Tuesday, October 19, 2021

विषय

बॉम्बे हाई कोर्ट

‘बच्चे के गाल छूना यौन अपराध नहीं’: बॉम्बे HC ने 46 वर्षीय मुर्गी विक्रेता को दी जमानत, दुकान का शटर गिरा बच्ची को अंदर...

बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा कि बिना किसी यौन इच्छा के बच्चे के गाल छूना यौन अपराध नहीं है। उच्च-न्यायालय ने 46 वर्षीय मुर्गी विक्रेता को दी जमानत।

बॉम्बे हाईकोर्ट ने दी मुहर्रम की जुलूस निकालने की अनुमति, सरकारी वकील ने कहा- ‘भीड़ और मजहबी जुलूस को नियंत्रित करना मुश्किल’

बॉम्बे हाई कोर्ट ने मुहर्रम पर जुलूस निकालने की दी अनुमति। 3 घंटे के जुलूस में 7 ट्रक औऱ प्रत्येक में 15 लोगों से अधिक नहीं हो सकेंगे।

स्वतंत्र है भारतीय मीडिया, सूत्रों से बनी खबरें मानहानि नहीं: शिल्पा शेट्टी की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट

कोर्ट ने कहा कि उनका निर्देश मीडिया रिपोर्ट्स को ढकोसला नहीं बताता। भारतीय मीडिया स्वतंत्र है और सूत्रों पर बनी खबरें मानहानि नहीं है।

मीडिया पर फूटा शिल्पा शेट्टी का गुस्सा, फेसबुक-गूगल समेत 29 पर मानहानि केस: शर्लिन चोपड़ा को अग्रिम जमानत नहीं, माँ ने भी की शिकायत

शिल्पा शेट्टी ने छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए 29 पत्रकारों और मीडिया संस्थानों के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस किया है। सुनवाई शुक्रवार को।

शिल्पा शेट्टी के घर पहुँची मुंबई पुलिस, कुंद्रा की रिमांड 27 जुलाई तक बढ़ी: पूनम पांडे- शर्लिन चोपड़ा ने भी खोले कई राज

राज कुंद्रा की पुलिस हिरासत बढ़ने के बाद मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच पोर्न वीडियो केस के संबंध में उन्हें लेकर शिल्पा शेट्टी के घर छापा मारने पहुँची है।

स्टेन स्वामी पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने वापस लिए अपने शब्द: कहा था- हम उनके कार्यों का सम्मान करते हैं, NIA ने जताई थी आपत्ति

बॉम्बे हाईकोर्ट के जस्टिस एसएस शिंदे ने कहा था कि उन्होंने स्टेन स्वामी का अंतिम संस्कार देखा और उनको वो बहुत सम्मानजनक लगा।

‘यह नरमी का हकदार नहीं’: अब्दुल मर्चेंट और अब्दुल राशिद को उम्रकैद, गुलशन कुमार की हत्या का मामला

बॉम्बे हाईकोर्ट ने गुलशन कुमार की हत्या में अब्दुल रऊफ मर्चेंट को दोषी ठहराया है। रमेश तौरानी को बरी करने के फैसले को बरकरार रखा है।

लोनी केस में राणा अय्यूब को बॉम्बे HC ने दी 4 हफ्तों की अग्रिम जमानत, कोर्ट को बताया- अभी हुई है स्पाइनल सर्जरी

इस मामले में एफआईआर 15 जून को दायर हुई थी। यूपी पुलिस ने इस केस को धारा 153, 153ए, 295ए, 505 और 120 बी के तहत दायर किया था।

महाराष्ट्र में डॉक्टरों पर हमले के 436 केस: उद्धव सरकार की लापरवाही पर बॉम्बे HC ने लगाई फटकार

"ये हैरानी की बात है कि एक पन्ने का हलफनामा दायर किया गया। अगली बार से हम ऐसे हलफनामे नहीं स्वीकारेंगे जब तक कि सरकारी वकील द्वारा इसकी जाँच नहीं की जाती।"

महाराष्ट्र पुलिस में दलाली और उद्धव-पवार का नाम: जिस महिला IPS ने खोले पोल, उनकी गिरफ्तारी पर HC की रोक

IPS अधिकारी रश्मि शुक्ला बॉम्बे हाईकोर्ट पहुँचीं, जहाँ FIR रद्द कर के पुलिस को कोई सख्त कदम उठाने से रोकने का निर्देश देने की दरख़्वास्त की गई।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,765FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe