Wednesday, January 19, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयPak के मस्जिद में लड़कियों को दी जा रही 'सिर कलम करने' की ट्रेनिंग,...

Pak के मस्जिद में लड़कियों को दी जा रही ‘सिर कलम करने’ की ट्रेनिंग, इस्लाम के अपमान पर ‘बदला लेने’ का तरीका: Video आया सामने

पाकिस्तान के मस्जिदों में छात्राओं को सिखाया जा रहा है कि अगर कोई व्यक्ति इस्लाम का अपमान करता है तो फिर उसका सिर कैसे कलम किया जाएगा।

पाकिस्तान की मस्जिदों में लड़कियों को सिर कलम करने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यहाँ छात्राएँ पढ़ाई-लिखाई नहीं, हिंसा सीख रही हैं। बता दें कि हाल ही में पाकिस्तान में ‘ईशनिंदा’ का आरोप लगा कर एक श्रीलंकाई नागरिक की सैकड़ों की भीड़ ने ज़िंदा जला कर हत्या कर दी थी। इस कारण इमरान खान की सरकार दुनिया भर की आलोचना के निशाने पर है। अब नया वीडियो सामने आया है, जिसमें पाकिस्तान के मस्जिद में लड़कियों को सिर कलम करने की ट्रेनिंग लेते हुए दिखाया गया है।

बताया जा रहा है कि ये वीडियो पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद के लाल मस्जिद का है। यहाँ छात्राओं को सिखाया जा रहा है कि अगर कोई व्यक्ति इस्लाम का अपमान करता है तो फिर उसका सिर कैसे कलम किया जाएगा। इस वीडियो के बैकग्राउंड में तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (TLP) का भड़काऊ नारा लाउडस्पीकर पर बजता हुआ सुनाई दे रहा है। श्रीलंकाई नागरिक प्रियंता कुमारा दियावदाना के हत्यारों की भीड़ भी हिंसा के वक्त यही नारे लगा रही थी।

हाल ही में पाकिस्तान की सरकार ने TLP के साथ समझौता किया है, लेकिन उससे पहले जम कर पूरे मुल्क में उत्पात मचाया गया था। पाकिस्तान की पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गुल बुखारी ने इस वीडियो को अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया है। उन्होंने तंज कसते हुए लिखा कि पाकिस्तान का ‘कामयाब जवान’ वाला प्रोजेक्ट काफी अच्छे से आगे बढ़ रहा है। इसमें महिलाएँ और छात्राएँ बुर्का और हिजाब में दिख रही हैं। उनके सामने ‘तलवार से सिर कलम करने’ का नमूना दिखाया जा रहा है।

बता दें कि पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने शिक्षा और रोजगार को बढ़ावा देने के लिए ‘कामयाब जवान’ योजना शुरू की थी। लगभग तीन महीने पहले भी ‘लाल मस्जिद’ चर्चा में आई थी, जब मौलाना अब्दुल अजीज के सामने घुटने टेकते हुए इमरान खान की सरकार ने उन्हें वहाँ तालिबानी झंडा फहराने की अनुमति दे दी थी। साथ ही मौलवी ने तालिबान का झंडा हटाने पर वहाँ की फ़ौज को भी धमकाया था। उसने कहा था कि पाकिस्तानी तालिबान सबको सबक सिखा देगा।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भगवान विष्णु की पौराणिक कहानी से प्रेरित है अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म, रिलीज को तैयार ‘Ala Vaikunthapurramuloo’

मेकर्स ने अल्लू अर्जुन की नई हिंदी डब फिल्म के टाइटल का मतलब बताया है, ताकि 'अला वैकुंठपुरमुलु' से अधिक से अधिक दर्शकों का जुड़ाव हो सके।

‘एक्सप्रेस प्रदेश’ बन रहा है यूपी, ग्रामीण इलाकों में भी 15000 Km सड़कें: CM योगी कुछ यूँ बदल रहे रोड इंफ्रास्ट्रक्चर

योगी सरकार ने ग्रामीण इलाकों में 5 वर्षों में 15,246 किलोमीटर सड़कों का निर्माण कराया। उत्तर प्रदेश में जल्द ही अब 6 एक्सप्रेसवे हो जाएँगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,216FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe