Monday, May 16, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तानी PM शरीफ के प्रतिनिधिमंडल को देख मदीना की मस्जिद में लगे 'चोर-चोर, भिखारी-भिखारी'...

पाकिस्तानी PM शरीफ के प्रतिनिधिमंडल को देख मदीना की मस्जिद में लगे ‘चोर-चोर, भिखारी-भिखारी’ के नारे: इस्लामाबाद में पूर्व डिप्टी स्पीकर की धुनाई

शरीफ सऊदी अरब से 320 करोड़ डॉलर के अतिरिक्त पैकेज की माँग करेंगे। सऊदी अरब ने इमरान खान के कार्यकाल में पाकिस्तान को 300 करोड़ अमरीकी डॉलर की जमा राशि और 120 करोड़ अमरीकी डॉलर के स्थगित भुगतान पर तेल दी थी।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ (Pakistan PM Shahbaz Sharif) के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल को अपनी तीन दिवसीय सऊदी अरब (Saudi Arabia) की यात्रा के दौरान भारी शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा। प्रतिनिधिमंडल को देखते ही सैकड़ों तीर्थयात्रियों ने मदीना में उनके खिलाफ ‘चोर-चोर, भिखारी-भिखारी’ के नारे लगाए। बताया जा रहा है कि प्रतिनिधिमंडल मस्जिद-ए-नबावी से गुजर रहा था, उसी यह घटना हुई। पुलिस ने सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

सऊदी में ‘चोर-चोर’ के नारे का असर इस्लामाबाद में दिखा। इस्लामाबाद में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान (Ex-PM Imran Khan) के समर्थक और पूर्व डिप्टी स्पीकर कासिम सूरी को पीट दिया गया। इसके साथ ही शाहबाज शरीफ का विरोध कर रहे करीब 150 लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। पीएमएल-एन के समर्थकों का कहना है कि मदीना में जो कुछ हुआ, वो इमरान खान की पार्टी के इशारे पर किया गया।

इस घटना का एक वीडियो पाकिस्‍तान के पत्रकार मुर्तजा अली शाह ने ट्विटर पर पोस्‍ट किया है। साथ ही शाह ने लिखा, “सऊदी में शाहजैन बुगती के साथ जो हुआ, उसके बदले में इस्लामाबाद में उनके समर्थकों ने पूर्व डिप्टी स्पीकर कासिम सूरी पर हमला किया। बेहद दुर्भाग्यपूर्ण।” पाकिस्तानी पत्रकार शाह के मुताबिक, कासिम सूरी पर शाहजैन बुगती समर्थकों ने जब हमला किया, उस समय वह अपने दोस्तों के साथ बैठे थे।

इसके अलावा, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल का एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है, जिसमें सैकड़ों की संख्‍या में लोग ‘चोर-चोर, भिखारी-भिखारी’ के नारे लगाते हुए दिख रहे हैं। इस दौरान प्रतिनिधिमंडल मस्जिद-ए-नबावी में अपना रास्ता बनाता नजर आया। साथ ही एक वीडियो में सूचना मंत्री मरियम औरंगजेब और नेशनल असेंबली के सदस्य शाहजैन बुगती को अन्य लोगों के साथ देखा गया। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के साथ दर्जनों अधिकारी और नेता पहुँचे हैं।

पाकिस्तानी अखबार द एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक, औरंगजेब ने इस विरोध के लिए परोक्ष रूप से इमरान खान को जिम्मेदार ठहराया है। अखबार ने औरंगजेब के हवाले लिखा, “मैं इस पवित्र भूमि पर इस व्यक्ति (इमरान खान) का नाम नहीं लूँगा, क्योंकि मैं इस भूमि का इस्तेमाल राजनीति के लिए नहीं करना चाहता। लेकिन, उन्होंने (पाकिस्तानी) समाज को नष्ट कर दिया है।”

गौरतलब है कि शहबाज शरीफ ने 11 अप्रैल को पाकिस्तान के 23वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी, जब उनके पूर्ववर्ती इमरान खान को अविश्वास प्रस्ताव के जरिए सत्ता से बाहर कर दिया गया था। यात्रा के दौरान शरीफ सऊदी अरब से 320 करोड़ डॉलर के अतिरिक्त पैकेज की माँग करेंगे। वह पाकिस्तान के विदेशी मुद्रा भंडार में और कमी को रोकने के लिए यह अनुरोध करेंगे। सऊदी अरब ने इमरान खान के कार्यकाल के दौरान पहले ही कर्ज में डूबे देश को 300 करोड़ अमरीकी डॉलर की जमा राशि और 120 करोड़ अमरीकी डॉलर के स्थगित भुगतान पर तेल की सुविधा दी थी। विशेषज्ञों का कहना है कि पाकिस्तान को शेष राशि देने के लिए 1200 करोड़ अमरीकी डॉलर की आवश्यकता है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

CRPF करेगी ज्ञानवापी में मिले शिवलिंग की सुरक्षा, अदालत ने सील की जगह, वजू पर मनाही: जैसे ही दिखे बाबा, ‘हर-हर महादेव’ से गूँजा...

सर्वे के तीसरे दिन हिन्दू पक्ष की तरफ से सोमवार को करीब 12 फीट 8 इंच लंबा शिवलिंग नंदी के सामने विवादित ढाँचे के वजूखाने में मिलने का दावा किया गया है।

राहुल भट की 5 साल पहले की फेसबुक पोस्ट – ‘हम मुस्लिम हैं, रोहिंग्या मुस्लिमों की हत्या बंद करो’, ‘संघी’ और ‘भारतीय एजेंट’ बता...

तस्वीर के वायरल होने के बाद कहा जा रहा है कि राहुल भट रोहिंग्या मुस्लिम को बचाना चाहते थे, मगर वह खुद इस्लामी आतंकियों के शिकार हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,091FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe