Wednesday, June 16, 2021

विषय

मीडिया गिरोह

सुशांत ड्रग एडिक्ट था, सुसाइड से मोदी सरकार ने बॉलीवुड को ठिकाने लगाया: आतिश तासीर की नई स्क्रिप्ट, ‘खान’ के घटते स्टारडम पर भी...

बॉलीवुड के तीनों खान-सलमान, शाहरुख और आमिर के पतन के पीछे कौन? मोदी सरकार। लेख लिखकर बताया गया है।

तवलीन सिंह जैसी प्रोपगेंडा पत्रकार सोचती हैं सिर्फ BPL वालों को मिलता है फ्री राशन: जानें कौन-कौन है इस सेवा के योग्य

वैसे तो तवलीन के इस ट्वीट के नीचे सोशल मीडिया यूजर्स ने ही उन्हें सलाह दे दी कि पहले तो वह एसी कमरे में बैठकर देश के हालातों पर बात न करें तो बेहतर होगा।

PM मोदी के अंडर काम करने वाला IAS, दूरदर्शन/प्रसार भारती का था CEO… अब प्रधानमंत्री की फेक फोटो से फैला रहा झूठ

प्रसार भारती के पूर्व सीईओ जवाहर सरकार ने पीएम मोदी की फेक तस्वीर शेयर कर फैलाया झूठ, जबकि असली तस्वीर छिपा ली

मैं चाहे जो लिखूँ-बोलूँ, मेरी मर्जी: बालसुलभ तर्कों से लैस इतिहास्य-कार, आरफा खानुम महज झाँकी है

औरंगज़ेब ने भले दर्जनों मंदिर तुड़वाए, लेकिन इतिहासकार चाहे तो अपने इतिहास की कार चढ़ा उसे कुचल दे और साबित कर दे कि वह तो बड़ा शालीन शासक था।

हिंदू-मुस्लिम एंगल देकर सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट रोकने की साजिश: विधायक, कलाकर, मीडिया… सब इस खेल में शामिल

"मौजूदा संसद भवन और राजपथ दुनिया की इस्लाम प्रभावित सबसे महत्वपूर्ण निशानी... मोदी भारत की सभी इस्लामिक इमारतों और 20 करोड़ मुसलमानों को नेस्तनाबूद करने से कम कुछ भी नहीं चाहते।"

वास्तुकार बिमल पटेल ‘नाजी’ और पीएम मोदी ‘औरंगजेब’: अनीश कपूर का सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर प्रपंच, हिन्दू विरोध का रहा है इतिहास

कपूर ने अपने प्रोपेगेंडा लेख में लिखा कि मोदी का हिन्दू तालिबान देश में सांस्कृतिक प्रभुसत्ता स्थापित करने के लिए स्मारक बनाना चाहता है जैसा कि लगभग सभी फासीवादी नेता करते हैं।

बच्ची का मौलवी ने किया रेप: मस्जिद को ‘धार्मिक स्थल’ बता रहा मीडिया, मौलाना को ‘साधु-तांत्रिक’ लिख करते हैं खेल

'दैनिक जागरण' के अलावा 'अमर उजाला' और 'दैनिक भास्कर' ने भी अपनी हैडिंग में मस्जिद को 'धार्मिक स्थल' लिखा। क्या इससे हिन्दू मंदिर बदनाम नहीं हो रहे?

‘बहुत बड़ी रणनीति है’: ‘नेशनल हेराल्ड’ की कंसल्टिंग एडिटर ने बताया राहुल गाँधी ने पत्रकारों को क्यों किया अनफॉलो

ट्विटर पर इस चर्चा को कई भाजपा समर्थकों ने ज्वाइन किया था, ताकि वह जान सकें बासु का क्या कहना है। लेकिन भाजपा समर्थक इससे जुड़ने के बाद सिर्फ हँसने वाली इमोजी भेजते रहे।

दिल्ली हाई कोर्ट ने वायर-क्विंट जैसों की याचिका को नहीं माना ‘अर्जेंट’, मोदी सरकार के IT नियमों को दी थी चुनौती

याचिकाकर्ताओं ने मामले को मौलिक अधिकारों से जोड़ते हुए अर्जेंट बताया था। हाई कोर्ट ने इसे अर्जेंट नहीं मानते हुए सुनवाई टाल दी।

‘NYT के दावे आधारहीन और झूठे’: कल्पनाओं में भारत में मार दिए 42 लाख लोग, राहुल गाँधी ने भी लपका

भारत में कोरोना से करीब 3.16 लाख मौतें हुई है, लेकिन न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में यह संख्या 6 से 42 लाख बताई थी।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
104,290FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe