अप्पने बयान में कहा, “आप एलजीबीटी के बारे में अपना विचार प्रदर्शित करना चाहते हैं, तो इसे ऐसे समाज में प्रदर्शित करें जहाँ यह स्वीकार हो। कतर में इसकी कोई जगह नहींं।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी गैर-जिम्मेदाराना’: रिटायर्ड जज ने सुनाई खरी-खरी, कहा – यही करना है तो नेता बन जाएँ, जज क्यों...

दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज एसएन ढींगरा ने मीडिया में आकर बताया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के जजों की टिप्पणी पर क्या सोचते हैं।

‘क्या किसी हिन्दू ने शिव जी के नाम पर हत्या की?’: उदयपुर घटना की निंदा करने पर अभिनेत्री को गला काटने की धमकी, कहा...

टीवी अभिनेत्री निहारिका तिवारी ने उदयपुर में कन्हैया लाल तेली की जघन्य हत्या की निंदा क्या की, उन्हें इस्लामी कट्टरपंथी गला काटने की धमकी दे रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,399FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe