Tuesday, September 21, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'बालाकोट खौफ' में जी रहा पाकिस्तान: सर्जिकल स्ट्राइक के डर से फाइटर प्लेन से...

‘बालाकोट खौफ’ में जी रहा पाकिस्तान: सर्जिकल स्ट्राइक के डर से फाइटर प्लेन से कर रहा बॉर्डर की निगरानी

हंदवाड़ा में आतंकी मुठभेड़ के बाद भारत की जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान में डर का माहौल बना हुआ है। यह डर इस कदर है कि पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर अचानक से लड़ाकू विमानों की गतिविधियाँ बढ़ा दी हैं।

हंदवाड़ा में आतंकी मुठभेड़ के बाद भारत की जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान में डर का माहौल बना हुआ है। यह डर इस कदर है कि पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर अचानक से लड़ाकू विमानों की गतिविधियाँ बढ़ा दी हैं। भारतीय सीमा के नजदीक नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तान के एफ-16, जेएफ-17 और मिराज-III उड़ान भर रहे हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, घटना के समय पाकिस्तान पहले से ही एक हवाई अभ्यास कर रहा था, जिसके बारे में भारत को भी जानकारी थी। शीर्ष सरकारी सूत्रों ने बताया, “कर्नल की वीरगति के तुरंत बाद पाकिस्तानी वायु सेना ने अपने गश्ती विमानों में एफ-16 और जेएफ-17 सहित अन्य लड़ाकू विमानों को शामिल किया।

पाकिस्तान की इन हरकतों को देखते हुए भारतीय सेना पूरी तरह से सतर्क है और बॉर्डर पर पाकिस्तान की वायुसेना की एक-एक गतिविधि पर सर्विलांस टीम द्वारा नजर रखी जा रही है।

इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्विटर पर यह दावा किया था कि भारत मौजूदा तनाव का इस्तेमाल कर (सीमा पार से आतंकवादियों की) घुसपैठ के बहाने उनके देश के खिलाफ अभियान छेड़ सकता है। इमरान खान ने ट्वीट में लिखा, “मैं पाकिस्तान को निशाना बनाने वाले झूठे फ्लैग ऑपरेशन के बहाने भारत के प्रयासों के बारे में दुनिया को आगाह कर रहा हूँ।”

आपको बता दें कि पाकिस्तान के डर की वजह, बीते सालों में उरी और पुलमावा अटैक जैसे आतंकी हमलों के बाद भारत द्वारा की गई बड़ी कार्रवाई है। पुलमावा अटैक के बाद भारतीय एयरफोर्स ने बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के कैंप को निशाना बनाया था। उरी हमले के बाद आतंकियों के लॉन्चिंग पैड्स पर सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अमित शाह के मंत्रालय ने कहा- हिंदू धर्म को खतरा काल्पनिक’: कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता को RTI एक्टिविस्ट बता TOI ने किया गुमराह

TOI ने एक खबर चलाई, जिसका शीर्षक था - 'RTI: हिन्दू धर्म को खतरा 'काल्पनिक' है - केंद्रीय गृह मंत्रालय' ने कहा'। जानिए इसकी सच्चाई क्या है।

NDTV से रवीश कुमार का इस्तीफा, जहाँ जा रहे… वहाँ चलेगा फॉर्च्यून कड़ुआ तेल का विज्ञापन

रवीश कुमार NDTV से इस्तीफा दे चुके हैं। सोर्स बता रहे हैं कि देने वाले हैं। मैं मीडिया में हूँ, मुझे सोर्स से भी ज्यादा भीतर तक की खबर है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,490FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe