Monday, June 24, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान में अंग्रेजी टीचर अब्दुल रऊफ को गोलियों से भून डाला, ईशनिंदा में मौलवियों...

पाकिस्तान में अंग्रेजी टीचर अब्दुल रऊफ को गोलियों से भून डाला, ईशनिंदा में मौलवियों ने बुलाया था: दावा – लेक्चर के दौरान की इस्लाम विरोधी बातें

शिक्षक को मलिकाबाद इलाके में एक कब्रिस्तान के पास निशाना बनाया गया, जब वह कुछ लोगों के साथ इस मामले पर अपनी स्थिति स्पष्ट करने के लिए उलेमा की जिरगा में भाग लेने जा रहा था।

पाकिस्तान के ग्वादर प्रांत में ईशनिंदा का आरोप लगा कर हत्या की खबर आई है। ईशनिंदा के आरोप में भाषा विभाग से जुड़े एक युवा शिक्षक की अज्ञात हथियारबंद लोगों ने गोली मरकर हत्या कर दी। मामला पाकिस्तान के केच जिले के तुरबत शहर का है।

पाकिस्तानी मीडिया पोर्टल ‘डॉन’ की खबर के अनुसार, पुलिस ने कहा कि 22 वर्षीय अंग्रेजी शिक्षक अब्दुल रऊफ को शनिवार (5 अगस्त, 2023) को मलिकाबाद इलाके में एक कब्रिस्तान के पास निशाना बनाया गया, जब वह कुछ लोगों के साथ इस मामले पर अपनी स्थिति स्पष्ट करने के लिए उलेमाओं की एक सभा में पेश होने जा रहा था।

मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि भाषा केंद्र के छात्रों ने स्थानीय मौलवियों के पास शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें रऊफ पर एक व्याख्यान के दौरान ईशनिंदा करने का आरोप लगाया गया था। देखते ही देखते इस मामले ने सोशल मीडिया पर भी तूल पकड़ लिया। 

प्रिंसिपल सुधीर अहमद ने कहा कि उलेमा के एक समूह ने शुक्रवार (4 अगस्त, 2023) को भाषा केंद्र का दौरा किया और इस मुद्दे पर छात्रों और अंग्रेजी शिक्षक रऊफ की बात सुनी। तब  रऊफ ने आरोप से इनकार किया और जोर देकर कहा कि उन्होंने ईशनिंदा नहीं की है। साथ ही उन्होंने इस मुद्दे पर किसी भी आपत्तिजनक शब्द के लिए माफी माँगी। वहीं मौलवियों ने रऊफ को यकीन दिलाया था कि वे इस मुद्दे को सुलझा लेंगे और अपनी स्थिति स्पष्ट करने के लिए मदरसे में होने वाली जिरगा में बुलाया था।

मुफ्ती शाह मीर ने कहा, “मैंने अब्दुल रऊफ को जिरगा में आमंत्रित किया, जहाँ तुर्बत के 100 से अधिक उलेमा मुद्दे को सौहार्दपूर्ण ढंग से सुलझाने के लिए मौजूद थे, लेकिन अज्ञात नकाबपोश लोगों ने मदरसा पहुँचने से पहले ही उसकी हत्या कर दी।”

उन्होंने बताया कि हत्या के बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। हालाँकि, शिक्षक के परिवार ने पुलिस में कोई मामला दर्ज नहीं कराया है। बल्कि शव लेने के बाद सीधा दफनाने के लिए अपने पैतृक शहर नागोर क्षेत्र में ले गए। वहीं रिपोर्ट में या दावा किया गया है पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चर्च में फायरिंग, यहूदियों के धर्मस्थल को जलाया, पादरी का काटा गला: आतंकी हमले में रूस के 15 पुलिसकर्मियों की मौत, 6 आतंकवादी भी...

रूस में हुए आतंकी हमले में 15 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की मौत हो गई, पादरी का सिर कलम कर दिया गया और 25 से ज्यादा घायल बताए जा रहे हैं।

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -