Wednesday, May 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयतालिबानी आतंकियों के कब्जे में कुंदुज एयरपोर्ट: भारत द्वारा अफगान सेना को दिए MI-35...

तालिबानी आतंकियों के कब्जे में कुंदुज एयरपोर्ट: भारत द्वारा अफगान सेना को दिए MI-35 अटैक हेलीकॉप्टर किया सीज, इंजन गायब

कब्जे वाले एयरपोर्ट से इसकी वीडियो और तस्वीरें सामने आई हैं, जिसमें तालिबानी आतंकी गनशिप की रखवाली कर रहे हैं। हालाँकि, हेलीकॉप्टर के इंजन के रोटर ब्लेड और महत्वपूर्ण पार्ट्स गायब दिख रहे हैं। वीडियो और फोटो को बारीकी से देखने पर पता चलता है कि रोटर ब्लेड जमीन पर, हेलीकॉप्टर के नीचे रखे गए थे।

अफगानिस्तान में तालिबानी आतंकी एक के बाद एक शहर पर कब्जा करते जा रहे हैं। बुधवार (11 अगस्त) को तालिबानी आतंकियों ने अफगान के कुंदुज प्रांत के भी अधिकतर हिस्से पर कब्जा जमा लिया है। यानी अब कुंदुज एयरपोर्ट भी अफगानिस्तान के हाथ से निकल गया है। यही नहीं भारतीय वायु सेना द्वारा अफगान सेना को गिफ्ट किया गया Mi-35 हिंद अटैक हेलिकॉप्टर को भी तालिबानी आतंकियों ने अपने कब्जे में ले लिया है। एमआई-35 को रूस द्वारा डिजाइन किया गया था।

कब्जे वाले एयरपोर्ट से इसकी वीडियो और तस्वीरें सामने आई हैं, जिसमें तालिबानी आतंकी गनशिप की रखवाली कर रहे हैं। हालाँकि, हेलीकॉप्टर के इंजन के रोटर ब्लेड और महत्वपूर्ण पार्ट्स गायब दिख रहे हैं। वीडियो और फोटो को बारीकी से देखने पर पता चलता है कि रोटर ब्लेड जमीन पर, हेलीकॉप्टर के नीचे रखे गए थे।

रक्षा विश्लेषक जोसेफ डेम्पसी (Joseph Dempsey) के अनुसार, 14 जुलाई को सेटेलाइट फोटो में कुंदुज के हैंगर में अपने रोटर ब्लेड के साथ एक एमआई-35 अटैक हेलीकाप्टर खड़ा दिखाई दिया था, लेकिन कल यानी 10 अगस्त को क्लिक की गई फोटो में बिना रोटर ब्लेड के हेलीकॉप्टर दिखाई दिया। इसलिए, यह अनुमान लगाया जा रहा है कि अफगान सेना ने तालिबान आतंकियों से हारने का अनुमान लगा लिया था, जिसके चलते उन्होंने हेलीकॉप्टर के पुर्जे हटा दिए।

साथ ही यह भी अनुमान लगाया जा रहा है कि इसके रोटर ब्लेड को हटाने के अलावा ये भी हो सकता है कि अफगान वायु सेना ने ही हेलीकॉप्टर से उसके इंजन को अलग कर दिया होगा। ताकि उसका प्रयोग ना किया जा सके। हालाँकि, इसकी पुष्टि नहीं की जा सकती है। हेलीकॉप्टर के पास खड़े तालिबानी आतंकवादियों की तस्वीर में इसके आसपास रखे रोटर ब्लेड्स भी दिख रहे हैं। भारतीय रक्षा विशेषज्ञ मनु पब्बी के अनुसार, यह संभव है कि अफगान वायु सेना अन्य हेलीकॉप्टरों की मरम्मत के लिए इनके पार्ट्स का इस्तेमाल कर रही हो।

तालिबान ने कथित तौर पर इस हफ्ते कुंदुज एयरपोर्ट, अफगान सेना के ठिकानों के साथ-साथ उत्तरपूर्वी शहर कुंदुज पर भी पूरी तरह से कब्जा कर लिया। कुंदुज राजनीतिक दृष्टिकोण से काफी महत्वपूर्ण प्रांत माना जाता है। यह शहर उत्तरी प्रांतों और मध्य एशिया के प्रवेश द्वार पर स्थित है। तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने कहा कि उसके लोग एयरपोर्ट के करीब हैं। आज, तालिबानी आतंकवादियों ने एयरपोर्ट पर कब्जा कर लिया और कुंदुज एयरपोर्ट पर अफगान सेना के मुख्यालय सहित अफगानिस्तानी सेना से उसका नियंत्रण भी छीन लिया है।

सोशल मीडिया यूजर्स के मुताबिक एयरपोर्ट पर एक सिविलियन प्लेन भी मौजूद था। अफगान नेशनल आर्मी की 217वीं कोर का मुख्यालय हवाई अड्डे पर स्थित है, जो अब तालिबान के नियंत्रण में है। रिपोर्ट्स के अनुसार, सैकड़ों अफगान सैनिकों और पुलिस अधिकारियों ने तालिबान के सामने आत्मसमर्पण कर दिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जम्मू-कश्मीर में फिर से 370 बहाल करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार, कहा- फैसला सही था: CJI की बेंच ने पुनर्विचार याचिकाओं को किया...

सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर दिए गए निर्णय को लेकर दाखिल पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया।

‘दिखाता खुद को सेकुलर है, पर है कट्टर इस्लामी’ : हिंदू पीड़िता ने बताया आकिब मीर ने कैसे फँसाया निकाह के जाल में, ठगे...

पीड़िता ने ऑपइंडिया को बताया कि आकिब खुद को सेकुलर दिखाता है, लेकिन असल में वो है इस्लामवादी। उसने महिला से कहा हुआ था वह हिंदू देवताओं को न पूजे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -