Friday, June 21, 2024
Homeसोशल ट्रेंडCBI ने कोर्ट के सामने उजागर किया रिया चक्रवर्ती का 'झूठ', नेटिजन्स बोले- गिरफ्तार...

CBI ने कोर्ट के सामने उजागर किया रिया चक्रवर्ती का ‘झूठ’, नेटिजन्स बोले- गिरफ्तार करो: खुद को ‘ब्रांड एंबेसडर’ बताकर जाना चाहती थी विदेश

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह की मौत मामले को 3 साल से भी ज्यादा हो गए हैं। शुरू में रिया चक्रवर्ती समेत कई लोगों को बुला बुलाकर पूछताछ हुई, फिर बाद में उन्हें भी जमानत मिल गई। अब एक बार फिर इस मामले को सोशल मीडिया पर उठाया गया है और रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी की माँग हो रही है।

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह की मौत मामले को 3 साल से भी ज्यादा हो गए हैं, लेकिन अभी तक ये सामने नहीं आ सका है कि आखिर उस दिन हुआ क्या था। शुरू में रिया चक्रवर्ती समेत कई लोगों को बुला बुलाकर पूछताछ हुई, फिर बाद में उन्हें भी जमानत मिल गई। हालाँकि अब एक बार फिर इस मामले को सोशल मीडिया पर उठाया गया है और रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी की माँग हो रही है। ट्विटर पर #ArrestRheaChakraborty ट्रेंड कर रहा है। सीबीआई जाँच पर सवाल उठाए जा रहे हैं। इस दौरान पता चला है कि केस की आरोपित रिया चक्रवर्ती ने बॉम्बे हाई कोर्ट में विदेश जाने की माँग करते हुए सीबीआई के लुकआउट नोटिस को चुनौती दी थी। जिसका केंद्रीय जाँच ब्यूरो ने बॉम्बे हाईकोर्ट में विरोध किया।

केंद्रीय जाँच ब्यूरो ने बॉम्बे हाईकोर्ट में जस्टिस ए एस गडकरी समक्ष रिया की याचिका का विरोध करते हुए कहा कि जिस कंपनी (Drools Pets Pvt. Ltd.) की ओर से रिया ने बाहर जाने के काम को जरूरी बताया है, वो अब उसकी ब्रांड एंबेसडर है ही नहीं। उसकी एंबेस्डर तो कियारा आडवाणी हैं। इसके अलावा जाँच एजेंसी ने कोर्ट से इस मामले की पूरी जाँच और पुष्टि के लिए समय माँगा है।

बता दें कि रिया चक्रवर्ती ने कोर्ट के लुकआउट नोटिस को कुछ दिन के लिए सस्पेंड करने की माँग करते हुए कहा था कि उन्हें काम के सिलसिले में 27 नवंबर से 2 जनवरी तक दुबई की यात्रा करनी है। इसी पर सीबीआई ने विरोध किया और कोर्ट से कहा कि जब तक वो जाँच न कर लें कि रिया का उस कंपनी से अब क्या संबंध है और वो क्यों बाहर जाना चाहती हैं, तब तक उन्हें विदेश न जाने दिया जाए।

सीबीआई की दलील सुन रिया चक्रवर्ती द्वारा डाली गई याचिका पर कोर्ट ने गौर नहीं किया और सुनवाई की अगली तारीख 26 दिसंबर दे दी। कोर्ट ने कहा कि वह कार्यवाही में जल्दबाजी नहीं करेंगे। उन्होंने सीबीआई को समय दिया है ताकि वो हर तथ्य की जाँच कर सकें।

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत केस की जाँच के दौरान रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शौविक के खिलाफ 2020 में लुकआउट नोटिस जारी हुआ था। इस साल की शुरुआत में शोविक के खिलाफ जारी सर्कुलर अस्थायी रूप से निलंबित किया गया तो उन्हें विदेश यात्रा की अनुमति मिल गई। अब इसी सर्कुलर को हटवाने में रिया चक्रवर्ती जुटी हुई हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिहार का 65% आरक्षण खारिज लेकिन तमिलनाडु में 69% जारी: इस दक्षिणी राज्य में क्यों नहीं लागू होता सुप्रीम कोर्ट का 50% वाला फैसला

जहाँ बिहार के 65% आरक्षण को कोर्ट ने समाप्त कर दिया है, वहीं तमिलनाडु में पिछले तीन दशकों से लगातार 69% आरक्षण दिया जा रहा है।

हज के लिए सऊदी अरब गए 90+ भारतीयों की मौत, अब तक 1000+ लोगों की भीषण गर्मी ले चुकी है जान: मिस्र के सबसे...

मृतकों में ऐसे लोगों की संख्या अधिक है, जिन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं कराया था। इस साल मृतकों की संख्या बढ़कर 1081 तक पहुँच चुकी है, जो अभी बढ़ सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -