Sunday, May 19, 2024
Homeसोशल ट्रेंडराहुल गाँधी की इंटरनेशनल बेइज्जती: जिस Garry Kasparov को बताया अपना फेवरिट चेस प्लेयर,...

राहुल गाँधी की इंटरनेशनल बेइज्जती: जिस Garry Kasparov को बताया अपना फेवरिट चेस प्लेयर, उन्हीं ने कहा – पहले रायबरेली जीत के दिखाओ

“मुझे बहुत राहत महसूस हो रही है कि गैरी कास्परोव और विश्वनाथन आनंद जल्दी रिटायर हो गए। इस कारण से इन दोनों को हमारे समय के सबसे बड़े शतरंज खिलाड़ी (राहुल गाँधी की ओर इशारा) का सामना नहीं करना पड़ रहा।” 

नेता लोग के बीच में सबसे धाँसू चेस कौन खेलता है? राहुल गाँधी। अपने आप को चेस का सरताज (Rahul Gandhi best chess player among politicians) खुद राहुल गाँधी ने ही बताया है। वैसे उनका फेवरिट चेस प्लेयर है गैरी कास्परोव। यह भी उन्होंने खुद ही बताया है। जिस दिन उन्होंने यह सब कुछ बताया, उसी दिन गैरी कास्परोव (Garry Kasparov) ने उनको पहले रायबरेली से जीतने और तब जाकर टॉप के लोगों को चैलेंज करने की सलाह दे डाली है – एकदम इंटरनेशनल बेइज्जती टाइप फील करवा दिया।

राहुल गाँधी को भारत के लोग सिरियसली नहीं लेते हैं। यह बात सबको पता है, कॉन्ग्रेसियों तक को! लेकिन सबसे महान चेस खिलाड़ियों में से एक, रूस के गैरी कास्परोव, जो अब अमेरिका में रहते हैं, उन्हें भी राहुल गाँधी एक मजाक से ज्यादा कुछ नहीं लगते, यह एक ट्वीट से पता चल गया। लेकिन यह हुआ कैसे?

हुआ यह कि राजनीतिक विश्लेषक और स्तंभकार संदीप घोष ने एक ट्वीट किया। इसमें उन्होंने गैरी कास्परोव और विश्वनाथन आनंद को टैग किया और तंज करते हुए लिखा – “मुझे बहुत राहत महसूस हो रही है कि गैरी कास्परोव और विश्वनाथन आनंद जल्दी रिटायर हो गए। इस कारण से इन दोनों को हमारे समय के सबसे बड़े शतरंज खिलाड़ी (राहुल गाँधी की ओर इशारा) का सामना नहीं करना पड़ रहा।”   

इस ट्वीट के रिप्लाई में लाफिंग इमोजी बनाते हुए गैरी कास्परोव ने जवाब दिया, “चेस की परंपरा के अनुसार शीर्ष (राजा) को चुनौती देने से पहले आपको रायबरेली सीट जीतना चाहिए!”

लोकसभा चुनाव में राहुल गाँधी की रायबरेली सीट पर जीत को लेकर गैरी कास्परोव (Garry Kasparov) का किया गया यह तंज देखते ही देखते वायरल हो गया। सोशल मीडिया यूजर्स ने इसके बाद कॉन्ग्रेस के कथित युवराज को लेकर तरह-तरह के तंज कसे, मीम शेयर किए। 

बॉलीवुड कलाकार रणवीर शौरी ने राहुल गाँधी का एक वीडियो शेयर किया। उन्होंने गैरी कास्परोव को टैग करते हुए लिखा कि बाकी सब तो सही है… लेकिन क्या आप राहुल गाँधी के इस मूव को बचा पाओगे?

इंडिया टुडे के पत्रकार गौरव सावंत ने लिखा कि भारत के लोकसभा चुनाव को अब विदेशी भी सीरियसली लेते हैं, दिलचस्पी रखते हैं। भारतीय राजनीति में क्या चल रहा है, किसकी कितनी राजनीतिक हैसियत है, यह सबको पता है। 

अपना ट्वीट वायरल होने के बाद हालाँकि गैरी कास्परोव ने लिखा – “मुझे उम्मीद है कि मेरा मजाक भारतीय राजनीति में हस्तक्षेप नहीं समझा जाएगा, ना ही यह मेरी विशेषज्ञता समझी जाए! लेकिन ‘1000 आँखों वाला राक्षस, जो सब कुछ देख सकता है (all-seeing monster with 1000 eyes,)’ जो नाम मुझे कभी दिया गया था, उसके अनुरुप मैं एक नेता को अपने प्रिय खेल में हाथ आजमाते हुए देखने से नहीं चूक सकता!”

न राहुल गाँधी वीडियो में खुद को सबसे बड़ा चेस खिलाड़ी बताते, न उनकी इंटरनेशनल बेइज्जती होती!

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो में मुस्लिम’ : सिर्फ इतना लिखने पर ‘भीखू म्हात्रे’ को कर्नाटक पुलिस ने गिरफ्तार किया, बोलने की आजादी का गला घोंट...

सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर 'भीखू म्हात्रे' नाम के फिक्शनल नाम से एक्स पर अपनी राय रखते हैं। उन्होंने कॉन्ग्रेस के मेनिफेस्टो पर अपनी बात रखी थी।

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -