Thursday, March 4, 2021
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय रूस के 1.4 लाख हिन्दुओं को प्रताड़ित कर रहा ईसाई एक्टिविस्ट, एक रूसी हिन्दू...

रूस के 1.4 लाख हिन्दुओं को प्रताड़ित कर रहा ईसाई एक्टिविस्ट, एक रूसी हिन्दू ने वीडियो बना माँगी मदद

"वो हिन्दू देवी-देवताओं को शैतान कहता है। हिन्दुओं को जंगली कहता है। हिन्दुओं को रूस छोड़ देने अथवा परिणाम भुगतने की धमकी देता है। मुझे उम्मीद है कि रूस के हिंदुओं को और मुझे न्याय मिलेगा।"

आप में से काफी लोगों को रूस में हिन्दू समुदाय द्वारा सामना की जा रही परेशानियों के बारे में पता होगा, क्योंकि ऑपइंडिया ने इस मामले को बार-बार उठाया है। हमने इसी सिलसिले में गुरु श्री प्रकाश जी के सुपुत्र प्रसून प्रकाश से बातचीत भी की थी, जिन्होंने अलेक्जेंडर दोर्किन द्वारा हिन्दुओं को प्रताड़ित किए जाने के बारे में बताया था। इस लेख में भी हम उस पर बार करेंगे, लेकिन उससे पहले चीजों को संक्षेप में समझते हैं। रूस 14.4 करोड़ की जनसंख्या वाला एक विशाल देश है।

रूस में 1.4 लाख हिंदू हैं। आश्चर्यजनक यह है कि वहाँ सिर्फ 10000 ही भारतीय मूल के नागरिक हैं। यानी कि लगभग 1 लाख 30 हजार हिंदू वहाँ के यानी रूसी मूल के हैं। ये हमारे लिए काफी गर्व की बात है। आखिर वहाँ रह रहे हिन्दुओं में 92% रूसी ही जो हैं। ये हिन्दू धर्म के प्रति दुनिया की समझ को दर्शाता है। रूस का एक कट्टर और कुख्यात ईसाई अलेक्जेंडर दोर्किन लगातार हिन्दुओं एवं गुरु प्रकाश को निशाना बना रहा है।

वो पिछले 20 वर्षों से रूस के हिन्दुओं को परेशान करने में लगा हुआ है। उसने ही 2011 में पवित्र पुस्तक भगवद्गीता पर प्रतिबंध लगा दिया था। श्री प्रकाश जी रूस में क्लासिकल हिंदुत्व को आगे बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं। उनके समर्थन में 2017 में दिल्ली स्थित रूसी दूतावास के सामने कई लोगों ने प्रदर्शन भी किया था। उनके और उनके परिवार को पिछले 6 वर्षों से परेशान किया जा रहा है। 2015 में इस तरह का पहला हमला हुआ था।

अलेक्जेंडर दोर्किन ने अफवाहों और झूठी खबरों के सहारे रूस के हिन्दुओं को परेशान करना शुरू किया है। वो उनके खिलाफ शिकायतें दर्ज करवाता है और झूठे आरोप लगाता है, जिससे वो हिन्दू धर्म को छोड़ने के लिए विवश हो जाएँ। इसी तरह के एक पीड़ित रूसी नागरिक हैं सर्गेई केवशिन, जो 2006 से ही एक हिन्दू श्रद्धालु हैं। उन्होंने हाल ही में दोर्किन द्वारा एक फोरम पर हिंदुत्व को लेकर लिखे गए आपत्तिजनक बयानों का खुलासा किया, जैसे –

  • सारे हिन्दू देवी-देवता शैतान हैं।
  • हिन्दुओं की ध्यान-कला सिर्फ एक सम्मोहन है।
  • शैतान के कानून को ‘कर्मा’ कहते हैं।
  • मीराबाई एक सांप्रदायिक महिला थीं।
  • भगवान को हिन्दू जिस रूप में देखते हैं, ये अशुभ है।
  • श्रीमद्भगवद्गीता किसी भी मामले में पवित्र नहीं है।

इसी तरह के और कई बयान भी उसने दिए हैं। इसके बाद सर्गेई ने अलेक्जेंडर दोर्किन के खिलाफ कई शिकायतें दर्ज कराई हैं, जिनके आधार पर रूस के प्रशासन ने उसके खिलाफ जाँच भी बिठाई थी। 2020 में उसके खिलाफ जाँच हुई थी। अब भी कई मामलों में तहकीकात जारी है। दोर्किन जाँच व पूछताछ से न सिर्फ भाग रहा है, बल्कि सर्गेई के खिलाफ उसने एक झूठी शिकायत भी दर्ज करा दी है।

सर्गेई ने ऑपइंडिया को बताया कि ऐसा हिन्दू धर्म को बदनाम करने के लिए और रूसी प्रशासन को भटकाने के लिए किया जा रहा है, ताकि वो कार्रवाई से बच निकले। सर्गेई ने हाल ही में यूट्यूब पर एक वीडियो अपलोड कर के अंतरराष्ट्रीय हिन्दू समुदाय को इस अन्याय के खिलाफ उनका साथ देने की अपील की थी, खासकर भारत के नागरिकों को। अगर किसी भारतीय नागरिक के पास इससे जुड़े कोई सबूत या दस्तावेज हैं तो वो सीधे उन्हें भेज सकता है। उन्होंने वीडियो में कहा:

“मेरा जन्म मॉस्को में हुआ था और मैं रूस के 1.4 लाख हिन्दुओं में से एक हूँ। हिन्दू देवी-देवताओं को शैतान कहने वाले और हिन्दुओं को जंगली कहने वाले को आप क्या प्रतिक्रिया देंगे? अलेक्जेंडर दोर्किन हिन्दुओं को रूस छोड़ देने अथवा परिणाम भुगतने की धमकी दे रहा है। वो अपने लेक्चरों, इंटरव्यूज और लेखों के माध्यम से दो दशक से हिन्दू धर्म को बदनाम करने में लगा हुआ है। मुझे उम्मीद है कि रूस के हिंदुओं को और मुझे न्याय मिलेगा।”

रूस के प्रशासन ने सर्गेई को कहा है कि उन्हें अलेक्जेंडर दोर्किन के खिलाफ कार्रवाई के लिए कुछ और सबूत या दस्तावेज मुहैया कराने होंगे, जो उसके खिलाफ जाते हों। उन्होंने अपना ईमेल अड्रेस ‘kevshin.sergei@gmail.com‘ बताते हुए हिंदुओं से कहा है कि अगर उनके पास कोई भी जानकारी है तो उन्हें प्रेषित करें। उन्होंने ‘नमस्ते’ और ‘जय श्री राम’ के साथ वीडियो का अंत करते हुए इस मामले में न्याय के लिए हिन्दू एकता की वकालत की।

इससे पहले प्रसून प्रकाश ने बताया था“लगभग चार साल पहले मेरा परिवार और हमारा आश्रम (श्री प्रकाश धाम) राष्ट्रवादी रूढ़िवादी ईसाई गुंडों (कुछ हद तक ईसाई भारतीय हिन्दू समूहों के ईसाई के समान, अगर ऐसा कहना सही है) का शिकार हो गया।” इस बात की पुष्टि के लिए उन्होंने उन लेखों का ज़िक्र किया, जिसमें इस घटना का उल्लेख किया गया था। यह लेख ‘न्यूज़वीक’ और ‘डेली कॉलर’ में छपे थे।

आध्यात्मिक गुरू श्री प्रकाश ने हिंदू धर्म की इस अवहेलना को जब चुनौती दी, तो अलेक्जेंडर दोर्किन ने उन्हें और उनके परिवार को ‘विदेशी मैल’ तक कहा। 1 नवंबर 2018 को कुछ रूसी असामाजिक तत्वों ने पुलिस के कपड़े पहन कर उनके आश्रम में अनाधिकृत छापेमारी भी की थी। उन लोगों के साथ वहाँ की पुलिस ने श्री प्रकाश को रूस छोड़ने का दबाव बनाया और कभी वापस न लौटने को कहा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसान आंदोलन राजनीतिक, PM मोदी को हराना मकसद: ‘आन्दोलनजीवी’ योगेंद्र यादव ने कबूली सच्चाई

वे केवल बीजेपी को हराना चाहते हैं और उनकी कोई जिम्मेदारी नहीं है कि कौन जीतता है। यहाँ तक कि अब्बास सिद्दीकी के बंगाल जीतने पर भी वे खुश हैं। उनका दावा है कि जब तक मोदी और भाजपा को अनिवार्य रूप से सत्ता से बाहर रखा जाता है। तब तक ही सही मायने में लोकतंत्र है।

70 नहीं, अब 107 एकड़ में होंगे रामलला विराजमान: 7285 वर्ग फुट जमीन और खरीदी गई

अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण अब 70 एकड़ की जगह 107 में एकड़ में किया जाएगा। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने परिसर के आसपास की 7,285 वर्ग फुट ज़मीन खरीदी है।

तिरंगे पर थूका, कहा- पेशाब पीओ; PM मोदी के लिए भी आपत्तिजनक बात: भारतीयों पर हमले के Video आए सामने

तिरंगे के अपमान और भारतीयों को प्रताड़ित करने की इस घटना का मास्टरमाइंड खालिस्तानी MP जगमीत सिंह का साढू जोधवीर धालीवाल है।

अंदर शाहिद-बाहर असलम, दिल्ली दंगों के आरोपित हिंदुओं को तिहाड़ में ही मारने की थी साजिश

हिंदू आरोपितों को मर्करी (पारा) देकर मारने की साजिश रची गई थी। दिल्ली पुलिस ने साजिश का पर्दाफाश करते हुए दो को गिरफ्तार किया है।

100 मदरसे-50 हजार छात्र, गीता-रामायण की करनी ही होगी पढ़ाई: मीडिया के दावों की हकीकत

मीडिया रिपोर्टों में दावा किया जा रहा है कि मदरसों में गीता और रामायण की पढ़ाई को लेकर सरकार दबाव बना रही है।

अनुराग कश्यप, तापसी पन्नू और अन्य के ठिकानों पर लगातार दूसरे दिन रेड, ED का भी कस सकता है शिकंजा

फिल्म निर्माता अनुराग कश्यप, अभिनेत्री तापसी पन्नु और अन्य के यहाँ लगातार दूसरे दिन 4 मार्च को भी आयकर विभाग की छापेमारी जारी है।

प्रचलित ख़बरें

BBC के शो में PM नरेंद्र मोदी को माँ की गंदी गाली, अश्लील भाषा का प्रयोग: किसान आंदोलन पर हो रहा था ‘Big Debate’

दिल्ली में चल रहे 'किसान आंदोलन' को लेकर 'BBC एशियन नेटवर्क' के शो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी (माँ की गाली) की गई।

पुलिसकर्मियों ने गर्ल्स हॉस्टल की महिलाओं को नंगा कर नचवाया, वीडियो सामने आने पर जाँच शुरू: महाराष्ट्र विधानसभा में गूँजा मामला

लड़कियों ने बताया कि हॉस्टल कर्मचारियों की मदद से पूछताछ के बहाने कुछ पुलिसकर्मियों और बाहरी लोगों को हॉस्टल में एंट्री दे दी जाती थी।

‘प्राइवेट पार्ट में हाथ घुसाया, कहा पेड़ रोप रही हूँ… 6 घंटे तक बंधक बना कर रेप’: LGBTQ एक्टिविस्ट महिला पर आरोप

LGBTQ+ एक्टिविस्ट और TEDx स्पीकर दिव्या दुरेजा पर पर होटल में यौन शोषण के आरोप लगे हैं। एक योग शिक्षिका Elodie ने उनके ऊपर ये आरोप लगाए।

‘हाथ पकड़ 20 मिनट तक आँखें बंद किए बैठे रहे, किस भी किया’: पूर्व DGP के खिलाफ महिला IPS अधिकारी ने दर्ज कराई FIR

कुछ दिनों बाद उनके ससुर के पास फोन कॉल कर दास ने कॉम्प्रोमाइज करने को कहा और दावा किया कि वो पीड़िता के पाँव पर गिरने को भी तैयार हैं।

‘बिके हुए आदमी हो तुम’ – हाथरस मामले में पत्रकार ने पूछे सवाल तो भड़के अखिलेश यादव

हाथरस मामले में सवाल पूछने पर पत्रकार पर अखिलेश यादव ने आपत्तिजनक टिप्पणी की। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद उनकी किरकिरी हुई।

आगरा से बुर्के में अगवा हुई लड़की दिल्ली के पीजी में मिली: खुद ही रचा ड्रामा, जानिए कौन थे साझेदार

आगरा के एक अस्पताल से हुई अपहरण की यह घटना सीसीटीवी फुटेज वायरल होने के बाद सामने आई थी।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,284FansLike
81,900FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe