Tuesday, July 27, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाVideo Viral: भारतीय सेना ने पाकिस्तानी 'BAT' की घुसपैठ को किया नाकाम

Video Viral: भारतीय सेना ने पाकिस्तानी ‘BAT’ की घुसपैठ को किया नाकाम

इससे पहले, जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में सुरक्षा बलों ने पाकिस्तानी फौज की बड़ी साज़िश को नाकाम करते हुए BAT के 4-5 घुसपैठियों को मार गिराया था। भारतीय सेना ने इसका वीडियो भी जारी किया था।

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद-370 के निरस्त किए जाने के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। उसकी यह बौखलाहट आए दिन उजागर भी होती रहती है। ऐसा ही एक वीडियो सामने आया है जिसमें भारतीय सेना ने 12 और 13 सितंबर को बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) की घुसपैठ को मुँहतोड़ जवाब दिया है।

पाकिस्तान की BAT टीम ने पीओके के हाजीपुर सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश की थी। बार-बार इनकार के बावजूद पाकिस्तान, भारत में आतंकवादियों की घुसपैठ को अंजाम देने में लगा हुआ है। अगस्त में, भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पर पाक द्वारा घुसपैठ की 15 कोशिशों को नाकाम कर दिया था। 

इस वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि BAT की तरफ़ से घुसपैठ की कोशिश के दौरान पाकिस्तान के स्पेशल सर्विस ग्रुप (SSG) कमांडो और आतंकवादियों पर भारतीय सेना ने ग्रेनेड से हमला किया और उनकी नापाक कोशिशों को नाकाम कर दिया। इससे पहले, जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में सुरक्षा बलों ने पाकिस्तानी फौज की बड़ी साज़िश को नाकाम करते हुए BAT के 4-5 घुसपैठियों को मार गिराया था। भारतीय सेना द्वारा घुसपैठ की कोशिश कर रहे आतंकियों का वीडियो भी जारी किया गया था।

ख़बर के अनुसार, नियंत्रण रेखा से घुसपैठ के सफल और असफल प्रयासों के बारे में जानने के लिए हाल में हुई एक बैठक में सेना के प्रतिनिधि को कश्मीर क्षेत्र के गुरेज, माछिल और गुलमर्ग सेक्टरों के ऊंचाई वाले इलाकों तथा जम्मू क्षेत्र के पुंछ और राजौरी इलाक़ों में आतंकी घुसपैठ के संबंध में विभिन्न एजेंसियों द्वारा जुटाए गए साक्ष्य सौंपे गए।

ग़ौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर पुलिस के महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बताया था कि नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ के कई प्रयास हुए, जिनमें से अधिकतर को विफल कर दिया गया। उन्होंने कहा कि हो सकता है कुछ आतंकी घुसपैठ करने में सफल हो गए हों, लेकिन ऐसे आतंकियों को पकड़ने के लिए कश्मीर में सर्च ऑपरेशन भी चलाया जा रहा है। बता दें कि गुलमर्ग के ऊंचाई वाले क्षेत्रों को 1990 के दशक में मध्य कश्मीर में घुसपैठ के लिए इस्तेमाल किया जाता था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नाम: नूर मुहम्मद, काम: रोहिंग्या-बांग्लादेशी महिलाओं और बच्चों को बेचना; 36 घंटे चला UP पुलिस का ऑपरेशन, पकड़ा गया गिरोह

देश में रोहिंग्याओं को बसाने वाले अंतरराष्ट्रीय मानव तस्करी के गिरोह का उत्तर प्रदेश एटीएस ने भंडाफोड़ किया है। तीन लोगों को अब तक गिरफ्तार किया गया है।

‘राजीव गाँधी थे PM, उत्तर-पूर्व में गिरी थी 41 लाशें’: मोदी सरकार पर तंज कसने के फेर में ‘इतिहासकार’ इरफ़ान हबीब भूले 1985

इतिहासकार व 'बुद्धिजीवी' इरफ़ान हबीब ने असम-मिजोरम विवाद के सहारे मोदी सरकार पर तंज कसा, जिसके बाद लोगों ने उन्हें सही इतिहास की याद दिलाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,464FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe