Wednesday, June 19, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'दिवाली पर एक-दूसरे को उपहार मत दें, इससे बहुत कचरा पैदा होता है': लोगों...

‘दिवाली पर एक-दूसरे को उपहार मत दें, इससे बहुत कचरा पैदा होता है’: लोगों को पसंद नहीं आया फ्लॉप हीरोइन का ‘ज्ञान’, पूछा – ईद-क्रिसमस पर कहाँ सोई रहती हो?

बता दें कि दीया मिर्जा ने 33 फ़िल्में की हैं, जिनमें उनकी मात्र 2 फ़िल्में ही हिट हुई हैं और वो दोनों ही राजकुमार हिरानी की फ़िल्में थीं जिनमें दीया मिर्जा का कोई योगदान नहीं था।

जैसे ही हिन्दू पर्व-त्योहार आते हैं, वैसे ही बॉलीवुड और क्रिकेट की हस्तियाँ ज्ञान देने लगती हैं। ताज़ा मामला दीया मिर्जा का है। दीया मिर्जा ने दीवाली पर वीडियो जारी कर के कुछ ऐसा ज्ञान दिया है, जो लोगों को पसंद नहीं आ रहा है। दीया मिर्जा इस वीडियो में कह रही हैं कि इस दिवाली पर मुझे गिफ्ट्स न दें, मुझे कुछ मत दें। उन्होंने कहा कि उन्हें महसूस होता है कि दिवाली पर लोग एक-दूसरे को कई ऐसी चीजें देते हैं जिनकी कोई ज़रूरत ही नहीं होती।

वीडियो में दीया मिर्जा आगे कहती हैं, “कुछ ज़्यादा ही पैकेजिंग हो जाती है और काफी कचरा पैदा हो जाता है। इस दिवाली मुझे कुछ मत दीजिए। आप बस मुझे अपना समय दीजिए। अपने घर में कचरों को अलग-अलग कर के मेरा समर्थन कीजिए। आप इस दिवाली पर मुझे सबसे अच्छा गिफ्ट ये दे सकते हैं कि आप उन संगठनों का समर्थन करें तो पर्यावरण के स्वास्थ्य के लिए काम कर रहे हैं।” दीया मिर्जा ईद-बकरीद या क्रिसमस पर इस तरह के ज्ञान देती नहीं दिखती हैं।

‘वोकफ्लिक्स’ नाम के ‘X’ (पूर्व में ट्विटर) हैंडल ने इस पर टिप्पणी करते हुए कहा कि ‘वोकिज्म’ के झंडाबरदारों और इस्लामवादियों ने दिवाली को बदनाम करने का एक नया रास्ता खोज लिया है – ज़्यादा तोहफे देने से कचरा पैदा होता है। उक्त ट्विटर हैंडल ने ये भी लिखा कि दीया मिर्जा जैसे बॉलीवुड सेलेब्रिटी पर्यावरणविद होने के नाम पर घोटाला हैं। ‘जेम्स ऑफ बॉलीवुड’ नामक हैंडल ने भी दीया मिर्जा को एक फ्लॉप अभिनेत्री करार देते हुए कहा कि वो दिवाली पर ही अपना ‘वोक’ ज्ञान देती हैं।

बता दें कि दीया मिर्जा ने 33 फ़िल्में की हैं, जिनमें उनकी मात्र 2 फ़िल्में ही हिट हुई हैं और वो दोनों ही राजकुमार हिरानी की फ़िल्में थीं जिनमें दीया मिर्जा का कोई योगदान नहीं था। यही कारण है कि उन्हें फ्लॉप अभिनेत्री कहा जाता है। ‘जेम्स ऑफ बॉलीवुड’ ने पूछा कि दीया मिर्जा क्रूरता मुक्त ईद या फिर पटाखा मुक्त क्रिसमस की बात क्यों नहीं करतीं? साथ ही याद दिलाया कि बॉलीवुड के लोग जो महँगे मेकअप और शूटिंग के लिए बनाए गए जिस सेट का इस्तेमाल करे हैं, उससे भी काफी कचरा पैदा होता है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फिर सामने आई कनाडा की दोगलई: जी-7 में शांति पाठ, संसद में आतंकी निज्जर को श्रद्धांजलि; खालिस्तानियों ने कंगारू कोर्ट में PM मोदी को...

खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर को कनाडा की संसद में न सिर्फ श्रद्धांजलि दी गई, बल्कि उसके सम्मान में 2 मिनट का मौन रखकर उसे इज्जत भी दी।

‘हमारे बारह’ पर जो बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, वही हम भी कह रहे- मुस्लिम नहीं हैं अल्पसंख्यक… अब तो बंद हो देश के...

हाई कोर्ट ने कहा कि उन्हें फिल्म देखखर नहीं लगा कि कोई ऐसी चीज है इसमें जो हिंसा भड़काने वाली है। अगर लगता, तो पहले ही इस पर आपत्ति जता देते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -