Friday, May 24, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयकश्मीर मुद्दे पर UN में भाव न मिलने से बौखलाए इमरान खान: स्थायी प्रतिनिधि...

कश्मीर मुद्दे पर UN में भाव न मिलने से बौखलाए इमरान खान: स्थायी प्रतिनिधि मलीहा लोधी को हटाया

कश्मीर में अत्याचार को दिखाने की नाकाम कोशिश करते हुए मलीहा लोधी ने गाजा की एक घायल फिलीस्तीनी लड़की की तस्वीर दिखा कर कहा था कि यह कश्मीर की एक पीड़ित लड़की है। बाद में पोल खुल गई और मलीहा और पाक की काफी आलोचना हुई थी।

पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र संघ में अपनी स्थायी प्रतिनिधि मलीहा लोधी को हटा दिया है। उनकी जगह पर मुनीर अकरम को नियुक्त किया गया है। पाक ने यह बदलाव संयुक्त राष्ट्र संघ की हालिया महासभा से लौटने के महज 72 घंटों के भीतर किया है। विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा, “राजदूत मुनीर अकरम को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र में डॉ मलीहा लोधी की जगह पाकिस्तान का स्थायी प्रतिनिधि नियुक्त किया गया है।” मलीहा लोधी को हटाने की कोई वजह नहीं बताई गई है। लेकिन ऐसा कहा जा रहा है कि यूएन में जम्मू कश्मीर पर पाकिस्तान को कोई अहमियत न मिलने और देश की किरकिरी कराने की वजह से डॉ मलीहा लोधी के खिलाफ यह कार्रवाई की गई है।

हालाँकि, इमरान खान मलीहा लोधी के काम से नाखुश बताए जा रहे थे, मगर फिर भी इमरान खान ने अमेरिका से वापस आने के बाद अपने दौरे को बेहद सफल बताया और अपनी पार्टी से खुद का स्‍वागत भी कराया। अब विपक्षी पार्टी पाकिस्‍तान पीपुल्‍स पार्टी (PPP) की नेता शेरी रहमान ने पूछा है कि जब दौरा सफल रहा तो मलीहा लोधी को हटाने की जरूरत क्‍यों पड़ी? मतलब साफ है कि इमरान पाकिस्तानी आवाम को चाहे जितना बरगला लें, लेकिन हकीकत यही है कि कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान को किसी देश ने भाव नहीं दिया। जिससे बौखलाए पाक ने ये कदम उठाया।

बता दें कि मलीहा लोधी अभी हाल में तब चर्चा में आई थीं जब उन्होंने इमरान की अमेरिका यात्रा के दौरान एक फोटो ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को विदेश मंत्री बता दिया था। जब लोगों ने ट्रोल किया तो मलीहा ने ट्वीट डिलीट कर दिया। बाद में उन्होंने इसके लिए माफी भी माँगी थी लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। 

इससे पहले कश्मीर में अत्याचार को दिखाने की नाकाम कोशिश करते हुए मलीहा लोधी ने गाजा की एक घायल फिलीस्तीनी लड़की की तस्वीर दिखा कर कहा था कि यह कश्मीर की एक पीड़ित लड़की है। बाद में पोल खुल गई और मलीहा और पाक की काफी आलोचना हुई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बाबरी का पक्षकार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आ गया, लेकिन कॉन्ग्रेस ने बहिष्कार किया’: बोले PM मोदी – इन्होंने भारतीयों पर मढ़ा...

प्रधानमंत्री ने स्पष्ट ऐलान किया कि अब यह देश न आँख झुकाकर बात करेगा और न ही आँख उठाकर बात करेगा, यह देश अब आँख मिलाकर बात करेगा।

कॉन्ग्रेस नेता को ED से राहत, खालिस्तानियों को जमानत… जानिए कौन हैं हिन्दुओं पर हमले के 18 इस्लामी आरोपितों को छोड़ने वाले HC जज...

नवंबर 2023 में जब राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी चरम पर थी, जब जस्टिस फरजंद अली ने कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मेवाराम जैन को ED से राहत दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -