Saturday, October 16, 2021
Homeसोशल ट्रेंडकेजरीवाल को नहीं सुनाई दी पटाखों की गूँज, 'कान के चेकअप' के लिए किया...

केजरीवाल को नहीं सुनाई दी पटाखों की गूँज, ‘कान के चेकअप’ के लिए किया गया डॉक्टर बुक

"हिन्दू लक्ष्मी पूजा करने के बाद पटाखे फोड़ते हैं। अब हर तरफ धमाके सुने जा सकते हैं। दिल्ली के हिन्दू धुंआधार पटाखे चला रहे हैं। औकात हो तो अगली बार बकरा ईद पर ज्ञान देना घुँघरू सेठ।"

दिल्ली में दिवाली के अवसर पर कल (अक्टूबर 27, 2019) खूब आतिशबाजी हुई। पटाखे बैन (ग्रीन पटाखों के अलावा) होने के बावजूद त्यौहार पर लोगों का उत्साह कम नहीं हुआ। हर ओर लोग पर्व को धूमधाम से मनाते नजर आए। बावजूद इसके कल मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली वालों को बधाई देने के लिए एक ट्वीट किया और लिखा, “दीवाली की शाम और कोई पटाखे नहीं। दिल्ली वालों ने कमाल कर दिया। दीवाली की बधाई।”

हालाँकि, लक्ष्मी पूजन के बाद दिल्ली में हर ओर से पटाखों की आवाजें सुनने को आई। लेकिन सीएम के ऐसे ट्वीट ने विपक्षी नेताओं समेत सोशल मीडिया यूजर्स को उनकी चुटकी लेने का मौक़ा दे दिया। इसमें कपिल मिश्रा और तजिंदर सिंह बग्गा ने केजरीवाल को अपने-अपने तरीके से दिल्ली में फूटते पटाखों के बारे में जानकारी दी।

कपिल मिश्रा ने केजरीवाल के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए उन्हें मूर्ख आदमी बताया और लिखा, “हिन्दू लक्ष्मी पूजा करने के बाद पटाखे फोड़ते हैं। अब हर तरफ धमाके सुने जा सकते हैं। दिल्ली के हिन्दू धुंआधार पटाखे चला रहे हैं। औकात हो तो अगली बार बकरा ईद पर ज्ञान देना घुँघरू सेठ।”

इसके बाद तजिंदर सिंह बग्गा ने केजरीवाल के ट्वीट पर लिखा, “प्रिय मुख्यमंत्री सर, मैंने आपके लिए कान के स्पेशलिस्ट की अपॉइंटमेंट बुक की है। सर, हम दोनों भले ही अलग पार्टियों से हैं, लेकिन आप हमारे मुख्यमंत्री हैं, हमें आपकी परवाह है। कृपा कल अस्पताल में जाइए और अपने कान का चेकअप कराइए।”

इसके अलावा सोशल मीडिया वालों ने भी उन्हें जमकर आड़े हाथों लिया। उन्हें आँख का अंधा और कान का बहरा बताया। साथ ही नसीहत मिली कि वो अपने कान खोलकर कमरे से बाहर निकल कर देख लें। हर ओर पटाखे फूट रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

मुस्लिम बहुल किशनगंज के सरपंच से बनवाया था आईडी कार्ड, पश्चिमी यूपी के युवक करते थे मदद: Pak आतंकी अशरफ ने किए कई खुलासे

पाकिस्तानी आतंकी ने 2010 में तुर्कमागन गेट में हैंडीक्राफ्ट का काम शुरू किया। 2012 में उसने ज्वेलरी शॉप भी ओपन की थी। 2014 में जादू-टोना करना भी सीखा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,004FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe