Wednesday, September 22, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअब इंग्लैंड में हिंदू मंदिर में घुस कर हजारों पाउंड्स की चोरी, तोड़ी गई...

अब इंग्लैंड में हिंदू मंदिर में घुस कर हजारों पाउंड्स की चोरी, तोड़ी गई देवी-देवताओं की मूर्तियाँ

हिंदू मंदिर पर मई के बाद पाँचवी बार हमला हुआ है। मंदिर के पीछे के गोदाम में पहले तीन बार तोड़-फोड़ हो चुकी है। एक बार वहाँ से बिजली के तार ले लिए गए थे, जिससे मंदिर की बिजली आपूर्ति बंद हो गई थी।

इंगलैंड के स्विंडन में एक हिंदू मंदिर पर मई के बाद पाँचवी बार हमला हुआ है। इस बार हमलावरों ने न केवल पूरे मंदिर को तितर-बितर किया, चीजें उलझीं, समान पटका बल्कि दान पेटी से हजारों पाउंड कैश भी चुरा कर ले गए। इसके अलावा मुख्य मंदिर में भी तोड़-फोड़ हुई है। अब पुलिस इस मामले की जाँच में जुटी है।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, घटना की जानकारी शनिवार (4 सितंबर) को हुई है जबकि तोड़फोड़ मंगलवार से शनिवार के बीच की बताई जा रही है। अब विल्टशायर पुलिस इस मामले में जानकारी जुटाने के लिए लोगों से सामने आने की अपील कर रही है। मंदिर के अध्यक्ष प्रदीप भारद्वाज का कहना है, “ये मामला सभी हिंदुओं के लिए बड़ी चिंता और अत्यंत संवेदनशीलता का विषय है। “

वह कहते हैं, “हर कोई इस घटना से दुखी है। सबकी नाराजगी चरम पर है। अब लोग पूरी रात मंदिर में ही सो रहे हैं ताकि अपने भगवान की मूर्तियों की रक्षा कर सकें।”

उन्होंने बताया कि मंदिर के पीछे के गोदाम में पहले तीन बार तोड़-फोड़ हो चुकी है। एक बार वहाँ से बिजली के तार ले लिए गए थे, जिससे मंदिर की बिजली आपूर्ति बंद हो गई थी– और मुख्य मंदिर में भी हाल में दो बार ऐसी घुसपैठ हुई थी।

उन्होंने बताया कि उन्होंने अब ऐसी स्थिति पर चर्चा करने के लिए पुलिस आयुक्त और मुख्य कांस्टेबल के साथ एक तत्काल बैठक का अनुरोध किया है। इसकी सूचना स्विंडन बोरो काउंसिल (Swindon Borough Council) को भी दी गई है।

भारद्वाज बताते हैं कि मंदिर से भारी मात्रा में नकदी ली गई है। उसमें हजारों पाउंड्स थे। इसके अलावा हमलावर कुछ कलाकृतियाँ भी ले गए हैं। उनके मुताबिक, ये मुद्दा नकदी ले जाने का नहीं हैं। देवताओं की मूर्तियाँ और चित्र तोड़े जाने से लोग बहुत गुस्से में है।

वह जानकारी देते हैं कि पूरे इलाके में यही एक हिंदू मंदिर है और चूँकि यह पिछले 18 महीनों में ज्यादातर समय के लिए बंद कर दिया गया था, समुदाय बहुत उत्सुकता से अपनी सामान्य गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए उत्साहित था, खासकर जब से मुख्य हिंदू त्योहार का समय शुरू हुआ है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,766FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe