Thursday, August 5, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षातारीख: 5 अगस्त, जगह: अयोध्या, आतंकी: 20, पढ़िए पाकिस्तान के नापाक प्लान का पूरा...

तारीख: 5 अगस्त, जगह: अयोध्या, आतंकी: 20, पढ़िए पाकिस्तान के नापाक प्लान का पूरा ब्यौरा

खुफिया एजेंसी को पिछले कुछ हफ़्तो से आतंकी हमलों को लेकर सूचना मिल रही है। इसके अनुसार आतंकी 15 अगस्त को भी हमले को अंजाम दे सकते हैं। सुरक्षा एजेंसियों द्वारा दी गई चेतावनी के बाद अयोध्या, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

5 अगस्त को अयोध्या और जम्मू-कश्मीर में बड़े आतंकी हमलों की साजिश पाकिस्तान ने रची है। इसके लिए उसने अफगानिस्तान में 20 तालिबानी आतंकियों को प्रशिक्षण दिया है। खुफिया एजेंसियों ने इस खतरे को लेकर आगाह किया है।

5 अगस्त को अयोध्या में श्रीराम मंदिर का भूमि पूजन होना है। वहीं य​ह दिन जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने की सालगिरह भी है। इससे पहले मई में जम्मू-कश्मीर में ईद पर बड़े आतंकी हमलों की पाकिस्तानी साजिशों का नाकाम कर दिया गया था।

केंद्रीय खुफिया एजेंसियों के इनपुट के अनुसार अफगानिस्तान के जलालाबाद में पाकिस्तानी सेना के स्‍पेशल सर्विस ग्रुप (एसएसजी) द्वारा प्रशिक्षित तालिबानी आतंकवादी देश के कुछ हिस्सों में हमले की साजिश रच रहे हैं।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, खुफिया एजेंसी को पिछले कुछ हफ़्तो से आतंकी हमलों को लेकर सूचना मिल रही है। इसके अनुसार आतंकी 15 अगस्त को भी हमले को अंजाम दे सकते हैं। सुरक्षा एजेंसियों द्वारा दी गई चेतावनी के बाद अयोध्या, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

खुफिया एडवाइजरी के अनुसार, “ईद-उल-फितर के मौके पर 26 से 29 मई 2020 के बीच जम्मू-कश्मीर में हमले के लिए अफगानिस्‍तान के जलालाबाद में पाकिस्तान सेना के एसएसजी ने लगभग 20 तालिबानी आतंकियों को प्रशिक्षित किया गया था। हालाँकि, सुरक्षा बलों की पर्याप्त सतर्कता के कारण आतंकवादी हमले को अंजाम नहीं दे सके।”

इनपुट में यह भी कहा गया है कि पाकिस्तान सेना 20-25 आतंकियों को नियंत्रण रेखा (जम्मू-कश्मीर के साथ) और 5-6 को नेपाल सीमा से घुसपैठ कराने की फिराक में है।

सुरक्षा एजेंसियों ने आगाह करते हुए कहा है कि हमला 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 के उन्मूलन की वर्षगांठ के अवसर पर या 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान होगा। 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन पर भी हमला हो सकता है।

इसे देखते हुए सेना और सुरक्षा एजेंसियों को अधिक चौकन्‍ना और अलर्ट रहने के लिए कहा गया है। अधिकारियों के अनुसार, संबंधित एजेंसियों और पुलिस को सख्त निगरानी रखने और मानक संचालन प्रक्रियाओं के अनुसार समन्वय करने के लिए कहा गया है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या पाँच अगस्त को अयोध्या में भूमि पूजन में शामिल होंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आर्टिकल 370 के खात्मे का भारत स्वप्न, जिसे मोदी सरकार ने पूरा किया: जानिए इससे कितना बदला J&K और लद्दाख

आर्टिकल 370 हटाने के मोदी सरकार के ऐतिहासिक फैसले से न केवल जम्मू-कश्मीर में जमीन पर बड़े बदलाव आए हैं, बल्कि दशकों से उपेक्षित लद्दाख ने भी विकास के नए रास्ते देखे हैं।

आखिरी बाजी हार कर भी छा गए रवि दहिया, ओलंपिक में सिल्वर मेडल पाने वाले दूसरे भारतीय पहलवान बने

टोक्यो ओलंपिक 2020 में पुरुषों की 57 किग्रा फ्रीस्टाइल कुश्ती में रेसलर रवि दहिया ने भारत को सिल्वर मैडल दिलाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,091FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe