Wednesday, June 19, 2024
Homeरिपोर्टमीडियाध्रुव राठी गाता था AAP के लिए गाना, फेमस होकर डिलीट किए वीडियोज: एल्विश...

ध्रुव राठी गाता था AAP के लिए गाना, फेमस होकर डिलीट किए वीडियोज: एल्विश यादव की वीडियो में कई खुलासे, CAA दंगों से भी राठी का निकाला कनेक्शन

एल्विश ने खुलासा किया कि ध्रुव राठी ने दिसम्बर 2014 में अरविन्द केजरीवाल के लिए एक गाना भी बनाया था और इसके अलावा 2015 में भी एक गाना AAP कार्यकर्ताओं पर बनाया था। AAP के लिए बनाई गई कई वीडियो ध्रुव राठी ने बाद में डिलीट भी की हैं, इनसे उनके लिंक का खुलासा हो रहा था।

प्रोपेगेंडा वीडियो बनाने वाले यूट्यूबर ध्रुव राठी की पोल एल्विश यादव ने खोल दी है। ध्रुव राठी के आम आदमी पार्टी से जुड़ाव समेत उसके द्वारा चलाए गए दुष्प्रचार की भी सच्चाई एल्विश यादव ने सामने रखी है। इसमें बताया गया है कि कैसे ध्रुव राठी ने लगातार झूठ पर आधारित वीडियो बनाए और उसके कहाँ कहाँ लिंक हैं।

ध्रुव राठी के निष्पक्ष होने के दावे को लेकर एल्विश यादव ने सबूतों के साथ बताया है कि ध्रुव राठी आम आदमी पार्टी के आईटी सेल के लिए काम करते थे। वह आम आमदी पार्टी के लिए बनाए गए गाने फेसबुक पर डाला करते थे। वह इस टीम के एक सक्रिय सदस्य थे। एल्विश ने यह भी बताया कि ध्रुव राठी AAP का घोषणा पत्र बनाने वाली टीम का हिस्सा रहे हैं, इसी पुष्टि AAP पदाधिकारियों ने भी की थी।

एल्विश ने खुलासा किया कि ध्रुव राठी ने दिसम्बर 2014 में अरविन्द केजरीवाल के लिए एक गाना भी बनाया था और इसके अलावा 2015 में भी एक गाना AAP कार्यकर्ताओं पर बनाया था। AAP के लिए बनाई गई कई वीडियो ध्रुव राठी ने बाद में डिलीट भी की हैं, इनसे उनके लिंक का खुलासा हो रहा था।

इसी तरह की एक वीडियो में राठी ने दिल्ली की ऑड इवन स्कीम को लेकर बात की थी, इसे बाद में डिलीट कर दिया गया था। निष्पक्षता का दावा करने वाले ध्रुव राठी भाजपा के खिलाफ फर्जी दावे भी करते आए हैं। एक वीडियो में ध्रुव राठी ने AAP नेताओं के अपराधों को छुपा कर भाजपा नेताओं को अपराध में संलिप्त बताया था।

एल्विश यादव ने ध्रुव राठी के अन्य ऐसे ही लोगों से लिंक के खुलासे भी किए जो लगातार भारत विरोधी प्रोपेगेंडा में लगे रहे हैं। एल्विश ने खुलासा किया कि ध्रुव राठी का एक साथी आदिल अमन लगातार पीएम मोदी और अमित शाह की मौत की बात कर रहा था। वह ब्राम्हणों और महिलाओं को लेकर भी जहर उगल रहा था। ध्रुव राठी के एक प्रदर्शन में वामपंथी छात्र संगठन के सदस्य भी शामिल हुए थे।

ध्रुव राठी से जुड़े आदिल अमन का जुड़ाव हर्ष मांदर से है। हर्ष मांदर CAA विरोधी दंगों के दौरान भड़काऊ भाषण दे रहे थे। वह पूर्व IAS हैं और भाजपा और पीएम का विरोध करते रहते हैं। आदिल अमन, हर्ष मांदर भी ध्रुव राठी के बाद जर्मनी भाग चुके हैं। हर्ष मांदर दंगा विरोधी बिल भी लाया था, जिसके जरिए हिन्दुओं की प्रताड़ना की साजिश रची जा रही थी। वह जॉर्ज सोरोस के नेटवर्क से जुड़ा हुआ है।

एल्विश ने हर्ष मांदर और ध्रुव राठी के वीडियो के बीच के लिंक को भी सामने रखा। हर्ष मांदर जिन मुद्दों को उठाते हैं, उन पर ध्रुव राठी वीडियो बनाते हैं। इनमें कई बार वह झूठ बोलते हैंध्रुव राठी के एक वीडियो के पीछे हर्ष मांदर का एक लेख था जो कि वीडियो से दो दिन ही पहले लिखा गया था।

एल्विश ने बताया कि ध्रुव राठी की अधिकांश वीडियो हर्ष मांदर के लेख के बाद आती हैं। इसके अलावा ध्रुव राठी के तार इरफ़ान मेहराज से जुड़े हैं, जो कि भारत विरोधी लेख और वीडियो सामग्री बनाता रहा है, उसे NIA ने भी गिरफ्तार किया था, यह जानकारी भी एल्विश यादव ने दी है।

ध्रुव राठी ने जहाँ एक तरफ पीएम मोदी को तानाशाह बताया वहीं वह स्वयं आलोचना नहीं सुनते। ध्रुव राठी अपने विरोध में बनने वाली हर एक वीडियो को रिपोर्ट करवाते हैं, उनके समर्थक उस पर उलटे सीधे कमेन्ट करते हैं। यहाँ तक कि लोगों पर हमला भी करवाया जाता है। एल्विश ने बताया कि जर्मनी के भीतर एक यूट्यूबर पर राठी समर्थकों ने हमला किया था। ध्रुव राठी पर एल्विश का यह वीडियो आप नीचे लगे लिंक पर सकते हैं।

ध्रुव राठी छत्रपति शिवाजी पर भी झूठ फैलाता रहा है। उसने अपने हिसाब से तथ्य बताए और अपने नैरेटिव को साधने का प्रयास किया। एल्विश ने खुलासा किया कि ध्रुव राठी की वीडियो को एक और सहयोगी विजेता दहिया लिखती हैं, इसकी टीम के तीन और सदस्य वीडियो से जुड़े बाकी काम करते हैं। ध्रुव राठी ने एक क्रिप्टोकरेंसी को भी बढ़ावा दिया था, इसमें लोगों के पैसे डूबे थे। इसके अलावा ध्रुव राठी लगातर हिन्दुओं को अपने वीडियो में आतंकी बताता रहा है।

गौरतलब है कि ध्रुव राठी को लगातार लिबरल और वामपंथी गैंग प्रमोट करता आया है, वह ध्रुव राठी को एक बुद्धिजीवी बताते हैं और सच सामने रखने वाला पत्रकार बताते हैं, असल में जबकि वह हिन्दुओं से घृणा करने वाला एक्टिविस्ट है। उसके काले कारनामों का अब धीमे धीमे खुलासा होने लगा है। एल्विश का यह वीडियो ध्रुव राठी पर और सच्चाई को सामने लाता है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमारे बारह’ पर जो बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, वही हम भी कह रहे- मुस्लिम नहीं हैं अल्पसंख्यक… अब तो बंद हो देश के...

हाई कोर्ट ने कहा कि उन्हें फिल्म देखखर नहीं लगा कि कोई ऐसी चीज है इसमें जो हिंसा भड़काने वाली है। अगर लगता, तो पहले ही इस पर आपत्ति जता देते।

NEET पर जिस आयुषी पटेल के दावों को प्रियंका गाँधी ने दी हवा, उसके खुद के दस्तावेज फर्जी: कहा था- NTA ने रिजल्ट नहीं...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में झूठी साबित होने के बाद आयुषी पटेल ने अपनी याचिका भी वापस लेने का अनुरोध किया। कोर्ट ने NTA को छूट दी है कि वह आयुषी पटेल के खिलाफ नियमानुसार एक्शन ले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -