Wednesday, April 24, 2024
Homeसोशल ट्रेंडजिग्नेश मेवाणी ने हॉस्पिटल के बेड पर बैठकर गुजरात की स्वास्थ्य व्यवस्था पर उठाया...

जिग्नेश मेवाणी ने हॉस्पिटल के बेड पर बैठकर गुजरात की स्वास्थ्य व्यवस्था पर उठाया सवाल, लोगों ने किया जमकर ट्रोल

"मेरे निर्वाचन क्षेत्र वडगाम के लोगों के लिए राहत प्रयासों में सहयोग करना, जो गुजरात की दयनीय स्वास्थ्य सेवाओं से जूझ रहे हैं। संपूर्ण राज्य शवों के ढेर के नीचे दब रहा है। सच कहूँ तो मैं असहाय महसूस करता हूँ। मैं अपने डिस्चार्ज होने का इंतजार नहीं कर सकता, इसलिए मैं वडगाम में अपने लोगों के साथ रह सकता हूँ।"

गुजरात के वडगाम से निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी को सोमवार (19 अप्रैल, 2021) को अस्पताल के बेड पर जानबूझकर कब्जा करने और कोरोना संक्रमित मरीजों की अनदेखी करने पर नेटिजन्स ने सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया है। दलित नेता मेवाणी ने शुक्रवार को बताया कि उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसी बीच सोमवार को ट्वीट कर मेवाणी ने गुजरात की स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल उठाए थे।

उन्होंने ट्वीट किया, “मेरे निर्वाचन क्षेत्र वडगाम के लोगों के लिए राहत प्रयासों में सहयोग करना, जो गुजरात की दयनीय स्वास्थ्य सेवाओं से जूझ रहे हैं। संपूर्ण राज्य शवों के ढेर के नीचे दब रहा है। सच कहूँ तो मैं असहाय महसूस करता हूँ। मैं अपने डिस्चार्ज होने का इंतजार नहीं कर सकता, इसलिए मैं वडगाम में अपने लोगों के साथ रह सकता हूँ।”

जिग्नेश मेवाणी के ट्वीट का स्क्रीनशाॅट।

उनका ये ट्वीट नेटिजन्स को पसंद नहीं आया। उन्होंने मेवाणी को गुजरात की स्वास्थ्य व्यवस्था की आलोचना करने और उनकी दोहरी मानसिकता पर निशाना साधा। उन्होंने सबको बताया कि दोगली बातें करने वाले का इलाज एक शानदार निजी अस्पताल में चल रहा है।

ट्विटर पर एक यूजर (@ bharatendu2206) ने लिखा, “एक अस्पताल में आराम से बैठकर ‘हेल्थकेयर सिस्टम की खिल्ली उड़ा रहा है और मोबाइल फोन से अपने निर्वाचन क्षेत्र को चला रहा, वाह क्या बात है।”

एक अन्य यूजर भावेश लोढ़ा ने ट्वीट किया, “खुद वीआईपी बेड रोक के बैठा है और दूसरों को ज्ञान दे रहा है।”

एक और यूजर (@ugwande2) ने लिखा कि जिग्नेश मेवाणी जैसे लोगों की वजह से जरूरतमंद लोगों को बेड नहीं मिलता है।

एक अभि पटेल नाम के यूजर ने जिग्नेश मेवाणी पर तंज कसते हुए कहा, “आप ठीक तो लग रहे हैं, लेकिन फिर भी अस्पताल के बेड पर कब्जा कर लिया। अच्छा फोटो सेशन है, आप बिल्कुल ठीक लग रहे हैं..क्यों न अपना बेड जरूरतमंद को दें दें?”

मेवाणी ने इससे पहले एक ट्वीट को रीट्वीट करते हुए गुजरात के सरकारी अस्पतालों में कोरोना मरीजों की क्या दशा है ये बताने की कोशिश की थी।

हालाँकि, इससे पहले उन्होंने गुजरात के लोगों की हरसंभव मदद करने की कसम खाई थी। 16 अप्रैल के एक ट्वीट में, उन्होंने लिखा, “कोरोना वायरस से जैसे ही उबरता हूँ, मैं गुजरात में लोगों को जरूरत की हर चीज मुहैया कराने का प्रयास करूँगा। कृपया किसी भी चीज की आवश्यकता होने पर मुझे टैग करें। मैं पूरी कोशिश करूँगा कि जो भी उपलब्ध हो, वह आप तक पहुँचा सकूँ।”

जबकि कई नेटिज़न्स ने कहा है कि जिग्नेश मेवाणी का गुजरात के अहमदाबाद के केडी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में इलाज चल रहा है। लेकिन ऑपइंडिया इन दावों की पुष्टि नहीं करता है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माली और नाई के बेटे जीत रहे पदक, दिहाड़ी मजदूर की बेटी कर रही ओलम्पिक की तैयारी: गोल्ड मेडल जीतने वाले UP के बच्चों...

10 साल से छोटी एक गोल्ड-मेडलिस्ट बच्ची के पिता परचून की दुकान चलाते हैं। वहीं एक अन्य जिम्नास्ट बच्ची के पिता प्राइवेट कम्पनी में काम करते हैं।

कॉन्ग्रेसी दानिश अली ने बुलाए AAP , सपा, कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ता… सबकी आपसे में हो गई फैटम-फैट: लोग बोले- ये चलाएँगे सरकार!

इंडी गठबंधन द्वारा उतारे गए प्रत्याशी दानिश अली की जनसभा में कॉन्ग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe