Saturday, June 15, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाअलीगढ़ ISIS मॉड्यूल के 4 और आतंकी गिरफ्तार, 3 पहले से पुलिस के शिकंजे...

अलीगढ़ ISIS मॉड्यूल के 4 और आतंकी गिरफ्तार, 3 पहले से पुलिस के शिकंजे में: भारत में जिहाद के लिए खड़ी की जा रही थी टीम, चालू थी ट्रेनिंग

पुलिस के मुताबिक पकड़े गए आतंकी ISIS आतंकी अपनी सोच के अन्य लोगों को जिहादी साहित्य बाँटते थे। ये सभी अलीगढ़ और आसपास ISIS का मॉड्यूल खड़ा करना चाहते थे। इन आतंकियों ने गुपचुप तौर पर खुद से जुड़े लोगों को आतंकवाद की ट्रेनिंग भी देनी शुरू कर दी थी

उत्तर प्रदेश पुलिस की आतंकवाद निरोधक शाखा (ATS) ने प्रतिबंधित आतंकी संगठन ISIS से जुड़े 4 अन्य आतंकियों को गिरफ्तार किया है। इनके नाम राकिब इमाम अंसारी, नावेद अंसारी, मोहम्मद नोमान और मोहम्मद नाज़िम हैं। ये सभी मुस्लिम युवाओं को इस्लामिक स्टेट से जोड़ने की कोशिश कर रहे थे। इसके अलावा चारों आरोपित अन्य युवाओं को जिहाद के लिए मानसिक और शारीरिक ट्रेनिंग भी देते थे। पुलिस ने इस गिरफ्तारी की पुष्टि शनिवार (11 नवम्बर 2023) को की है।

मिली जानकारी के मुताबिक ATS को पूर्व में गिरफ्तार अब्दुल्ला अर्शलान, तारिक और वाज़ीउद्दीन से पूछताछ में अहम सुराग मिले थे। इन सुरागों के आधार पर 10-11 नवम्बर की रात को ATS ने अलीगढ़, संभल और आसपास के कुछ जिलों में दबिश दी थी। यह दबिश ISIS के अलीगढ़ मॉड्यूल से जुड़े आतंकियों की तलाश में दी गई थी। इस दौरान लगभग आधे दर्जन संदिग्ध उठाए गए थे। इनसे हुई पूछताछ में आखिरकार राकिब, नावेद, नोमान और नाज़िम को आधिकारिक तौर पर गिरफ्तार किया गया।

पुलिस के मुताबिक पकड़े गए आतंकी ISIS आतंकी अपनी सोच के अन्य लोगों को जिहादी साहित्य बाँटते थे। ये सभी अलीगढ़ और आसपास ISIS का मॉड्यूल खड़ा करना चाहते थे। इन आतंकियों ने गुपचुप तौर पर खुद से जुड़े लोगों को आतंकवाद की ट्रेनिंग भी देनी शुरू कर दी थी। यह ट्रेनिंग सोशल प्लेटफार्म पर ऑनलाइन के साथ कुछ ख़ुफ़िया ठिकानों पर शारीरिक तौर भी होती थी। इन सभी का मकसद भारत में जिहाद के लिए टीम खड़ी करना था। साथ ही ATS कुछ अन्य संदिग्धों से भी पूछताछ कर रही है।

आतंकियों के पास से जेहादी साहित्य बरामद हुए हैं। इन सभी के मोबाइल फोन भी जब्त कर लिए गए हैं जिसकी फॉरेंसिक जाँच करवाई जा रही है।

बताते चलें कि नवम्बर 2023 महीने में ही ATS अलीगढ़ ISIS मॉड्यूल के अब तक 7 आतंकी गिरफ्तार कर चुकी है। ये सभी उत्तर प्रदेश, बिहार और छत्तीसगढ़ आदि प्रदेशों के रहने वाले हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

अब तक की सबसे अधिक ऊँचाई पर पहुँचा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, उधर कंगाली की ओर बढ़ा पाकिस्तान: सिर्फ 2 महीने का बचा...

एक तरफ पाकिस्तान लगातार बर्बादी की कगार पर पहुँच रहा है, तो दूसरी तरफ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार बढ़ता जा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -