Friday, June 21, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'मुशरिक से शादी हराम, वो खुद जहन्नुम जाएगी ही तुझे भी ले जाएगी': स्वरा-फहाद...

‘मुशरिक से शादी हराम, वो खुद जहन्नुम जाएगी ही तुझे भी ले जाएगी’: स्वरा-फहाद के हल्दी समारोह की तस्वीर देख भड़के कट्टरपंथी, कहा – जो शरीयत का न हुआ…

इंस्टाग्राम पर काजमी नाम के यूजर ने लिखा, "जो बंदा अपने शरीयत का वफादार ना हुआ, वो तुम्हारा क्या वफादार होगा जी?"

बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने समाजवादी पार्टी नेता फहाद अहमद के साथ ‘स्पेशल मैरिज एक्ट’ के तहत शादी कर ली थी अब दोनों पारंपरिक तरीके से शादी करने वाले हैं और उससे पहले के समारोह शुर हो चुके हैं। इसी बीच दोनों ने अपने ‘हल्दी कार्यक्रम’ की तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट की, जो कुछ इस्लामी कट्टरपंथियों को पसंद नहीं आई। उन्होंने इस्लाम और शरीयत का हवाला देते हुए फहाद अहमद को भड़ला-बुरा कहा है।

इंस्टाग्राम पर काजमी नाम के यूजर ने लिखा, “जो बंदा अपने शरीयत का वफादार ना हुआ, वो तुम्हारा क्या वफादार होगा जी?” वहीं तारिक अजीज नामक इंस्टाग्राम यूजर ने लिखा, “कुरान में साफ़ लिखा हुआ है सूरह बकराह में कि मुशरिक (अल्लाह को न मानने वाला) से निकाह मत करो। वो तो जाएगी ही जहन्नुम में और तुमको भी लेकर जाएगी। ये बात दोनों के लिए है। अल्लाह ताला फरमाते हैं जान तक वो इमान न ले आए।” वहीं ‘खान बॉय’ नाम के हैंडल ने लिखा कि ये ‘काफिरों’ के साथ रह कर काफिर बन गया है।

अदनान आजमी नाम के ट्विटर यूजर ने भी लिखा, “लानत है तुम पर।” वहीं इंस्टाग्राम पर शाहिद आलम को स्वरा भास्कर के कपड़ों से ऐतराज हो गया। उसने लिखा, “फहाद भाई, भाभी जी को कपड़े पर ध्यान देना चाहिए, क्योंकि ये संसार है और यहाँ सब सही होंगे तो गलत किसे बोले जाएगा?” ‘हल्दी सेरेमनी’ की इन तस्वीरों में जहाँ स्वरा भास्कर ने सलवार-कुर्ती पहना हुआ है, वहीं फहाद अहमद कुर्ता-पायजामा में नजर आ रहे हैं।

फहाद अहमद और स्वरा भास्कर के पोस्ट पर इस्लामी कट्टरपंथियों के कमेंट्स

वहीं कई लोगों ने फहाद अहमद और स्वरा भास्कर को बधाई भी दी। बता दें कि दोनों एक भव्य शादी समारोह का आयोजन करने वाले हैं, जिसमें कई मेहमान शरीक होंगे। 6 जनवरी, 2023 को ही इन दोनों ने कोर्ट मैरिज कर ली थी, लेकिन 6 फरवरी को सगाई के बाद इसका खुलासा हुआ। दोनों की मुलाकात CAA/NRC के विरोध में आयोजित एक प्रदर्शन में हुई थी। फहाद अहमद महाराष्ट्र में समाजवादी पार्टी के यूथ विंग ‘युवजन सभा’ के प्रदेश अध्यक्ष हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार का 65% आरक्षण खारिज लेकिन तमिलनाडु में 69% जारी: इस दक्षिणी राज्य में क्यों नहीं लागू होता सुप्रीम कोर्ट का 50% वाला फैसला

जहाँ बिहार के 65% आरक्षण को कोर्ट ने समाप्त कर दिया है, वहीं तमिलनाडु में पिछले तीन दशकों से लगातार 69% आरक्षण दिया जा रहा है।

हज के लिए सऊदी अरब गए 90+ भारतीयों की मौत, अब तक 1000+ लोगों की भीषण गर्मी ले चुकी है जान: मिस्र के सबसे...

मृतकों में ऐसे लोगों की संख्या अधिक है, जिन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया था। इस साल मृतकों की संख्या बढ़कर 1081 तक पहुँच चुकी है, जो अभी बढ़ सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -