Monday, March 8, 2021
Home विविध विषय अन्य सिंह का संन्यास: 17 साल की शानदार पारी के बाद युवराज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट...

सिंह का संन्यास: 17 साल की शानदार पारी के बाद युवराज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

युवराज सिंह को उनके धुआंधार 6 छक्कों के बाद शायद ही कोई क्रिकेट प्रेमी भूल पाए। 2011 में उनका जबरदस्त फॉर्म टीम को वर्ल्ड कप जिताने में मददगार रहा था। इस दौरान उन्होंने...

साल 2000 में पहली बार मैदान में उतरकर अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत करने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर युवराज सिंह ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से आज (जून 10, 2019) संन्यास ले लिया। युवराज सिंह ने साउथ मुंबई होटल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह ऐलान किया।

इस दौरान युवराज काफ़ी भावुक दिखाई पड़े। उन्होंने कहा यह उनके लिए काफी भावनात्मक पल है। उनका करियर एक रोलर-कोस्टर की तरह रहा है। युवराज ने कहा कि वह काफी समय से रिटायरमेंट के बारे में सोच रहे थे और अब उनका प्लान आईसीसी द्वारा मान्यता प्राप्त टी-20 टूर्नामेंट्स में खेलने का है। इस दौरान उन्होंने अपने क्रिकेट करियर को याद करते हुए कहा, “अपने 25 साल के करियर और खास तौर पर 17 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर में कई उतार-चढ़ाव देखे। अब मैंने आगे बढ़ने का फैसला ले लिया है। इस खेल ने मुझे सिखाया कि कैसे लड़ना है, गिरना है, फिर उठना है और आगे बढ़ जाना है।”

युवराज सिंह ने अपना आखिरी वनडे मैच 2 साल पहले 30 जून 2017 को वेस्ट इंडीज के ख़िलाफ़ और आखिरी टी-20 मैच इंग्लैंड के ख़िलाफ़ 1 फरवरी 2017 को खेला था। अपनी शानदार बल्लेबाजी और गजब की फील्डिंग के लिए पहचाने जाने वाले युवराज टीम इंडिया के उन चुनिंदा खिलाड़ियों में से हैं, जिन्होंने वनडे और टी-20 दोनों में गजब की सफलता हासिल की। युवराज सिंह को उनके धुआंधार 6 छक्कों के बाद शायद ही कोई क्रिकेट प्रेमी भूल पाए। 2011 में उनका जबरदस्त फॉर्म टीम को वर्ल्ड कप जिताने में मददगार रहा था। इस दौरान उन्होंने 362 रन बनाए थे, जिसके कारण उन्हें मैन ऑफ द सीरिज का ख़िताब भी मिला था। युवराज पहले ऐसे ऑलराउंडर हैं, जिन्होंने विश्वकप में 350 रन बनाए और 15 विकेट अपने नाम किया।

युवराज सिंह ने 304 वनडे मैच खेलकर देश के लिए 8701 रन बनाए। अपने वनडे करियर में उन्होंने 17 शतक और 63 अर्धशतक भी जड़े। वनडे क्रिकेट में युवराज ने 111 विकटों को अपने नाम किया। ऐसे ही टी-20 में युवराज सिंह ने 58 मैच खेलकर 1,177 रन बनाए। जिसमें 8 अर्धशतक भी शामिल हैं। हालाँकि टेस्ट मैचों में युवराज बहुत हल्का प्रदर्शन करते नजर आए। उन्होंने अपने करियर में 40 टेस्ट खेले और 3 शतकों के साथ 1900 रन बनाए।

अपने पूरे करियर में दर्शकों के लिए युवराज जब-जब मैदान पर उतरे, तो किसी हीरो से कम नहीं रहे। उन्हें भारत का दूसरा सबसे बड़ा सम्मान अर्जुन अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है। उन्हें 2014 में पद्मश्री भी मिला है, साथ ही 2014 में ही उन्हें ICICI ने स्पोर्ट्स पर्सन के रूप में भी सम्मानित किया था।

युवराज का सफर बतौर क्रिकेटर बेहद शानदार रहा। हालाँकि बीच में एक समय ऐसा भी आया जब उन्हें कैंसर जैसी बीमारी से जूझना पड़ा। 2011 में वर्ल्ड कप के बाद उन्हें इस बीमारी का सामना कर पड़ा। इस दौरान जहाँ उनके फैन्स को एक बड़ा झटका लगा था, वहीं बीमारी से जूझते हुए युवराज ने हार नहीं मानी। इलाज के लिए वह कुछ समय अमेरिका में रहे। यहाँ ढाई महीने उनका इलाज चला और इलाज पूरा करवा कर वो दोबारा अपनी दुनिया में कई अनुभव लेकर लौटे। इस बीमारी से जूझने के बाद युवराज ने एक एनजीओ ‘यू वी कैन’ की स्थापना की। यह संस्था इस बीमारी के बारे में लोगों में जागरुकता फैलाने का कार्य करती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सोनिया जी रोई या नहीं? आवास में तो मातम पसरा होगा’: बाटला हाउस केस में फैसले के बाद ट्रोल हुए सलमान खुर्शीद

"सोनिया गाँधी, दिग्वियजय सिंह, सलमान खुर्शीद, अरविंद केजरीवाल और अन्य लोगों जिन्होंने बाटला हाउस एनकाउंटर को फेक बताया था, इस फैसले के बाद पुलिसवालों के परिवार व पूरे देश से माफी माँगेंगे।"

मिथुन दा के बाद क्या बीजेपी में शामिल होंगे सौरभ गांगुली? इंटरव्यू में खुद किया बड़ा खुलासा: देखें वीडियो

लंबे वक्त से अटकलें लगाई जा रही हैं कि बंगाल टाइगर के नाम से प्रख्यात क्रिकेटर सौरव गांगुली बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। गांगुली ने जो कहा, उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि दादा का विचार राजनीति में आने का है।

सलमान खुर्शीद ने दिखाई जुनैद की तस्वीर, फूट-फूट कर रोईं सोनिया गाँधी; पालतू मीडिया गिरते-पड़ते पहुँची!

पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद के एक तस्वीर लेकर 10 जनपथ पहुँचने की वजह से सारा बखेड़ा खड़ा हुआ है।

‘भारत की समृद्ध परंपरा के प्रसार में सेक्युलरिज्म सबसे बड़ा खतरा’: CM योगी की बात से लिबरल गिरोह को सूँघा साँप

सीएम ने कहा कि भगवान श्रीराम की परम्परा के माध्यम से भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को वैश्विक मंच पर स्थापित किया जाना चाहिए।

‘बलात्कार पीड़िता से शादी करोगे’: बोले CJI- टिप्पणी की हुई गलत रिपोर्टिंग, महिलाओं का कोर्ट करता है सर्वाधिक सम्मान

बलात्कार पीड़िता से शादी को लेकर आरोपित से पूछे गए सवाल की गलत तरीके से रिपोर्टिंग किए जाने की बात चीफ जस्टिस एसए बोबडे ने कही है।

असमी गमछा, नागा शाल, गोंड पेपर पेंटिंग, खादी: PM मोदी ने विमेंस डे पर महिला निर्मित कई प्रॉडक्ट को किया प्रमोट

"आपने मुझे बहुत बार गमछा डाले हुए देखा है। यह बेहद आरामदायक है। आज, मैंने काकातीपापुंग विकास खंड के विभिन्न स्वयं सहायता समूहों द्वारा बनाया गया एक गमछा खरीदा है।"

प्रचलित ख़बरें

मौलाना पर सवाल तो लगाया कुरान के अपमान का आरोप: मॉब लिंचिंग पर उतारू इस्लामी भीड़ का Video

पुलिस देखती रही और 'नारा-ए-तकबीर' और 'अल्लाहु अकबर' के नारे लगा रही भीड़ पीड़ित को बाहर खींच लाई।

‘हराम की बोटी’ को काट कर फेंक दो, खतने के बाद लड़कियाँ शादी तक पवित्र रहेंगी: FGM का भयावह सच

खतने के जरिए महिलाएँ पवित्र होती हैं। इससे समुदाय में उनका मान बढ़ता है और ज्यादा कामेच्छा नहीं जगती। - यही वो सोच है, जिसके कारण छोटी बच्चियों के जननांगों के साथ इतनी क्रूर प्रक्रिया अपनाई जाती है।

‘मासूमियत और गरिमा के साथ Kiss करो’: महेश भट्ट ने अपनी बेटी को साइड ले जाकर समझाया – ‘इसे वल्गर मत समझो’

संजय दत्त के साथ किसिंग सीन को करने में पूजा भट्ट असहज थीं। तब निर्देशक महेश भट्ट ने अपनी बेटी की सारी शंकाएँ दूर कीं।

14 साल के किशोर से 23 साल की महिला ने किया रेप, अदालत से कहा- मैं उसके बच्ची की माँ बनने वाली हूँ

अमेरिका में 14 साल के किशोर से रेप के आरोप में गिरफ्तार की गई ब्रिटनी ग्रे ने दावा किया है कि वह पीड़ित के बच्चे की माँ बनने वाली है।

आज मनसुख हिरेन, 12 साल पहले भरत बोर्गे: अंबानी के खिलाफ साजिश में संदिग्ध मौतों का ये कैसा संयोग!

मनसुख हिरेन की मौत के पीछे साजिश की आशंका जताई जा रही है। 2009 में ऐसे ही भरत बोर्गे की भी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई थी।

‘ठकबाजी गीता’: हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस अकील कुरैशी ने FIR रद्द की, नहीं माना धार्मिक भावनाओं का अपमान

चीफ जस्टिस अकील कुरैशी ने कहा, "धारा 295 ए धर्म और धार्मिक विश्वासों के अपमान या अपमान की कोशिश के किसी और प्रत्येक कृत्य को दंडित नहीं करता है।"
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,347FansLike
81,973FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe