Monday, November 28, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयबेटी ने मर्जी के खिलाफ किया निकाह, अब्बू मंजूर हुसैन ने परिवार के 7...

बेटी ने मर्जी के खिलाफ किया निकाह, अब्बू मंजूर हुसैन ने परिवार के 7 सदस्यों को जला दिया जिंदा: पाकिस्तान की दिल दहलाने वाली घटना

महबूब अहमद ने कहा कि उसने और बीबी ने साल 2020 में मंजूर हुसैन की मर्जी के खिलाफ निकाह किया था। इसको लेकर मंजूर काफी गुस्से में रहता था। उसे यह निकाह पसंद नहीं था। इसके चलते उसने...

पाकिस्तान में ऑनर किलिंग से जुड़ा एक दिलदहाने वाला मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि यहाँ एक बेटी ने अपने अब्बू की मर्जी के खिलाफ जाकर निकाह कर लिया था। इससे आगबबूला होकर पाकिस्तानी शख्स मंजूर हुसैन ने अपनी दो बेटियों और चार पोते-पोतियों समेत अपने परिवार के सात सदस्यों को जिंदा जला दिया। हुसैन पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के मुजफ्फरगढ़ जिले का रहने वाला है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, मंजूर के घर में उसकी बेटियाँ फौजिया, बीबी और खुर्शीद अपने परिवार के साथ रह रही थीं। आग में जलने से बीबी, उसके नवजात बेटे समेत उसके चार नाबालिग बच्चों की मौत हो गई।

बीबी के पति महबूब अहमद जो इस हादसे से बाल-बाल बचे थे, उन्होंने अपने ससुर मंजूर हुसैन और उसके बेटे साबिर हुसैन के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। महबूब ने पुलिस को बताया, ”मैं व्यापार के लिए मुल्तान गया था। जब वापस लौटा तो देखा कि घर से आग की लपटें निकल रही थीं। वहाँ से मैंने दो लोगों, मंजूर हुसैन और उसके बेटे साबिर हुसैन को भागते हुए देखा था। पुलिस अधिकारी अब्दुल मजीद ने रॉयटर्स को बताया, “प्रेम विवाह के चलते दोनों परिवारों के बीच रंजिश थी, इसी के चलते इस घटना को अंजाम दिया गया है।”

बता दें कि पुलिस ने शिकायत के आधार पर दोनों आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस को दिए अपने बयान में, महबूब अहमद ने कहा कि उसने और बीबी ने साल 2020 में मंजूर हुसैन की मर्जी के खिलाफ निकाह किया था। इसको लेकर मंजूर काफी गुस्से में रहता था। उसे यह निकाह पसंद नहीं था। इसके चलते उसने घर के सात सदस्यों को मौत के घाट उतारने की योजना बनाई थी। ह्यूमन राइट्स वॉच के मुताबिक, पाकिस्तान में हर साल ऑनर किलिंग के लगभग 1000 मामले दर्ज किए जाते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मदरसों में पढ़ रहे आठवीं तक के छात्रों को अब नहीं मिलेगी स्कॉलरशिप, पिछले साल 16558 मदरसों के 5 लाख बच्चों को मिला था

केंद्र की मोदी सरकार ने फैसला लिया है कि मदरसों में पढ़ने वाले बच्चों को जो छात्रवृत्ति मिलती है वो 1 से 8 कक्षा तक नहीं मिलेगी।

चीन के कई शहरों में फैला प्रदर्शन, सड़कों पर उतरे छात्र: शी जिनपिंग के खिलाफ नारेबाजी, पत्रकार को पुलिस ने पीटा

चीन में शी जिनपिंग के खिलाफ होता विरोध प्रदर्शन देश के कई शहरों में फैल गया है। लोग उस इलाके तक आ गए हैं जहाँ सबसे ज्यादा एबेंसी हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
235,826FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe