Sunday, June 23, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षादिल्ली का पत्रकार निकला जासूस, विदेश भेजता था DRDO और भारतीय सेना की सूचनाएँ:...

दिल्ली का पत्रकार निकला जासूस, विदेश भेजता था DRDO और भारतीय सेना की सूचनाएँ: 12 ठिकानों पर CBI की छापेमारी, कई दस्तावेज हाथ लगे

बता दें कि इससे पहले इसी महीने 3 मई को महाराष्ट्र एटीएस ने डीआरडीओ के डायरेक्टर प्रदीप कुरुलकर को पुणे से गिरफ्तार किया था। प्रदीप कुरुलकर पर व्हाट्सएप मैसेज, वॉयस और वीडियो कॉल के जरिए पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI को जानकारी देने का आरोप है।

केंद्रीय जाँच एजेंसी (CBI) ने देश की सुरक्षा से जुड़ी खुफिया जानकारी इकट्ठा करने और विदेशी खुफिया एजेंसियों को भेजने के आरोप में एक पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आरोपित की पहचान विवेक रघुवंशी के रूप में हुई। वह DRDO और सेना से जुड़ी जानकारी लीक कर रहा था। सीबीआई ने विवेक से जुड़े 12 ठिकानों पर छापेमारी कर कुछ दस्तावेज बरामद किए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मामले की जाँच कर रही सीबीआई का कहना है कि पत्रकारिता की आड़ में विवेक रघुवंशी रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) और सेना की संवेदनशील जानकारी इकट्ठा कर रहा था। इसी कड़ी में उसने डीआरडीओ और भारतीय सेना द्वारा भविष्य में किन चीजों की खरीद करने वाली है इसकी जानकारी उसने इकट्ठी कर ली थी।

साथ ही डीआरडीओ किन परियोजनाओं पर काम कर रहा है और आगे की योजना क्या है, इस बारे में भी वह जानकारियाँ जुटा रहा था। यही नहीं, उसने भारत के मित्र देशों के साथ चल रही कूटनीतिक और रणनीतिक वार्ताओं की जानकारी इकट्ठा कर रहा था। सीबीआई के एक अधिकारी ने कहा है कि वह देश की सुरक्षा और अखंडता से जुड़ी इन जानकारियों को इकट्ठा कर कथित तौर पर विदेशी खुफिया एजेंसियों को भेज रहा था।

इसी सिलसिले में सीबीआई ने दिल्ली, नोएडा, गुरुग्राम और जयपुर में 12 ठिकानों पर छापेमारी की है। कहा जा रहा है कि इस छापेमारी में कई महत्वपूर्ण दस्तावेज सीबीआई के हाथ लगे हैं। फिलहाल, सीबीआई आरोपित विवेक रघुवंशी के खिलाफ सरकारी गोपनीयता अधिनियम के तहत FIR दर्ज कर मामले की जाँच कर रही है। सरकारी गोपनीयता अधिनियम को जासूसी विरोधी अधिनियम भी कहा जाता है।

DRDO डायरेक्टर की भी हुई थी गिरफ्तारी

बता दें कि इससे पहले इसी महीने 3 मई को महाराष्ट्र एटीएस ने डीआरडीओ के डायरेक्टर प्रदीप कुरुलकर को पुणे से गिरफ्तार किया था। प्रदीप कुरुलकर पर व्हाट्सएप मैसेज, वॉयस और वीडियो कॉल के जरिए पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI को जानकारी देने का आरोप है। यही नहीं, प्रदीप का पाकिस्तान इंटेलिजेंस ऑपरेटिव (PIO) की महिला एजेंट को भी खुफिया जानकारी देने का आरोप है। बताया जा रहा है कि PIO एजेंट ने हनी ट्रैप में फँसाकर प्रदीप से कई महत्वपूर्ण और खुफिया जानकारी हासिल कर ली।

प्रदीप कुरुलकुर को मंगलवार (16 मई 2023) को पुणे की विशेष अदालत में पेश किया गया था। जहाँ से अदालत ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

प्रदीप कुरुलकुर को मंगलवार (16 मई, 2023) को पुणे की विशेष अदालत में पेश किया गया था। वहाँ से अदालत ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

‘PM मोदी ने किया जी अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन का उद्घाटन, गिर गई उसकी दीवार’: News24 ने फेक न्यूज़ परोस कर डिलीट की ट्वीट,...

अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से जुड़े जिस दीवार के दिसंबर 2023 में बने होने का दावा किया जा रहा है, वो दावा पूरी तरह से गलत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -