Wednesday, July 28, 2021
Homeसोशल ट्रेंडPM मोदी की हत्या का पोल चलाने वाले 'वामपंथी गिरोह' के रोहित चोपड़ा का...

PM मोदी की हत्या का पोल चलाने वाले ‘वामपंथी गिरोह’ के रोहित चोपड़ा का अकाउंट सस्पेंड, लेख हटाया गया

पता चला कि उसे देश की राजधानी दिल्ली स्थित थिंक-टैंक ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन (ओआरएफ) ने प्रकाशित किया है। इसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने न केवल तथाकथित पोल के खिलाफ, बल्कि उन्होंने यह भी बताया कि अल्ट्रा-लेफ्ट विंग फर्जी न्यूज पेडलर ओआरएफ का ही हिस्सा था।

वामपंथियों द्वारा हिन्दू धर्म और खासतौर से मोदी के प्रति उनकी घृणा छिपी नहीं है। ऐसे ही एक इसी लिबरल गिरोह का रोहित चोपड़ा अक्सर हिंदुओं के खिलाफ जहर उगलने का काम करता है। रोहित ने इस कार्य के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया। चोपड़ा ने एक बार फिर से हिंदुओं को उकसाने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर कई हिंदू विरोधी पोस्ट किए हैं।

हिंदुओं और विशेष रूप से मोदी के प्रति वामपंथी गिरोह द्वारा व्यक्त की गई घृणा किसी से छिपी नहीं है। इन्ही में से वामपंथियों का एक तथाकथित बुद्धजीवी ग्रुप ऐसा है जो सोशल मीडिया पर अक्सर फर्जी खबरें चलाता है। एक घटना सामने आई है जिसमें पीएम मोदी की अमित शाह द्वारा न सिर्फ हत्या की इच्छा व्यक्त की गई बल्कि ट्विटर पर इसके लिए एक पोल भी चलाया गया।


The Twitter poll ran by Rohit Chopra.

इस ट्वीट को रोहित चोपड़ा ने अपने ट्विटर अकाउंट ‘IndiaExplained’ पर ट्वीट किया। जिसमें यूजर को यह तय करने के साथ वोट देने के लिए कहा गया कि गृह मंत्री अमित शाह अगले प्रधानमंत्री के रूप में मोदी की हत्या कैसे करेंगे? साथ ही देश के प्रधानमंत्री की हत्या की बात किया गया और पीएम मोदी की हत्या के लिए चार बेहद घृणात्मक विकल्प भी प्रस्तुत किए। अब इसके बाद आप अंदाजा लगा सकते हैं कि चोपड़ा के मन में पीएम मोदी के प्रति नफरत का ज़हर किस तरह भरा हुआ है और चोपड़ा की पीएम मोदी के प्रति यह घृणा किसी को भी परेशान कर सकती है।

चोपड़ा ने आगे अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी किया। जिसने कई लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा।


Tweet by Rohit Chopra

बाद में पता चला कि उसे देश की राजधानी दिल्ली स्थित थिंक-टैंक ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन (ओआरएफ) ने प्रकाशित किया है। इसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने न केवल तथाकथित पोल के खिलाफ, बल्कि उन्होंने यह भी बताया कि अल्ट्रा-लेफ्ट विंग फर्जी न्यूज पेडलर ओआरएफ का ही हिस्सा था। सोशल मीडिया पर लोगों की नाराजगी के बाद, ORF के अध्यक्ष समीर सरन ने कहा कि संगठन सोशल मीडिया पर ‘हेट स्पीच’ को समर्थन नहीं देता। इसलिए रोहित के लेख को हटा लिया जाएगा।

अपने अकाउंट से सोशल मीडिया पर इस तरह के नफरत फैलाने वाले पोल चलाने के बाद ट्विटर ने रोहित चोपड़ा के ट्विटर अकाउंट ‘@IndiaExplained’ को निलंबित कर दिया। इसके बाद भी अपने पर्सनल अकाउंट से रोहित का जहर फैलाना जारी रहा। अपने खुद के अकाउंट से वही पोल डाल दिया। और अकाउंट डिलीट करने की चुनौती दी।


Tweet by Rohit Chopra

ORF द्वारा लेख हटा लिए जाने के बाद रोहित चोपड़ा ने फिर से इस आशय का एक ट्वीट अपने अकाउंट से किया।


Tweet by Rohit Chopra

Tweet by Rohit Chopra

Tweet by Rohit Chopra

Tweet by Rohit Chopra

Tweet by Rohit Chopra

यह पहली बार नहीं है कि रोहित चोपड़ा द्वारा चलाया गया सोशल मीडिया अकाउंट विवादों में घिर गया हो। पहले भी चोपड़ा को पैरोडी अकाउंट ‘@RushdieExplains’ द्वारा सलमान रुश्दी के विचार पोस्ट करने के कारण फटकार लगी थी। चोपड़ा की यह हरकत बताती है कि यह वामपंथी गिरोह आज भी अपने तरीके को बदलने के लिए तैयार नहीं है. इसी गिरोह का रोहित चोपड़ा जो कि आपने नए प्रोफ़ाइल ‘@Indiaexplained’ के माध्यम से उसी प्रकार का हेट-स्पीच जारी रखे हुए था। बहरहाल इस ट्विटर अकाउंट को अब मोदी और शाह की हत्या के लिए कॉल करने के लिए ट्विटर द्वारा सस्पेंड कर दिया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उत्तर-पूर्वी राज्यों में संघर्ष पुराना, आंतरिक सीमा विवाद सुलझाने में यहाँ अड़ी हैं पेंच: हिंसा रोकने के हों ठोस उपाय  

असम के मुख्यमंत्री नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस के सबसे महत्वपूर्ण नेता हैं। उनके और साथ ही अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों के लिए यह अवसर है कि दशकों से चल रहे आंतरिक सीमा विवाद का हल निकालने की दिशा में तेज़ी से कदम उठाएँ।

बकरीद की ढील का दिखने लगा असर? केरल में 1 दिन में कोरोना संक्रमण के 22129 केस, 156 मौतें भी

पूरे देश भर में रिपोर्ट हुए कोविड केसों में 53 % मामले अकेले केरल से आए हैं। भारत में कुल मामले जहाँ 42, 917 रिपोर्ट हुए। वहीं राज्य में 1 दिन में 22129 केस आए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,634FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe