Thursday, August 6, 2020

विषय

Freedom of Speech

स्टेज पर नंगे होकर प्रदर्शन करने वाली कॉमेडियन: जिसे है बुर्के से प्यार, करती है हिंदू देवी-देवता से नफरत

राधिका वाज को हिंदू धर्म से नफ़रत है। उसका दावा है कि भारत दुनिया का चौथा सबसे खतरनाक देश है और इसके लिए हिंदू धर्म के आदमी...

आतंकवादी के प्रति सहानुभूति जताने के लिए रूसी पत्रकार पर ₽5 लाख का जुर्माना, मानवाधिकर संगठनों ने जताया विरोध

रूस की पत्रकार Svetlana Prokopyeva पर आरोप है कि उन्होंने आतंकवादी के साथ सहानुभूति जताई। जुर्माने के बाद HR संस्थाओं ने जताया विरोध।

‘तुम्हारे लेख भड़काऊ और उत्तेजक हैं’: पत्रकारों पर FIR के बाद अब कॉन्ग्रेस ने फर्स्टपोस्ट को भेजा कानूनी नोटिस

कॉन्ग्रेस ने फर्स्टपोस्ट को मानहानि का क़ानूनी नोटिस भेजा है। पार्टी ने आरोप लगाया है कि फर्स्टपोस्ट के लेख उत्तेजक और भड़काऊ हैं।

ऑपइंडिया को पुलिस से डराना: ‘प्रेस स्वतंत्रता’ टुटपुँजिया वामपंथी पत्रकारों या बड़ी संस्थाओं की बपौती नहीं

किसी भी राज्य की पुलिस, हमारे पीछे अपनी राजनैतिक मजबूरियों के कारण भले ही लग जाए, लेकिन वो ऑपइंडिया से खबरें डिलीट नहीं करवा सकते। कानूनी रूप से लड़ोगे, हम पहले से ज्यादा तैयार हैं। हम यहाँ टिकने आए हैं, खबरें डिलीट करने नहीं।

कोलकाता न्यूज केबल से हटने के बाद ABP संपादक को पुलिस ने भेजा समन: प्रेस फ्रीडम को लेकर ममता पर उठे सवाल

इससे पहले कोलकाता न्यूज का मामला पिछले माह प्रकाश में आया था, जब सरकार से सवाल पूछने पर कई केबल नेटवर्क से उसे गायब कर दिया गया था।

जब लोकमान्य तिलक की प्रेस को बिकने से बचाने के लिए लोगों ने जुटाए थे ₹3 लाख

अभिव्यक्ति की आजादी के लिए राष्ट्रवादी विचारधारा को वही संघर्ष आज भी देखना पड़ता है, जिससे एक समय लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक को गुजरना पड़ा था।

ऑपइंडिया और इनके सम्पादकों के हालिया उत्पीड़न पर CEO राहुल रौशन का संदेश

हमले हमें परेशान नहीं करते हैं, वास्तव में, अगर वे हम पर हमला नहीं करते हैं, तो हमें ऐसा लगता है कि हम कुछ सही नहीं कर रहे हैं, कुछ दमदार काम नहीं है। इसलिए सबसे पहले, ऐसे नफरत करने वालों को धन्यवाद, वे हम पर हमला करते रहें।

अभिव्यक्ति की आजादी देश की चूलें हिलाने में नहीं, देशहित में अभिव्यक्त हों: आजादी के सिपाहियों की मंशा

कुछ लोगों को लगता है कि सत्ता के खिलाफ आवाज उठाना ही सबसे बड़ा वाक्शौर्य है, लेकिन वो भूल जाते हैं कि अभिव्यक्ति की आजादी का मतलब सिर्फ...

जब तक हिन्दू बहुमत में है तभी तक रहेगा लोकतंत्र: भारत की आत्मा में श्रीराम बसे हैं, बाबर नहीं

गुरु नानक ने स्वयं अपनी आँखों से देखे बाबर के अत्याचारों का ऐसा दर्दनाक वर्णन किया है कि आज भी उसको पढ़ कर किसी का भी दिल पसीजे बिना नहीं रह सकता। उस अत्याचारी बादशाह की जामिया मिलिया जैसे राष्ट्रीय संस्थान में जयंती मनाई गई थी।

गुलबर्गा यूनिवर्सिटी से कन्हैया कुमार को ‘आंबेडकर’ ने भगाया, कार्यक्रम रद्द

कर्नाटक के गुलबर्गा यूनिवर्सिटी में कन्हैया कुमार को कार्यक्रम करने के लिए परमिशन देने से इंकार कर दिया गया है ।

ताज़ा ख़बरें

उनके प्रपंच का गुंबद था अयोध्या, ढह गया, पर राम मंदिर के उत्साह में मथुरा-काशी का दर्द न दबे

आज भले अयोध्या पर उनके प्रपंच का गुम्बद ढह गया है। लेकिन बाबरी मस्जिद बनाने के बाद से करीब 500 साल का इतिहास जोर, छल और प्रपंच का ही गवाह रहा।

जमशेदपुर: हनुमान मंदिर में बजी रामधुन तो झारखंड सरकार ने पुलिस भेज उतरवा लिए लाउडस्पीकर

रामधुन बजाए जाने पर जमशेदपुर के एक मंदिर से पुलिस ने लाउडस्पीकर उतरवा लिए। उनका कहना था कि इससे माहौल बिगड़ सकता है।

हर बात पर बक-बक करने वाले भूमिपूजन पर गूँगे, फिर भी कुछ सेलेब्रिटी थे जिन्होंने कहा- जय श्रीराम

सोशल मीडिया में यूजर्स ने इस तरफ ध्यान खींचा है कि कैसे हर मुद्दे पर अपनी राय देने वाले सेलेब्रिटी ने भूमिपूजन पर चुप्पी साध ली।

राम मंदिर भूमिपूजन दुनिया के सबसे ज्यादा देखे जाने वाले कार्यक्रमों में शुमार, पाकिस्तान को लताड़

यूके, अमेरिका, कनाडा, इंडोनेशिया, ऑस्ट्रेलिया, थाईलैंड और नेपाल सहित कई देशों में विभिन्न टीवी चैनलों द्वारा इसका लाइव प्रसारण किया गया।

असम: राम मंदिर का जश्न मना रहे बजरंगदल कार्यकर्ताओं से मुस्लिमों ने की हिंसक झड़प, 25 को बनाया बंधक, कर्फ्यू

झड़प के दौरान पाकिस्तान के समर्थन में भी नारे लगे गए और मुस्लिम युवकों ने बजरंगदल के करीब 25 कार्यकर्ताओं को बंधक भी बना दिया।

प्रचलित ख़बरें

मरते हुए सड़क पर रक्त से लिखा सीताराम, मरने के बाद भी खोपड़ी में मारी गई 7 गोलियाँ… वो एक रामभक्त था

वो गोली लगते ही गिरे और अपने खून से लिखा "सीताराम"। शायद भगवान का स्मरण या अपना नाम! CRPF वाले ने 7 गोलियाँ और मार कर...

‘इससे अल्लाह खुश होता है, तो शैतान किससे खुश होगा?’ गाय को क्रेन से लटकाया, पटका फिर काटा

पाकिस्तान का बताए जाने वाले इस वीडियो में देखा जा सकता है कि गाय को क्रेन से ऊपर उठाया गया है और कई लोग वहाँ तमाशा देख रहे हैं।

‘खड़े-खड़े रेप कर दूँगा, फाड़ कर चार कर दूँगा’ – ‘देवांशी’ को समीर अहमद की धमकी, दिल्ली दंगों वाला इलाका

"अपने कुत्ते को यहाँ पेशाब मत करवाना नहीं तो मैं तुझे फाड़ कर चार कर दूँगा, तेरा यहीं खड़े-खड़े रेप कर दूँगा।" - समीर ने 'देवांशी' को यही कहा था।

12:34 मिनट का दुर्लभ वीडियो: कारसेवकों पर बरस रही थीं गोलियाँ और जय श्रीराम के नारों से गूँज रहा था आसमान

मृत श्रद्धालुओं को न सिर्फ मार डाला गया था बल्कि हिन्दू रीति-रिवाजों के अनुसार उनका अंतिम संस्कार तक नहीं होने दिया गया था। उन्हें दफना दिया गया था।

अपने CM पिता से जाकर ये 7 सवाल पूछो: सुशांत की मौत के मामले में कंगना ने आदित्य ठाकरे की लगाई क्लास

कंगना ने कहा कि किस तरह की गंदी राजनीति कर के उद्धव ठाकरे ने सीएम पद पाया था, ये किसी से छिपा नहीं है।

हमसे जुड़ें

244,281FansLike
64,412FollowersFollow
290,000SubscribersSubscribe
Advertisements