Friday, July 30, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयजिस हिंदू छात्रा की मौत को Pak ने बताया आत्महत्या, उसके शव पर मिला...

जिस हिंदू छात्रा की मौत को Pak ने बताया आत्महत्या, उसके शव पर मिला पुरुष DNA: फॉरेंसिक रिपोर्ट में खुलासा

संदिग्ध परिस्थियों में हिंदू लड़की नमृता चंदानी की मौत पर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। नमृता के शरीर और कपड़ों से पुरुष का डीएनए मिला है। अब पुलिस...

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के लरकाना में संदिग्ध परिस्थियों में हिंदू लड़की नमृता चंदानी की मौत पर एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। ताजा जानकारी के अनुसार नमृता के शरीर और कपड़ों से पुरुष का डीएनए मिला है।

इस खुलासे के बाद पूरे मामले में नया मोड़ आ गया। जहाँ अभी तक कॉलेज प्रशासन कह रहा था कि नमृता की मौत आत्महत्या है, वहीं फॉरेंसिक लैब से आई ब्लड सैंपल की रिपोर्ट किसी दूसरी ओर ही इशारा कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार लरकाना जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मसूद बंगश ने नमृता चंदानी की डीएनए रिपोर्ट का खुलासा करते हुए बताया कि रिपोर्ट में नमृता के शरीर और कपड़ों पर पुरुष के डीएनए सैंपल पाए गए हैं। जिन्हें अब कोर्ट के समक्ष भी पेश किया जाएगा। ये रिपोर्ट जामशोरो की फॉरेंसिक लैब से जारी की गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस ने 17 सितंबर को नमृता के कपड़ों पर लगा खून का सैंपल जामशोरो फॉरेंसिक लैब में भेजा था। जिसके बाद उन्हें इसकी रिपोर्ट लगभग डेढ़ महीने बाद सोमवार (अक्टूबर 28, 2019) को मिली और पूरे रिपोर्ट से मामले में नया खुलासा हुआ।

बता दें पाकिस्तान के लरकाना के बीबी आसिफा डेंटल कॉलेज में अंतिम वर्ष की बीडीएस छात्रा नमृता चंदानी की अचानक मौत ने सबको हिलाकर रख दिया था। इस मामले के तूल पकड़ने के बाद सिंध पुलिस ने 32 लोगों को हिरासत में लिया था। जिसमें मेडिकल छात्रा के दो क्लास के साथी मेहरान अबरो औऱ अली शान मेमन का नाम भी शामिल था। पूरे मामले में पुलिस ने नमृता के फोन की डिटेल्स खँगालने के बाद इन दोनों को हिरासत में लिया था।

पुलिस का दावा था कि अबरो ने पूछताछ में स्वीकारा है कि उसके और नमृता के बीच प्रेम संबंध थे। जिसके चलते नमृता ने अबरो से अपने और उसकी शादी की संभावनाओं पर बात भी की थी। लेकिन मेहरान इसके लिए तैयार नहीं था।

इस मामले में नमृता के परिवार वालों की ओर से काफी दबाव बनाए जाने के बाद 25 सितंबर को सिंध हाइकोर्ट ने न्यायिक जाँच के आदेश दिए थे। जिसके बाद ही इस मामले में जाँच शुरू हुई। लड़की के भाई का लगातार कहना था कि उसकी बहन के गले पर केबल की तार से गला घोंटने के निशान थे। जो उसकी हत्या की ओर इशारा करते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,052FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe