Tuesday, October 19, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपैगंबर मोहम्मद को कुछ बोल दिया... भीड़ ने 'अल्लाहु अकबर' चिल्लाते हुए बूढ़ी माँ...

पैगंबर मोहम्मद को कुछ बोल दिया… भीड़ ने ‘अल्लाहु अकबर’ चिल्लाते हुए बूढ़ी माँ के सामने पत्थर से मारते-मारते जला कर मार डाला

पुलिस थाने से निकाल कर पुलिस वालों और बूढ़ी माँ के सामने भीड़ ‘अल्लाहु अकबर’ के नारे लगाते हुए पत्थर मार रही थी। गुस्सा शांत नहीं हुआ तो आग भी लगा दी। यह सिर्फ इसलिए क्योंकि मार डाले गए व्यक्ति ने पैगंबर मोहम्मद को कुछ बोल दिया था!

नाइजीरिया में कथित तौर पर पैगंबर मोहम्मद की निंदा करने पर भीड़ द्वारा आरोपित को आग के हवाले कर देने की घटना सामने आई है। घटना बौची राज्य के दराज़ो स्थानीय सरकार क्षेत्र के साडे गाँव की है। यहाँ पर एक मध्यम आयु वर्ग के पानी के विक्रेता तलले माई रुवा को कथित रूप से ईशनिंदा के आरोप में भीड़ ने आग लगा दी।

जानकारी के मुताबिक आरोपित के खिलाफ ईशनिंदा का आरोप लगाए जाने के बाद उसे पुलिस थाने ले जाया गया था, लेकिन आक्रोशित भीड़ उसे जबरन वहाँ से खींच कर ले आई और उसकी लिंचिंग की। बताया जाता है कि माई रुवा मानसिक रूप से विक्षिप्त था। पिछले दिनों जब एक लड़की उसकी मर्जी के बिना बोरहोल से पानी लेने आई थी, तभी उसने कथित तौर पर पैगंबर मोहम्मद की निंदा की थी।

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि एक मुस्लिम लड़की ने बिना उसकी जानकारी के पानी निकाल लिया था, जिसके बाद उसने गुस्से में बाल्टी पर लात मारी, जिससे सारा पानी जमीन पर गिर गया। इसके बाद लड़की ने पैगंबर के नाम पर पानी देने की भीख माँगी, लेकिन पानी विक्रेता ने गुस्से में कथित तौर पर उसके माता-पिता और पैगंबर मोहम्मद का अपमान किया। इस कथित ईशनिंदा ने ग्रामीणों के बीच गुस्सा पैदा कर दिया, जिससे गाँव में तनाव पैदा हो गया।

इसके बाद आरोपित को गाँव के पुलिस स्टेशन पर ले जाया गया। यहीं पर उसने रात बिताई। मगर सुबह तक यह खबर हर जगह फैल गई और गाँव में सभी लोग आक्रोशित हो गए। इसके बाद गुस्साए युवाओं के एक समूह ने पुलिस चौकी पर हमला किया, पुलिस अधिकारियों को घेर लिया और तलले को पकड़ लिया।

इसके बाद उसे बाहर निकाल कर भीड़ ने ‘अल्लाहु अकबर’ के नारे लगाते हुए पत्थरबाजी करनी शुरू कर दी। भीड़ ने तब तक उस पर पत्थरबाजी करनी बंद नहीं की, जब तक कि उसकी मौत नहीं हो गई। तलले की मौत के बाद भीड़ ने पुलिस स्टेशन और उसकी बुजुर्ग माँ के सामने ही उसके शव को जला कर राख कर दिया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe