Monday, June 17, 2024
Homeरिपोर्टमीडिया'न्यूज चैनल के मालिक ने डाला इस्लाम कबूलने का दबाव, गाली-धमकी दी': महिला पत्रकार...

‘न्यूज चैनल के मालिक ने डाला इस्लाम कबूलने का दबाव, गाली-धमकी दी’: महिला पत्रकार का आरोप- पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

"शान चौधरी ने मुझ पर लगातार इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाया। वह मुझे इस्लाम कबूलने पर सैलरी 25000 रुपए से बढ़ा कर 100000 रुपए करने का लालच दिया करता था।"

26 जनवरी 2022 (बुधवार) को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें एक महिला पत्रकार अपने पूर्व संस्थान के मालिक पर इस्लामी धर्मान्तरण का दबाव डालने का आरोप लगाती दिख रही है। वीडियो में पीड़िता 2 महीने पहले दर्ज FIR पर दिल्ली पुलिस द्वारा एक्शन नहीं लिए जाने का भी आरोप लगा रही है। शिकायत में यह भी कहा गया है कि इस्लाम कबूल करने के बदले उसे सैलरी बढ़ाने का भी लालच दिया गया। यह आरोप दिल्ली के प्रीत विहार स्थित एक यूट्यूब चैनल न्यूज़ एक्शन नेटवर्क (News Action Network) के MD (मैनेजिंग डायरेक्टर) शान चौधरी पर लगा है।

वायरल वीडियो में पीड़िता कह रही है, “मैं पेशे से पत्रकार हूँ। मैं यूट्यूब चैनल न्यूज़ एक्शन नेटवर्क के लिए काम करती थी। इस चैनल का MD शान चौधरी है। उसने मुझ पर लगातार इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाया। यह चीज मुझे बिलकुल भी पसंद नहीं थी। वह मुझे इस्लाम कबूलने पर सैलरी 25000 रुपए से बढ़ा कर 100000 रुपए करने का लालच दिया करता था। साथ ही वह मुझे मुस्लिम लड़की जैसी दिखने की बात करता था। मैंने नौकरी छोड़ दी। मेरी 45 दिनों की सैलरी कम्पनी ने रोक दी।”

वीडियो में महिला पत्रकार आगे कह रही, “47 दिनों बाद मुझे ऑफिस बुलाया गया। जब मैं शान चौधरी के ऑफिस पहुँची तब पहले से वहाँ रिया गुप्ता, रोशनी और मिश्रा मौजूद थे। वहाँ शान ने मुझे गालियाँ दी और अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया। इसी के साथ मुझे जान से मारने की भी धमकी दी गई। मैं जैसे-तैसे वहाँ से अप्पने साथी के साथ निकल पाई। मैं प्रीत विहार थाने गई और केस दर्ज करवाने की कोशिश की। लेकिन असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (ASI) सोहनगीर ने मेरा केस दर्ज करने से मना कर दिया।”

महिला पत्रकार के अनुसार, “2 दिन तक कोशिशों के बाद आख़िरकार मेरी FIR दर्ज हुई। लेकिन इस केस में पुलिस ने कोई जाँच या कार्रवाई नहीं की और न ही सबूत जुटाने के प्रयास किए। तब मैंने सामाजिक कार्यकर्ता राजेश भसीन और आस्था से सम्पर्क किया। इन्होंने हमारे मुद्दे को सोशल मीडिया पर उछाला और मेरी 164 के बयान में मदद की। यह होने में 2 महीने बीत गए। अब तक पुलिस IO (विवेचक) तीन बार बदल चुके हैं। लेकिन कोई भी एक्शन नहीं लिया गया है।” राजेश भसीन ने इस पूरे मामले का 33 मिनट का वीडियो अपलोड किया है।

इस वीडियो शान चौधरी के राजनैतिक संबंधों की भी हवाला दिया गया है। कहा गया है कि वह समाजवादी पार्टी के टिकट से हसनपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहा है। हालाँकि हम इन आरोपों की पुष्टि हम नहीं करते। समाजवादी पार्टी ने अपने प्रत्याशियों की जो लिस्ट जारी की है, उसमें किसी और का नाम है। यहाँ ये ध्यान रखने योग्य है कि न्यूज़ एक्शन नेटवर्क द्वारा अपलोड किए गए कुछ वीडियो में शान चौधरी को ‘भविष्य का सपा प्रत्याशी’ बताया गया है।

न्यूज़ एक्शन नेटवर्क द्वारा अपलोड पोस्ट

वीडियो में लड़की ने आरोप लगाया है, “मैंने पुलिस अधिकारी को घटना के दिन का वीडियो फुटेज चेक करने को कहा, लेकिन कुछ भी नहीं हुआ। या तो कोई कार्रवाई की जाए या मुझे बताया जाए कि केस फर्जी है। अगर एक्शन नहीं ले सकते तो केस बंद कर दो। यह मुद्दा सैलरी का नहीं, बल्कि न्याय का है। मेरे ऊपर शान चौधरी ने मानहानि का केस भी दर्ज किया है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -