Thursday, April 18, 2024
Homeरिपोर्टमीडियासमीना शेख सँभालती है TOI का ट्विटर, गौमूत्र-गोबर-भक्त पर उगलती है जहर... लेकिन इफ्तारी...

समीना शेख सँभालती है TOI का ट्विटर, गौमूत्र-गोबर-भक्त पर उगलती है जहर… लेकिन इफ्तारी पर लेती है मजे

समीना शेख वैसे तो बॉम्बे टाइम्स की हेड हैं और टाइम्स के कई संस्करणों से जुड़ी हैं। लेकिन इसके अतिरिक्त उनकी एक और पहचान है। यह बताती है कि समीना शेख बुरी तरह हिंदूफोबिया से ग्रसित हैं और उन जैसों के कारण ही पाठकों को TOI पर कई बार पक्षपाती पत्रकारिता के नमूने दिखने को मिलते हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया पर हिंदूफोबिया से लबरेज खबरें पढ़कर अक्सर हैरानी होती है कि इतना नामी मीडिया संस्थान इस प्रकार की हरकत कैसे कर सकता है? वास्तविकता में इसके लिए संस्थान नहीं, बल्कि उसके भीतर शीर्ष पद पर बैठी समीना शेख जैसे जिम्मेदार हैं।

समीना शेख वैसे तो बॉम्बे टाइम्स की हेड हैं और टाइम्स के कई संस्करणों से जुड़ी हैं। लेकिन इसके अतिरिक्त उनकी एक और पहचान है। यह बताती है कि समीना शेख बुरी तरह हिंदूफोबिया से ग्रसित हैं और उन जैसों के कारण ही पाठकों को TOI पर कई बार पक्षपाती पत्रकारिता के नमूने दिखने को मिलते हैं।

समीना और टाइम्स ऑफ इंडिया के बीच इस संबंध का खुलासा आज एक ट्वीट से हुआ। इसे पहले समीना ने अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर किया और थोड़ी देर बाद वही ट्वीट टाइम्स ऑफ इंडिया के अकाउंट से भी शेयर किया गया। 

ये ट्वीट इफ्तारी के लिए बनाई गई खीर को लेकर था। इस ट्वीट को समीना ने एक तस्वीर के साथ अपने ट्विटर पर शेयर किया था और उस पर लिखा था, “आज चावल की खीर बनाई है। आसान और स्वादिष्ट- अब इसे चखने के लिए इफ्तारी का इंतजार कर रही हूँ…”

समीना के ट्वीट के 15-20 मिनट के भीतर टाइम्स ऑफ इंडिया ने इस तस्वीर को उसी कैप्शन के साथ शेयर किया। बस फिर क्या? सोशल मीडिया पर दोनो अकाउंट को फॉलो करने वाले यूजर्स को ये समझने में देर नहीं लगी कि माजरा क्या है?

एक यूजर ने समीना के सारे पुराने ट्वीट खँगालने शुरू किए और स्क्रीनशॉट्स लेकर इस बात को सार्वजनिक किया कि समीना कितने बड़े स्तर पर हिंदूफोबिया से ग्रसित हैं।

स्क्रीनशॉट्स देखकर स्पष्ट पता चला कि समीना कोरोना महामारी में भी गौमूत्र, गोबर जैसे मुद्दों पर तंज कस हिंदुओं की भावना का मजाक उड़ाती हैं और भाजपा समर्थकों को बेरोजगारी जैसे मुद्दे पर बर्नोल लगाने की सलाह देती हैं।

इसके अलावा जो यूजर उनकी हकीकत को लोगों के सामने लाता है वे उसके ख़िलाफ़ मुंबई पुलिस में शिकायत भी दर्ज करवा देती हैं, वो भी सिर्फ़ इस आधार पर कि हकीकत सामने आने के कारण लोग उनसे सवाल कर रहे हैं और कह रहे हैं कि TOI में हिंदू फोबिक खबरें दिखने का कारण वो हैं।

बता दें, समीना ने अपने ट्वीट को लॉक कर लिया है। लेकिन उनके पुराने ट्वीट और TOI में हिंदूफोबिया की खबरों के बीच का संबंध जानकर लोगों ने ट्विटर पर दोनों को आड़े हाथों ले लिया है। लोगों का कहना है कि यही कारण कि टाइम्स के हर संस्करण में ऐसे हिंदूफोबिया को बढ़ावा दिया जाता है। इसलिए अब बेहतर है इसे अनसब्सक्राइब किया जाए।

ऐसे ही गौमूत्र पर तंज देखकर एक यूजर का ये भी कहना है कि ये लोग आतंकियों की भाषा बोलते हैं। पुलवामा के समय में आतंकी ने अपनी वीडियो में हिंदुओं को गौमूत्र लेकर ही निशाना साधा था। आज इनकी भाषा उन आतंकियों की भाषा से अलग नहीं है।

यूजर्स का पूछना है कि क्या TOI समीना को फायर करेगा? क्योंकि अब सबको पता चल गया है कि वे अपने पद का गलत इस्तेमाल करती हैं और अपने मजहबी प्रोपेगेंडा को चलाने के लिए एक ऐसे संस्थान की आड़ लेती है जिसके देश में लाखों पाठक हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हलाल-हराम के जाल में फँसा कनाडा, इस्लामी बैंकिंग पर कर रहा विचार: RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने भारत में लागू करने की...

कनाडा अब हलाल अर्थव्यवस्था के चक्कर में फँस गया है। इसके लिए वह देश में अन्य संभावनाओं पर विचार कर रहा है।

त्रिपुरा में PM मोदी ने कॉन्ग्रेस-कम्युनिस्टों को एक साथ घेरा: कहा- एक चलाती थी ‘लूट ईस्ट पॉलिसी’ दूसरे ने बना रखा था ‘लूट का...

त्रिपुरा में पीएम मोदी ने कहा कि कॉन्ग्रेस सरकार उत्तर पूर्व के लिए लूट ईस्ट पालिसी चलाती थी, मोदी सरकार ने इस पर ताले लगा दिए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe