Wednesday, August 4, 2021
Homeरिपोर्टमीडियानसीब बदलने का दावा करने वाले काले खान, हारून ने जलाया युवक का हाथ:...

नसीब बदलने का दावा करने वाले काले खान, हारून ने जलाया युवक का हाथ: मीडिया ने बताया ‘तांत्रिक’

पुलिस ने काले खान और हारून खान नामक दो ठग फकीरों को गिरफ्तार किया है। ये दोनों अपनी 'शक्ति' के बल पर भाग्य उदय का दावा किया करते थे। उनके पास से पुलिस ने दो तमंचे भी बरामद किए हैं।

उत्तर प्रदेश के फतेहगंज में पुलिस ने काले खान और हारून खान नामक दो ठग फकीरों को गिरफ्तार किया है। ये दोनों अपनी ‘शक्ति’ के बल पर भाग्य उदय का दावा किया करते थे। उनके पास से पुलिस ने दो तमंचे भी बरामद किए हैं। सोमवार (अक्टूबर 26, 2020) को उन्हें कोर्ट में पेश किया गया, जहाँ से उन्हें जेल भेज दिया जाएगा। ये दोनों भोजीपुरा थाना क्षेत्र स्थित घघोरा गाँव के निवासी हैं, लेकिन वो टिटौली गाँव के मजार पर रहा करते थे।

वो खुद को तांत्रिक बताते हुए लोगों के भाग्य बदलने का दावा किया करते थे। वो कई सालों से ठगी के इस कारोबार में लगे हुए थे। दरअसल, हुआ यूँ कि करीब एक महीने पहले गाँव का ही एक युवक काम करते समय छत से गिर गया था, जिसके बाद उसकी मृत्यु हो गई। इस खबर की सूचना मिलते ही काले खान और हारून नामक इन फकीरों ने अपने एक चेले को मृतक के परिजनों के घर भेजा। उसने घर में भूत-प्रेत का साया होने की बात कही, जिससे वो लोग घबरा गए।

हाल ही में घर के मुखिया की मौत होने के कारण परिजनों को ये आशंका सही लगी और वो इन फकीरों के झाँसे में आ गए। फकीरों के चेले ने उस घर के लोगों को लेकर मजार पर लाकर इन दोनों ठगों से मिलवाया। इन दोनों ने 15 हजार रुपए लेकर घर में सब ठीक करने और नया भाग्य जगाने का दावा किया। इसमें से पाँच हजार रुपए उन्होंने बतौर एडवांस ऐंठ भी लिए। शनिवार (अक्टूबर 24, 2020) को ये दोनों परिजनों के घर में पहुँच गए।

यहाँ इन दोनों ने चमत्कार दिखाने के नाम पर घर के एक युवक के हाथ पर एक तरल पदार्थ डाल दिया। इससे उसके हाथ में आग लग गई। काफी देर तक आग लगे रहने के कारण उसका हाथ जल गया। चीख-चिल्लाहट सुन कर गाँव के कई लोग जमा हो गए, जिन्होंने तत्काल इस धोखाधड़ी की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने काले खान और हारून को गिरफ्तार कर लिया। थाना प्रभारी चंद्रकिरण ने कहा कि ये दोनों काफी समय से इस जालसाजी में लगे हुए थे।

इनके पास से दो-दो जिन्दा कारतूस भी बरामद हुए हैं। वहीं मीडिया के एक धड़े ने फिर से काले खान और हारून का नाम छिपाते हुए ‘तांत्रिक’ शब्द को हैडिंग में डाल कर चलाया, जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि गिरफ्तार होने वाले हिन्दू तांत्रिक हैं, जबकि सच्चाई कुछ और है। साथ ही हैडिंग में ‘तंत्र विद्या’ की इस तरह से चर्चा की गई, जिसे ये दोनों हिन्दू हों। मीडिया लम्बे समय से आरोपितों की पहचान छिपाने के लिए ऐसा करता आ रहा है।

कुछ ही दिनों पहले खबर आई थी कि लखनऊ स्थित हुसैनाबाद, जामा मज़ार में एक मौलाना कथित तौर पर ऐसे दंपति का उपचार कर रहा था, जिनकी संतान नहीं थी। उपचार की आड़ लेकर वह महिला का यौन शोषण करवा रहा था। इसके अलावा आरोप यह भी है कि वह मज़ार के भीतर ही देह व्यापार का धंधा भी करता था। टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने मौलाना को ‘तांत्रिक’ बता कर खबर चलाई, जिससे लगे कि वो हिन्दू है।  

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राहुल गाँधी ने POCSO एक्ट का किया उल्लंघन, NCPCR ने ट्वीट हटाने के दिए निर्देश: दिल्ली की पीड़िता के माता-पिता की फोटो शेयर की...

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने राहुल गाँधी के ट्वीट पर संज्ञान लिया है और ट्विटर से इसके खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है।

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,975FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe