Wednesday, May 25, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'भारत खुद्दार देश, उसे आदेश देने की हिम्मत किसी देश में नहीं': इमरान ने...

‘भारत खुद्दार देश, उसे आदेश देने की हिम्मत किसी देश में नहीं’: इमरान ने की तारीफ, मरियम ने कहा- पाकिस्तान छोड़ हिंदुस्तान जाओ

मरियम ने कहा कि भारत में विभिन्न प्रधानमंत्रियों के खिलाफ 27 अविश्वास प्रस्ताव पेश किए गए हैं, लेकिन किसी ने भी देश और संविधान को बंधक नहीं बनाया।

पाकिस्तान (Pakistan) में जारी राजनीतिक संकट के बीच वहाँ की सुप्रीम कोर्ट द्वारा संसद की बहाली और अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग के दिए गए निर्णय के बाद शुक्रवार (8 अप्रैल) को प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) ने देश को संबोधित किया। इसमें उन्होंने मुल्क के अवाम से सड़कों पर उतरने का आह्वान करते हुए भारत की खूब तारीफ की। उन्होंने कहा कि आज कोई भी सुपर पावर को आँख नहीं दिखा सकता। उनके इस बयान के बाद विपक्षी दलों ने कहा कि इमरान को भारत चले जाना चाहिए।

इमरान खान ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ और मान-सम्मान के लिए पाकिस्तान की जनता को सड़कों पर उतरने के लिए कहा। इस दौरान उन्होंने भारत का उदाहरण देते हुए कहा कि हिंदुस्तान खुद्दार देश है। उसके खिलाफ साजिश करने की किसी में जुर्रत नहीं है। हिंदुस्तान की विदेश नीति स्वतंत्र है और दुनिया की कोई भी ताकत हिंदुस्तान से नहीं कह सकती है कि उसकी विदेश नीति कैसी होनी चाहिए।

पाकिस्तान की विदेश नीति में दूसरे मुल्कों की दखल का इशारा करते हुए इमरान ने कहा कि रूस (Russia)के खिलाफ प्रतिबंध लगे, लेकिन हिंदुस्तान उससे तेल आयात कर रहा है। उन्होंने कहा, “यूरोपीय यूनियन के अंबेसडर ने प्रोटोकॉल के खिलाफ बयान दिया कि पाकिस्तान को रूस के खिलाफ बयान देना चाहिए। हिंदुस्तान से ऐसा कहने की उनमें हिम्मत है?”

कश्मीर का राग अलापते हुए इमरान ने कहा कि हिंदुस्तान समेत किसी भी देश से उनकी कोई दुश्मनी नहीं है, लेकिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के विचारधारा और कश्मीर के कारण भारत से पाकिस्तान के रिश्ते बिगड़े हुए हैं।

इमरान खान ने अपनी सरकार के खिलाफ साजिश रचने के लिए अमेरिका को दोषी ठहराया। उन्होंने कहा कि जब वे रूस गए थे तो उन्हें धमकी दी गई थी, लेकिन वह किसी के हाथों की कठपुतली नहीं बन सकते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि जब अमेरिका के एक प्रतिनिधि ने कहा था कि जब तक इमरान खान प्रधानमंत्री पद नहीं छोड़ते, तब तक पाकिस्तान को माफ नहीं किया जा सकता।

इमरान के बयान पर भड़का विपक्ष

देश के नाम संबोधन के बाद विपक्षी दल इमरान खान पर और भड़क गए हैं। पाकिस्तान मुस्लिम लीग- नवाज (PML-N) की उपाध्यक्ष मरियम नवाज ने कहा कि इमरान खान को भारत इतना ही पसंद है तो उन्हें पाकिस्तान छोड़ देना चाहिए और वहीं चले जाना चाहिए।

मरियम ने कहा कि भारत में विभिन्न प्रधानमंत्रियों के खिलाफ 27 अविश्वास प्रस्ताव पेश किए गए हैं, लेकिन किसी ने भी संविधान का हनन नहीं किया। अटल बिहारी वाजपेयी सरकार का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि उनकी सरकार केवल एक वोट से गिर गई, लेकिन उन्होंने देश और संविधान को बंधक नहीं बनाया।

वहीं, पार्टी के अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान सत्ता से चिपके रहने वाले व्यक्ति हैं और सत्ता से चिपके रहने वाला व्यक्ति स्वाभिमानी नहीं, स्वार्थी होता है। उन्होंने कहा कि इमरान खान पाकिस्तानियों को ‘मवेशी’ ना समझें।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिम छात्रों के झूठे आरोपों पर अजीम प्रेमजी यूनिवर्सिटी ने किया निलंबित’: हिन्दू छात्र का आरोप – मिली धर्म ने समझौता न करने की...

तिवारी और उनके दोस्तों को कॉलेज में सार्वजनिक रूप से संघी, भाजपा के प्रवक्ता और भाजपा आईटी सेल का सदस्य कहा जाता था।

आतंकी यासीन मलिक को उम्रकैद: टेरर फंडिग में सजा के बाद बजे ढोल, श्रीनगर में कट्टरपंथियों ने की पत्थरबाजी

कश्मीर में कश्मीरी हिंदुओं के नरसंहार के आरोपित यासीन मलिक को टेरर फंडिंग केस में 25 मई को सजा मुकर्रर हुई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,731FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe