Tuesday, October 19, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाजैश-ए-मोहम्मद के कमांडर गाज़ी के बाद घाटी में टेरर-60 का ख़ात्मा सेना का अगला...

जैश-ए-मोहम्मद के कमांडर गाज़ी के बाद घाटी में टेरर-60 का ख़ात्मा सेना का अगला लक्ष्य

इस समय पूरी घाटी में 60 मौजूद आतंकी अलग-अलग जिलों में फैले हुए हैं। इनमें से 35 आतंकी पाकिस्तानी हैं, जो कि घाटी में तबाही मचाने को पूरी तरह से तैयार हैं।

पुलवामा हमले में 44 जवानों के बलिदान का बदला लेना सेना ने शुरू कर दिया है। पुलवामा हमले के बाद देश की आम जनता में जो गुस्सा है वही गुस्सा देश के सुरक्षाबलों में भी है। सोमवार (फ़रवरी 18,2019) को ही जैश-ए-मोहम्मद के कमांडर गाजी राशिद उर्फ़ कामरान को ढेर कर दिया गया। और अब घाटी मे जैश के बिखरे हुए 60 एक्टिव आतंकियों का ख़ात्मा करने की बारी है।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में जैश-ए-मोहम्मद ने अपने आतंकियों का जाल बिछाया हुआ है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस समय पूरी घाटी में मौजूद 60 आतंकी अलग-अलग जिलों में फैले हुए हैं। इनमें से 35 आतंकी पाकिस्तानी हैं, जो कि घाटी में तबाही मचाने को पूरी तरह से तैयार हैं।

यह भी कहा जा रहा है कि घाटी में आतंकी लगातार अपनी लोकेशन बदल रहे हैं। इतना ही नहीं सरहद के पार पाकिस्तान की सेना भी इन आतंकियों को भारतीय सेना के कोप से बचाने में जुट गई है। बॉर्डर पर पाकिस्तानी सेना भी अलर्ट पर है, पाकिस्तानी सेना ने उस पार स्थित आतंकी ठिकानों और आतंकियों को भी लॉन्च पैड से शिफ्ट करना शुरू कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, आज ही सीआरपीएफ के डीजी आर.आर. भटनागर गृह मंत्रालय में गृह सचिव को पुलवामा हमले की पूरी जानकारी देंगे। इसके अलावा सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत भी आज रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात करेंगे और जम्मू-कश्मीर के मौजूदा हालात पर रिपोर्ट देंगे।

ज्ञात हो कि 14 दिसंबर को भारत ने अपने 44 जवानों को एक आत्मघाती आतंकी हमले में खोया था, जिसके बाद से ही सुरक्षाबलों ने घाटी में आतंकियों के ख़ात्मे के लिए ऑपरेशन तेज कर दिया है। आज सोमवार को पुलवामा में एक मुठभेड़ में सेना ने जैश ए मोहम्मद के गाजी समेत दो आतंकियों को ढेर कर दिया। इस एनकाउंटर में 4 जवान भी बलिदान हो गए हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सहिष्णुता और शांति का स्तर ऊँचा कीजिए’: हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर जिस कर्मचारी को Zomato ने निकाला था, उसे CEO ने फिर बहाल...

रेस्टॉरेंट एग्रीगेटर और फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato के CEO दीपिंदर गोयल ने उस कर्मचारी को फिर से बहाल कर दिया है, जिसे कंपनी ने हिंदी को राष्ट्रभाषा बताने पर निकाल दिया था।

बांग्लादेश के हमलावर मुस्लिम हुए ‘अराजक तत्व’, हिंदुओं का प्रदर्शन ‘मुस्लिम रक्षा कवच’: कट्टरपंथियों के बचाव में प्रशांत भूषण

बांग्लादेश में हिंदू समुदाय के नरसंहार पर चुप्पी साधे रखने के कुछ दिनों बाद, अब प्रशांत भूषण ने हमलों को अंजाम देने वाले मुस्लिमों की भूमिका को नजरअंदाज करते हुए पूरे मामले में ही लीपापोती करने उतर आए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,963FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe