Sunday, July 14, 2024
Homeसोशल ट्रेंड38 लाख फॉलोवर वाले आमिर सिद्दीकी का TikTok अकॉउंट सस्पेंड, दे रहा था कास्टिंग...

38 लाख फॉलोवर वाले आमिर सिद्दीकी का TikTok अकॉउंट सस्पेंड, दे रहा था कास्टिंग डायरेक्टर को धमकी

आमिर सिद्दीकी ने पहले कास्टिंग डायरेक्टर के वीडियो पर बेहद अपमानजनक टिप्पणी पोस्ट की और बाद में उन्हें व्हॉट्सऐप पर भी धमकी से भरे वॉयस नोट भेजे। इसके बाद आमिर के खिलाफ मानहानि का नोटिस भेजते हुए...

यूट्यूब बनाम टिकटोक विवाद के बाद Tik Tok पर भारत में जो गाज गिरी है, उससे सब वाकिफ हैं। इस बीच खबर आई है कि कैरिमिनाटी के कारण चर्चा में आने वाले आमिर सिद्दीकी का टिकटोक अकॉउंट सस्पेंड कर दिया गया है। इससे पहले महिलाओं के ख़िलाफ़ हिंसा को बढ़ावा देने के आरोप में आमिर के भाई फैजल का अकॉउंट सस्पेंड किया गया था।

रविवार की रात जब आमिर सिद्दीकी का अकॉउंट सस्पेंड हुआ, उस समय तक उसके 3.8 मिलियन फॉलोवर्स थे। जानकारी के मुताबिक, आमिर पर ये कार्रवाई एक कास्टिंग डायरेक्टर नूर सिद्दीकी को धमकी भरे मैसेज भेजने के कारण हुई है।

नूर सिद्दीकी के वकील कासिफ खान ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा है कि उनके क्लाइंट द्वारा उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई के किए जाने के बाद आमिर का टिकटोक अकाउंट सस्पेंड किया गया।

उन्होंने आगे कहा कि नूर सिद्दीकी ने व्यक्तिग रूप से भी इसके बारे में TikTok से शिकायत की थी कि आमिर के व्यवहार की वजह से टिकटॉक को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है, यहाँ तक कि उसकी रेटिंग भी 4.8 से 1.2 तक गिर गई है।

गौरतलब है कि कुछ समय पहले आमिर सिद्दीकी ने यूट्यूबर्स के ख़िलाफ़ एक वीडियो बनाया था। इस वीडियो के रिएक्शन में मशहूर यूट्यूबर कैरिमिनाटी का वीडियो आया था। जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने टिकटॉकर्स और टिकटॉक का मजाक बनाना शुरू कर दिया।

बाद में आमिर सिद्दीकी को कई लोगों ने समझाया कि वो खुद फुटेज खाने के चक्कर में सभी टिकटॉकर्स को क्यों बदनाम करवाने में लगे हुए हैं? इसी क्रम में नूर सिद्दीकी ने भी आमिर के लिए एक वीडियो बनाई।

वीडियो में नूर ने आमिर को नकली सिद्दीकी बताया और उनके बालों के रंग और स्टाइल पर भी कमेंट किया। नूर ने वीडियो मे बताया कि वे यूट्यूबर्स को न समझाएँ कि कंटेंट क्या होता है?उन्होंने कहा कि कई टिकटॉकर्स ऐसे हैं, जो मेहनत करके वीडियो बनाते हैं, मगर आमिर जैसों के कारण उनको भी परेशानी झेलनी पड़ रही है।

इस वीडियो के अंत तक नूर सिद्दीकी सिर्फ़ आमिर को यही समझाते रहे कि वे अपने भीतर के घमंड को निकाल दें और फुटेज पाने के लिए ऐसी हरकतें न करें।

मगर, इस वीडियो पर सफाई देने के बजाए या फिर नूर से इस संबंध में बात करने के बजाए, आमिर सिद्दीकी ने नूर को कमेंट में धमकाया और लोगों को ये बताने की कोशिश की कि नूर लड़कियों से गलत काम करवाते हैं, जिसके सभी प्रूव व शिकायत उसके पास आ गए हैं।

स्पॉटब्वॉय की 15 मई की खबर के अनुसार, आमिर ने पहले नूर की वीडियो पर बेहद अपमानजनक टिप्पणी पोस्ट की और बाद में उन्हें व्हॉट्सऐप पर भी धमकी से भरे वॉयस नोट भेजे। इसके बाद नूर सिद्दीकी ने आमिर के ख़िलाफ़ फौरन अपने वकील अली काशिफ खान की मदद से शिकायत दर्ज करवाई।

आमिर के ख़िलाफ़ नूर ने वर्सोवा थाने में शिकायत दर्ज करवाई। यहाँ उसके ख़िलाफ़ धार 504, 506, 507 के तहत मामला दर्ज हुआ और बाद में नूर ने आमिर को मानहानि का नोटिस भी भेजा। साथ ही आमिर को माफी माँगने और क्षतिपूर्ति करने के लिए 14 दिन का समय दिया गया और ये स्पष्ट बताया गया कि अगर वह ऐसा करने में विफल हुए तो मजिस्ट्रेट अदालत में आपराधिक मामला दर्ज किया जाएगा।

यहाँ बता दें कि अपने ऊपर इन सभी कार्रवाई के मामलों को आमिर सिद्दीकी ने खारिज किया है। सोमवार को मीडिया से बात में बताया, “मुझे सुबह पता चला कि मेरा अकॉउंट सस्पेंड हो चुका है। मैं अपने मैनेजमेंट टीम और प्लेटफॉर्म के साथ संपर्क में हूँ ताकि इसका कारण समझ सकूँ। हम अकॉउंट को पुनः प्राप्त करने के लिए कानूनी रास्ता अपनाएँगे।”

नूर द्वारा भेजे गए नोटिस पर आमिर ने कहा, “मुझे मेरी मैनेजमेंट ने नोटिस के बारे में बताया है। हम कोर्ट में लड़ेंगे। सारे आरोप झूठे हैं।”

याद दिला दें कि कुछ समय पहले कैरिमिनाटी की रोस्ट वीडियो सामने आने के बाद से आमिर सिद्दीकी लगातार चर्चाओं में रहा। कई यूट्यूबर्स ने सिद्दीकी के ख़िलाफ़ अपनी राय रखी। हिंदुस्तानी भाऊ ने भी अपनी वीडियो में आमिर को हड़काते हुए, कैरिमिनाटी का समर्थन किया था।

भाऊ ने अपनी वीडियो में आमिर की एक वायरल ऑडियो चलाई। जिसमें वो खुद को गाली देने में पीएचडी बता रहा था और धमकाने वाली टोन में भद्दी गालियाँ देते हुए कह रहा था कि रमजान के कारण अब तक चुप था, मगर अब वो जरूर जवाब देगा। इस ऑडियो को सुनते हुए हिंदुस्तानी भाऊ ने उसे उसकी भाषा में ही जवाब दिया था और खुलकर यूट्यूब का समर्थन किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -