Saturday, June 25, 2022
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षापाकिस्तान की 4 चौकियाँ तबाह, 4 सैनिक मारे गए: गोलाबारी का भारतीय सेना ने...

पाकिस्तान की 4 चौकियाँ तबाह, 4 सैनिक मारे गए: गोलाबारी का भारतीय सेना ने दिया मुँहतोड़ जवाब

कोरोना काल में भी पाकिस्‍तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। नियंत्रण रेखा पर लगातार पिछले कई दिनों से संघर्ष विराम का उल्‍लंघन करते हुए फायरिंग कर रहा है।

पाकिस्तानी गोलाबारी का जवाब देते हुए भारतीय सेना ने उसकी चार चौकियॉं तबाह कर दी है। पाकिस्तान के चार सैनिकों के मारे जाने की भी खबर है। कई सैनिक जख्मी भी हुए हैं।

पाकिस्तान सेना ने शुक्रवार (मई 8, 2020) को पुंछ सेक्टर में सुबह से लेकर देर शाम तक भारतीय सेना की चौकियों और नागरिकों की बस्ती को निशाना बनाकर मोर्टार दागे।

पाकिस्तानी सेना की फायरिंग का भारतीय सेना ने मुँहतोड़ जवाब दिया। भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना के 3 से 4 जवानों की मारे जाने और 5 जवानों के बुरी तरह घायल होने की खबर है। इस कार्रवाई में सेना ने 4 पाकिस्तानी चौकियों को भी नेस्तनाबूद कर दिया।

जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान की राजा, रानी, रिंगकटूर, बेगम आदि चौकियाँ तबाह हो गई हैं। इन चौकियों से धूल का गुबार और धुआँ उठता दिखने से वहाँ भारी नुकसान की पुष्टि होती है। इससे पाकिस्तान के होश उड़ गए हैं।

कोरोना काल में भी पाकिस्‍तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। नियंत्रण रेखा पर लगातार पिछले कई दिनों से संघर्ष विराम का उल्‍लंघन करते हुए फायरिंग कर रहा है।

पाकिस्‍तानी सेना ने गुरुवार (मई 7, 2020) को भी पुंछ जिले के पाँच सेक्टरों की अग्रिम चौकियों और दो दर्जन गाँवों में गोलाबारी की थी। भारतीय सेना ने लगातार पाकिस्‍तानी फौज का मुँहतोड़ जवाब देना जारी रखा है।

पिछले दिनों जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में दो विदेशी आतंकी मारे गए थे, जिसमें से एक पाकिस्तान का रहने वाला टॉप लश्कर आतंकी हैदर था।

इससे पहले हंदवाड़ा में ही एक ऑपरेशन के दौरान आतंकियों के साथ मुठभेड़ में कर्नल और मेजर समेत भारतीय सेना के पाँच जवान वीरगति को प्राप्त हो गए थे। इसके बाद सेना ने हिजबुल कमांडर आतंकी रियाज नायकू को मार गिराया था।

उल्लेखनीय है कि हिजबुल मुजाहिदीन के टॉप कमांडर रियाज ने अपने घर तक जाने-आने के लिए सुरंग बना रखी थी। इसकी जानकारी बहुत ही गिने-चुने लोगों को थी, क्योंकि वह किसी पर भरोसा नहीं करता था। सेना ने विस्फोटक से वह घर उड़ा दिया और जो सुरंग उसने जान बचाने के लिए खोदी थी, उसी में उसकी कब्र बन गई। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘…तो मुंबई जल जाती है’ – खत्म हो रही शिवसेना, रोते हुए धमकी दे रहे कॉन्ग्रेसी मंत्री: मुंबई पुलिस हाई अलर्ट

कॉन्ग्रेस नेता नितिन राउत ने आशंका जताई है कि अगर राज्य में शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने हिंसा की तो केंद्र को राष्ट्रपति शासन का बहाना मिलेगा।

‘द्रौपदी राष्ट्रपति तो पांडव और कौरव कौन हैं?’: राम गोपाल वर्मा के ओछे कमेंट पर हैदराबाद पुलिस ने दर्ज की शिकायत, बीजेपी नेता की...

पुलिस द्वारा एससी / एसटी अधिनियम लागू किया जाना चाहिए और निर्देशक को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। पुलिस ने कहा कि कानूनी राय के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,159FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe