Tuesday, January 31, 2023
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपीएम मोदी के बधाई संदेश का इमरान ने दिया जवाब, कहा- शांति और स्थिरता...

पीएम मोदी के बधाई संदेश का इमरान ने दिया जवाब, कहा- शांति और स्थिरता के लिए जम्मू-कश्मीर समेत सभी मुद्दों का हल जरूरी

"पाकिस्तान के लोग भारत समेत सभी पड़ोसियों के साथ शांतिपूर्ण रिश्ता चाहते हैं। रचनात्मक बातचीत के लिए सकारात्मक माहौल का निर्माण जरूरी है। भारत और पाकिस्तान के बीच के रिश्तों में सुधार के जो संकेत मिले थे वो और पुख्ता हो गए हैं।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों पाकिस्तान के नेशनल डे (23 मार्च) पर इमरान खान को बधाई देते हुए पत्र भेजा था। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने पीएम मोदी को बधाई संदेश का जवाब दिया है। उन्‍होंने लिखा है, ”दक्षिण एशिया में स्‍थायी शांति और स्थिरता के लिए भारत-पाकिस्‍तान के बीच जम्मू और कश्मीर विवाद समेत सभी बकाया मुद्दों को हल करना जरूरी है।”

उन्होंने आगे लिखा है कि पाकिस्तान के लोग भारत समेत सभी पड़ोसियों के साथ शांतिपूर्ण रिश्ता चाहते हैं। रचनात्मक बातचीत के लिए सकारात्मक माहौल का निर्माण जरूरी है। पाकिस्तानी मीडिया के हवाले से आई खबर के मुताबिक, भारत और पाकिस्तान के बीच के रिश्तों में सुधार के जो संकेत मिले थे वो और पुख्ता हो गए हैं।

इमरान खान ने पीएम मोदी को लिखा पत्र (आज तक )

बता दें कि पिछले दिनों पीएम मोदी ने इमरान खान को पत्र लिख कर दोनों देशों के अच्छे संबंधों की कामना भी की थी। मोदी ने इमरान खान को लिखा, ”पाकिस्तान के राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर मैं पाकिस्तान की अवाम को अपनी शुभकामनाएँ देता हूँ। एक पड़ोसी देश के तौर पर भारत पाकिस्तान के लोगों के साथ सौहार्दपूर्ण रिश्ते की इच्छा रखता है। इसके लिए भरोसा और आतंकवाद एवं आक्रमकता से मुक्त माहौल बेहद जरूरी है।”

पीएम मोदी ने लिखा कि मान्यवर, मानवता के इस बेहद कठिन काल में मैं आपको और पाकिस्तान की जनता को कोविड-19 महामारी से निपटने की शुभेच्छा देना चाहूँगा।

गौरतलब है कि हाल ही में इमरान खान ने कहा था कि अगर भारत और इस्लामाबाद के बीच शांति स्थापित होती है तो इससे नई दिल्ली को संसाधन संपन्न मध्य एशिया तक पहुँचने में मदद मिलेगी। पाकिस्तान के पीएम ने दावा किया कि वर्ष 2018 में सत्ता में आने के बाद उनकी सरकार ने भारत के साथ संबंधों को बेहतर करने के लिए काफी कदम उठाए, लेकिन दिल्ली से उन्हें कोई भी सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं मिली।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पंजाब में पादरियों के ठिकानों पर IT रेड, ‘मेरा येशु येशु’ वाला बजिंदर सिंह भी रडार पर: पैरामिलिट्री जवान तैनात

‘मेरा यशु यशु’ फेम पादरी बजिंदर सिंह के ठिकानों पर आयकर विभाग (IT) ने दबिश दी है। कपूरथला के पादरी हरप्रीत सिंह खोजेवाला के यहाँ भी छापेमारी हुई है।

9 महीने में GST से ₹13.40 लाख करोड़, 6.5% विकास दर का अनुमान: बजट से पहले मोदी सरकार ने पेश किया आर्थिक सर्वेक्षण

क्रय क्षमता के मामले में भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनकर उभरा है। विनिमय दर के मामले में 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
243,374FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe