Tuesday, July 27, 2021
Homeरिपोर्टमीडियादैनिक भास्कर समूह कर रहा था टैक्स की चोरी? जाँच के लिए आयकर विभाग...

दैनिक भास्कर समूह कर रहा था टैक्स की चोरी? जाँच के लिए आयकर विभाग का छापा… ‘आपातकाल’ गिरोह का रोना शुरू

टैक्स संबंधित अनियमितता के मामले में छापामारी होने पर एक बार फिर से 'प्रेस की आजादी पर कायरतापूर्ण हमला' और 'आपातकाल' का रोना शुरू हो चुका है। कॉन्ग्रेस नेता रणदीप सिंह सूरजेवाला और मीडियाकर्मी रोहिणी सिंह ने लगभग 'रोते' हुए...

देश के एक मीडिया समूह दैनिक भास्कर पर आयकर विभाग का छापा पड़ा है। दिल्ली और मुंबई की आयकर विभाग की विभिन्न टीमों द्वारा गुरुवार (22 जुलाई 2021) को तड़के 4:30 बजे दैनिक भास्कर के भोपाल, इंदौर, जयपुर, अहमदाबाद और महाराष्ट्र में स्थित 40 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी की कार्रवाई की गई है। मीडिया समूह द्वारा टैक्स चोरी की सूचना मिलने पर आयकर विभाग ने यह कार्रवाई की है।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक मीडिया समूह द्वारा बड़ी टैक्स चोरी की सूचना के बाद न केवल दैनिक भास्कर के व्यवसायिक ठिकानों बल्कि उसके प्रमोटर्स के घरों और दफ्तरों पर भी आयकर विभाग की टीम पहुँची है। कार्रवाई के दौरान टैक्स से जुड़े दस्तावेजों को जब्त कर जाँच की जा रही है।

हालाँकि टैक्स से संबंधित अनियमितता के मामले में छापामारी होने पर एक बार फिर से वही ‘प्रेस की आजादी पर कायरतापूर्ण हमला’ और ‘आपातकाल’ का रोना शुरू हो चुका है। कॉन्ग्रेस नेता रणदीप सिंह सूरजेवाला और लिबरल मीडियाकर्मी रोहिणी सिंह ने आयकर विभाग की कार्रवाई को सरकार की कायरतापूर्ण कार्रवाई बताया।

ज्ञात हो कि मध्य प्रदेश में दैनिक भास्कर का मुख्यालय स्थित है। इसके अलावा कई अन्य राज्यों में विभिन्न भाषाओं में दैनिक भास्कर अपने संस्करण प्रकाशित करता है। दैनिक भास्कर देश का सबसे बड़ा मीडिया समूह माना जाता है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe