Sunday, September 26, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षानेपाल से तीन पाकिस्तानी आतंकियों के घुसने की आशंका, बिहार में बॉर्डर पर हाई...

नेपाल से तीन पाकिस्तानी आतंकियों के घुसने की आशंका, बिहार में बॉर्डर पर हाई अलर्ट

पिछले दिनों खबर आई थी कि भारत-पाकिस्तान सीमा पर सुरक्षा बलों की कड़ी निगरानी के कारण अब ISI नेपाल के जरिए जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले की साजिश रच रही है।

सुरक्षा एजेंसियों ने 3 पाक आतंकियों के नेपाल के रास्ते भारत में घुसने की सूचना दी है। इसके बाद बिहार में नेपाल सीमा पर हाई अलर्ट जारी किया गया है। पूर्वी चंपारण के रक्‍सौल तथा सीतामढ़ी के बैरगनिया के पास सीमा पर चौकसी विशेष तौर पर बढ़ा दी गई है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के मुताब़िक इसके मद्देनजर इंडो-नेपाल बॉर्डर पर विशेष सतर्कता के निर्देश दिए गए हैं। वहीं सीतामढ़ी के एसपी अनिल कुमार ने कहा है कि लॉकडाउन के कारण सीमा सील है। पूर्व से सुरक्षा सख्त है। ग्रामीण क्षेत्र के रास्तों पर सशस्त्र सीमा बल ( एसएसबी) के जवान तैनात हैं। सीमावर्ती थानों को सुरक्षा एजेंसियों से समन्वय स्थापित करने का निर्देश दिया गया है। 

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों खबर आई थी कि भारत-पाकिस्तान सीमा पर सुरक्षा बलों की कड़ी निगरानी के कारण अब ISI नेपाल के जरिए जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले की साजिश रच रही है। बताया गया था कि अब आतंकियों को नेपाल में मौजूद स्लीपर सेल के जरिए भारतीय सुरक्षा बलों पर हमले के निर्देश दिए जा रहे हैं।

वहीं राम मंदिर पर फैसला आने से तकरीबन 10 दिन पहले खबर आई थी कि अयोध्या में बड़े आतंकी हमले की साजिश रची जा रही थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में पाकिस्तान समर्थित आतंकियों का एक जत्था घुस गया था, जो राम मंदिर मामले के बीच दहशत फैलाना चाहता था।

बताया गया कि नेपाल के रास्ते 7 आतंकवादी उत्तर प्रदेश में घुस चुके थे। ख़ुफ़िया सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा था कि ये सभी पाकिस्तानी आतंकवादी थे, जिन्हें अयोध्या में आतंक फैलाने के लिए भेजा गया था। सात में से पाँच आतंकियों की पहचान भी हो गई थी। पहचाने गए आतंकियों के नाम मोहम्मद याकूब, अबू हमजा, मोहम्मद शाहबाज, निसार अहमद और मोहम्मद कौमी चौधरी थे।

इसके अलावा पाकिस्तान, नेपाल के सहारे भारत में कोरोना फैलाने की भी साजिश रच रहा था। इसका पूरा प्लान जालिम मुखिया ने तैयार किया था, जो हथियारों का तस्कर होने के साथ ही नेपाल की कम्युनिस्ट पार्टी की राजनीति में भी सक्रिय था। जालिम की योजना भारत में नेपाल की सीमा से कोरोना पॉजिटिव लोगों की एंट्री कराने की थी। इसके लिए करीब तीन सौ लोग नेपाल के चंदनबसरा तथा खैरवा की मस्जिद और मदरसे में जमा किए गए थे। इनमें कुछ भारतीय थे, तो कुछ पाकिस्तानी थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केरल: CPI(M) यूथ विंग कार्यकर्ता ने किया दलित बच्ची का यौन शोषण, वामपंथी नेताओं ने परिवार को गाँव से बहिष्कृत किया

केरल में DYFI कार्यकर्ता पर एक दलित बच्ची के यौन शोषण का आरोप लगा है। बच्ची की उम्र मात्र 9 वर्ष है। DYFI केरल की सत्ताधारी पार्टी CPI(M) का यूथ विंग है।

कॉन्ग्रेसियों ने BJP सांसद व भाजपा कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, बरसाए ईंट-पत्थर: 9 बार के कॉन्ग्रेस MLA पर आरोप

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में भाजपा सांसद संगम लाल गुप्ता की पिटाई की गई है। 9 बार के विधायक प्रमोद तिवारी और कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं पर इस घटना को अंजाम देने के आरोप लगे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,375FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe