Tuesday, June 18, 2024
Homeविविध विषयअन्यVIDEO: जब राह चलते काले कुत्ते को दिख गया कॉन्ग्रेस का झंडा, फिर गुस्से...

VIDEO: जब राह चलते काले कुत्ते को दिख गया कॉन्ग्रेस का झंडा, फिर गुस्से में उसने…

गम्भीरतापूर्वक कहें तो राजनीतिक दलों को अपने झंडों का ध्यान रखना चाहिए। इन्हें इधर-उधर यूँ ही नहीं छोड़ना चाहिए और लगाना भी चाहिए तो उचित ऊँचाई देख कर।

सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो को शेयर करते हुए लोग कह रहे हैं कि आदमी तो छोड़िए, जानवर भी अब कॉन्ग्रेस से तंग आ चुके हैं। दरअसल, इस वीडियो में एक अकेले कुत्ते को कॉन्ग्रेस का झंडा दिख जाता है। इसके बाद वो कुत्ता उस झंडे को नोच डालने के लिए बेचैन हो उठता है। वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि कुत्ता झंडे को उखाड़ने की कोशिश कर रहा है और अंततः वह झंडे के कपड़े को अपने मुँह से नोचकर अलग कर देता है। इसके बाद कुत्ते ने उस झंडे को ज़मीन पर घसीट कर गन्दा भी किया। लोग इस वीडियो को देख ख़ूब मज़े ले रहे हैं। आप भी देखिए।

वीडियो के अंत में देखा जा सकता है कि कुत्ते ने कॉन्ग्रेस के झंडे को सीढ़ियों पर यूँ ही छोड़ दिया और फिर निकल गया। एक यूजर ने लिखा कि आजकल भारत में कुत्ते भी होशियार हो गए हैं। ये तो थी सोशल मीडिया पर मज़ाक की बातें। अगर गम्भीरतापूर्वक कहें तो राजनीतिक दलों को अपने झंडों का ध्यान रखना चाहिए। इन्हें इधर-उधर यूँ ही नहीं छोड़ना चाहिए और लगाना भी चाहिए तो उचित ऊँचाई देख कर।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

तेजस्वी यादव के बगल में खड़े इस राजा को देखिए, वहीं के व्यवसायी को सुपारी देकर मरवाया जहाँ से माँ थी RJD उम्मीदवार: हत्या...

बिहार के पूर्णिया में 2 जून, 2024 को हुई एक व्यवसायी गोपाल यादुका की हत्या की सुपारी राजद नेता बीमा भारती के बेटे राजा ने दी थी।

चुनाव ब्रिटेन का और वोट ‘कश्मीर की आजादी’ के नाम पर माँग रहा सत्ताधारी दल का सांसद, हिंदू-भारत घृणा से भरा है चुनावी अभियान

कंजर्वेटिव पार्टी के नेता मार्को लोंगी ने पहले तो बकरीद की शुभकामनाएँ दी, उसके बाद भारत विरोधी आग उगलना शुरू किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -