Sunday, June 16, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाहिज्ब का सीरियल ब्लास्ट का था प्लान, टारगेट पर थे हिंदू नेता: NIA की...

हिज्ब का सीरियल ब्लास्ट का था प्लान, टारगेट पर थे हिंदू नेता: NIA की चार्जशीट से भारत को इस्लामी मुल्क बनाने की साजिश का खुलासा

इन धमाकों के निशाने पर हिंदूवादी नेता और हिन्दू मंदिर थे। हिंदूवादी नेताओं की टारगेट किलिंग की मंशा के साथ आतकियों ने जिलेवार सूची भी बना रखी थी। इनके मंसूबो में साम्प्रदायिक तनाव फैला कर दंगा करवाना भी शामिल था।

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) ने सोमवार (13 नवंबर, 2023) को प्रतिबंधित आतंकी संगठन हिज्ब-उत-तहरीर (HUT) के गिरफ्तार आरोपितों के खिलाफ भोपाल कोर्ट में चालान पेश किया। इन सभी के खिलाफ पिछले सप्ताह अदालत में चार्जशीट दाखिल की गई थी। चार्जशीट में HUT से जुड़े आतंकियों के खतरनाक मंसूबों का खुलासा हुआ जिसमें मध्य प्रदेश के अंदर सीरियल ब्लास्ट की साजिश शामिल थी। इन सभी चरमपंथियों के निशाने पर हिंदूवादी नेता और हिन्दुओं के धर्म स्थल भी थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक NIA द्वारा दाखिल चार्जशीट में इस बात का जिक्र है कि HUT से जुड़े आरोपित भारत को इस्लामिक मुल्क बनाने के मंसूबे रखते थे। ये सभी मध्य प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में हिन्दू बाहुल्य क्षेत्रों के अंदर सीरियल ब्लास्ट करना चाहते थे। इन धमाकों के निशाने पर हिंदूवादी नेता और हिन्दू मंदिर थे। हिंदूवादी नेताओं की टारगेट किलिंग की मंशा के साथ आतकियों ने जिलेवार सूची भी बना रखी थी। इनके मंसूबो में साम्प्रदायिक तनाव फैला कर दंगा करवाना भी शामिल था।

चार्जशीट में एक खुलासा यह भी है कि साल 2022 में HUT के भारत प्रमुख सामी रिजवी ने हैदराबाद में मीटिंग की थी। भोपाल का जिम ट्रेनर यासिर खान भी कुछ अन्य लोगों के साथ इस मीटिंग में शामिल हुआ था। हैदराबाद में हुई इस मीटिंग में यासिर खान को मध्य प्रदेश में HUT की कमान सौंपी गई थी। इन सभी की मंशा थी कि ये अपनी चरमपंथी करतूतों से विदेशी कट्टरपंथी संगठनों की नजरों में आ जाएँ।

NIA की चार्जशीट में इस बात का भी जिक्र है कि गिरफ्तार किए गए आरोपितों ने हथियार चलाने की ट्रेनिंग भी ली थी। ये ट्रेनिंग इन्हे विभिन्न कैम्पों में मिली थी। इसके अलावा इन सभी पर हिन्दुओं का धर्म परिवर्तन करवाने का भी आरोप है। सभी आरोपित पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों से बच कर चोरी-छिपे मध्य प्रदेश में भर्तियाँ कर के अपने कैडर खड़ा कर रहे थे। इस कैडर को ट्रेनिंग सेंटरों में कमांडों जैसे हथियार चलाना और पुलिस वालों पर हमला करना सिखाया जा रहा था।

भोपाल से गिरफ्तार HUT के 10 सदस्यों में से 5 पहले हिन्दू थे जो बाद में इस्लाम कबूल कर के मुस्लिम बन गए थे। भोपाल के 3 सदस्यों ने हिन्दू लड़कियों से निकाह कर के उनको मुस्लिम बना दिया। अब तक गिरफ्तार HUT के कुल 16 सदस्यों में से 8 धर्मान्तरित हो कर इस्लाम कबूल किए हैं।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश ATS ने मंगलवार (10 मई, 2023) को दबिश मार कर HUT (हिज्ब उत् तहरीर) नाम के आतंकी संगठन से जुड़े 16 संदिग्धों को UAPA की धाराओं के तहत गिरफ्तार किया था। ये छापेमारी भोपाल, छिंदवाड़ा और हैदराबाद से हुई थीं। इनमें सैयद सामी रिजवी कोचिंग में टीचर, शाहरूख दर्जी, मिस्बाहुल हक मजदूर, शाहिद ऑटो ड्राइवर, सैयद दानिश अली सॉफ्टवेयर इंजीनियर, मेहराज अली कंप्यूटर टेक्नीशियन, खालिद हुसैन व्यवसायी, करीम प्राइवेट नौकरी में हैं। इनके अलावा वसीम खान और मोहम्मद आलम को भी गिरफ्तार किया गया है।

बता दें कि हिज्ब उत् तहरीर उर्फ तहरीक-ए-खिलाफत इस्लामी कट्टरपंथी संगठन है जिसके तार 50 देशों में हैं। 16 देश इस संगठन को बैन कर चुके हैं। ATS द्वारा गिरफ्तार संदिग्धों को हथियार चलाने की ट्रेनिंग गुप्त रूप में जंगलों में हुआ करती थी। आपसी बातचीत के लिए ये सभी डार्क वेब के विभिन्न चैनलों का इस्तेमाल करते थे। भारत के कई शहर HUT के निशाने पर थे जिनकी रेकी के लिए आरोपितों ने ड्रोन का इस्तेमाल किया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K में योग दिवस मनाएँगे PM मोदी, अमरनाथ यात्रा भी होगी शुरू… उच्च-स्तरीय बैठक में अमित शाह का निर्देश – पूरी क्षमता लगाएँ, आतंकियों...

2023 में 4.28 लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं ने बाबा अमरनाथ का दर्शन किया था। इस बार ये आँकड़ा 5 लाख होने की उम्मीद है। स्पेशल कार्ड और बीमा कवर दिया जाएगा।

परचून की दुकान से लेकर कई हजार करोड़ के कारोबार तक, 38 मुकदमों वाले हाजी इक़बाल ने सपा-बसपा सरकार में ऐसी जुटाई अकूत संपत्ति:...

सहारनपुर में मिर्जापुर का रहने वाला मोहम्मद इकबाल परचून की दुकान से काम शुरू कर आगे बढ़ता गया। कभी शहद बेचा, तो फिर राजनीति में आया और खनन माफिया भी बना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -