Wednesday, May 22, 2024
Homeसोशल ट्रेंडKacha Badam वायरल गाने पर पुलिस में शिकायत: मूँगफली बेचने वाले असली गायक हैं...

Kacha Badam वायरल गाने पर पुलिस में शिकायत: मूँगफली बेचने वाले असली गायक हैं गरीब, उनके गाने से दूसरे कमा रहे लाखों

“गाना वायरल होने के बाद घर में काफी लोगों की भीड़ उमड़ रही है। हर कोई मेरे गाने का वीडियो बनाना चाहता है। उसके बाद वे इंटरनेट पर गाना अपलोड कर अच्छी खासी कमाई कर रहे हैं। लेकिन मेरे हाथ खाली हैं।”

पश्चिम बंगाल का मूँगफली बेचने वाला एक आम इंसान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। दरअसल उसने कच्ची मूँगफली बेचने के लिए एक गाना बनाया था, जिसे कई लोगों ने रिकॉर्ड किया और फेसबुक, इंस्टाग्राम रील्स और यूट्यूब जैसी सोशल मीडिया साइटों पर अपलोड कर दिया। हालाँकि मूँगफली विक्रेता भुबन बड्याकर इस प्रसिद्धि से खुश नहीं है और उन्होंने अपलोड करने वालों के खिलाफ शिकायत करने के लिए पुलिस से संपर्क किया है।

पश्चिम बंगाल के बीरभूम के मूँगफली बेचने वाले ने दुबराजपुर में पुलिस से शिकायत की है कि उनके वायरल गाने से दूसरे लोग लाखों कमा रहे हैं, लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिला। भुबन बड्याकर ने कहा कि उनका गाना सोशल मीडिया पर पहले से ही वायरल है और इस गाने को यूट्यूब पर शेयर कर खूब लोग पैसे कमा रहे हैं, लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिल रहा है।

कुछ लोगों ने इसे यूट्यूब पर अपलोड करते समय कॉपीराइट भी डाला है, क्योंकि उन्होंने इसे तब रिकॉर्ड किया था, जब वह इसे सड़कों पर गा रहे थे। उन्होंने यह भी कहा कि बहुत से लोग गाना गा रहे हैं और इसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर अपलोड कर रहे हैं। भुबन का कहना है कि अपलोड करने वाला उन्हें गाने के निर्माता के रूप में क्रेडिट नहीं दे रहा है।

भुबन बड्याकर ने माँग की है कि पुलिस मामले की जाँच करे, और उन्हें उन वीडियो से पैसे दिलाने में मदद करे, जिसके वो हकदार हैं। उन्होंने कहा कि जहाँ अन्य लोग उनके गाने से लाखों कमा रहे हैं, वहीं उनके हाथ खाली हैं। भुवन ने कहा, “गाना वायरल होने के बाद घर में काफी लोगों की भीड़ उमड़ रही है। हर कोई मेरे गाने का वीडियो बनाना चाहता है। उसके बाद वे इंटरनेट पर गाना अपलोड कर अच्छी खासी कमाई कर रहे हैं। लेकिन मेरे हाथ खाली हैं।” उन्होंने यह भी कहा कि उनका YouTube अकाउंट नहीं है।

भुबन ने आगे कहा कि वह अब डरे हुए हैं क्योंकि उनके गाने को रिकॉर्ड करने के लिए इतने सारे लोग आते रहते हैं। उन्होंने कहा कि वह खुद के दिख जाने से इतने डरे हुए थे कि शुक्रवार (3 दिसंबर 2021) को शिकायत दर्ज कराने के लिए थाने जाने के दौरान उन्होंने हेलमेट पहन रखा था। फिर भी लोगों ने उन्हें वहाँ पहचान लिया और उनकी तस्वीरें लेने लगे।

भुबन बड्याकर ने जो गीत लिखा और कंपोज किया है, दरअसल वो बेचने का एक तरीका है। इसमें दिखाया गया है कि उनके पास कच्ची मूँगफली उपलब्ध है, वह भुनी हुई मूँगफली नहीं बेचते हैं। वह अपनी मोटरसाइकिल पर बीरभूम जिले में घूमते हैं, कच्चे मूँगफली के बदले पुराने मोबाइल फोन, नकली आभूषण और ऐसे अन्य सामान लेते हैं। गाना वायरल होने के बाद जल्द ही लोगों ने इसे रीमिक्स करना शुरू कर दिया और इसे सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया।

उनके गाने वायरल होने के बाद, वह इतने लोकप्रिय हो गए कि स्थानीय भाजपा विधायक अनूप साहा भी उनके घर गए और उन्हें हर संभव मदद का वादा किया। यह देख टीएमसी नेतृत्व भी आगे आया और आश्वासन दिया कि ममता बनर्जी सरकार द्वारा घोषित कलाकारों के लिए उन्हें अनुदान मिलेगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -