Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाजफैजल सिद्दीकी ने TikTok पर एसिड अटैक को किया प्रमोट, 1.34 करोड़ हैं फॉलोवर

फैजल सिद्दीकी ने TikTok पर एसिड अटैक को किया प्रमोट, 1.34 करोड़ हैं फॉलोवर

इस वीडियो में फैज़ल कहता है- "उसने तुम्हें छोड़ दिया, जिसके लिए तुमने मुझे छोड़ा था?" इसके बाद लड़की के चेहरे पर एक लिक्विड फेंका जाता है और उसका चेहरा पूरा जल जाता है। फैज़ल के फॉलोवरों की संख्या 1.34 करोड़ है।

सोशल मीडिया एप्लीकेशन टिक-टॉक (TikTok) पर एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें एसिड अटैक का महिमामंडन किया गया है। ट्विटर पर लोगों ने फैज़ल सिद्दीकी के इस वीडियो को लेकर नाराज़गी जताई और कार्रवाई की माँग की। अतुल आहूजा ने इस वीडियो को लोगों के सामने रखते हुए कहा कि एसिड अटैक झेलने का अर्थ क्या है, ये शायद ही कोई समझ सकता हो। उन्होंने लिखा कि इससे डरावना शायद ही कुछ हो।

इस वीडियो को ट्वीट करते हुए अतुल ने कहा कि टिक-टॉक (TikTok) पर किसी को इस तरह से एसिड अटैक को मजाक बना देने का अर्थ है कि एसिड अटैक झेलने वाली महिलाओं को रोज होने वाली पीड़ा का मखौल उड़ाना। ये वीडियो टिक-टॉक (TikTok) पर फैज़ल सिद्दीकी ने डाला है। फैज़ल के फॉलोवरों की संख्या 1.34 करोड़ है। इस वीडियो में फैज़ल कहता है- “उसने तुम्हें छोड़ दिया, जिसके लिए तुमने मुझे छोड़ा था?” इसके बाद लड़की के चेहरे पर एक लिक्विड फेंका जाता है और उसका चेहरा पूरा जल जाता है।

कुछ लोगों ने इस वीडियो में एक्ट करने वाली युवती के ख़िलाफ़ भी कार्रवाई की माँग की और कहा कि एक महिला होने के नाते उसे तो कम से कम एसिड अटैक पीड़ितों की व्यथा के बारे में सोचना चाहिए था लेकिन फिर भी वो इस क्रूर अपराध के महिमामंडन में हाथ बँटा रही है। दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तजिंदर बग्गा ने राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा को टैग कर के कार्रवाई की माँग की। शर्मा ने कहा कि वो टिक-टॉक (TikTok) और पुलिस, दोनों के समक्ष इससे लेकर जाएँगी।

सामाजिक कार्यकर्त्ता आशीष ने तो इस वीडियो के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई। उन्होंने कहा कि इस तरह से टिक-टॉक (TikTok) पर एसिड अटैक को प्रोमोट किया जाना बर्दाश्त करने लायक नहीं है। उन्होंने अपनी शिकायत में लिखा कि टिक-टॉक (TikTok) के नवाब गैंग का हिस्सा फैज़ल सिद्दीकी ख़ुद को सोशल इन्फ्लुएंसर बताता है। उन्होंने लिखा कि इस तरह के वीडियो के द्वारा ये दिखाया जा रहा है कि अगर कोई महिला आपको रिजेक्ट करती है तो आप उस पर एसिड अटैक कर के इसका बदला लो, जो ग़लत है।

बता दें कि फैज़ल सिद्दीकी ने दीपिका पादुकोण की फ़िल्म ‘छपाक’ का समर्थन किया था, जिसमें एसिड अटैक पीड़ित महिलाओं की व्यथा दिखाने का दावा किया गया था। दीपिका फिल्म के प्रमोशन के लिए जेएनयू गई थीं, इसीलिए फैज़ल ने ऐसा किया था। दीपिका ने भी एसिड अटैक को लेकर लोगों को वीडियो बनाने की सलाह दी थी, जिसके बाद उनकी आलोचना हुई थी। उनके टिक-टॉक चैलेन्ज को लोगों ने एसिड अटैक पीड़ित महिलाओं के दर्द का मजाक बताया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दलित युवक लखबीर सिंह की हत्या के बाद संयुक्त किसान मोर्चा के बचाव में कूदा India Today, ‘सोर्स’ के नाम पर नया ‘भ्रमजाल’

SKM के नेता प्रदर्शन स्थल पर हुए दलित युवक की हत्या से खुद को अलग कर रहे हैं। इस बीच इंडिया टुडे ग्रुप अब उनके बचाव में सामने आया है। .

कुंडली बॉर्डर पर लखबीर की हत्या के मामले में निहंग सरबजीत को हरियाणा पुलिस ने किया गिरफ्तार, लगे ‘जो बोले सो निहाल’ के नारे

निहंग सिख सरबजीत की गिरफ्तारी की वीडियो सामने आई है। इसमें आसपास मौजूद लोग तेज तेज 'जो बोले सो निहाल' के नारे बुलंद कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,835FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe