Saturday, May 25, 2024
Homeव्हाट दी फ*'छोटे लड़के बेडरूम में चीजों को बनाते हैं मजेदार' : 46 साल की 'OnlyFans'...

‘छोटे लड़के बेडरूम में चीजों को बनाते हैं मजेदार’ : 46 साल की ‘OnlyFans’ मॉडल, जिसे मिलते हैं 400 वैलेंटाइन ऑफर

नीता मैरी कहती हैं कि उन्हें अच्छा लगता है कि कम उम्र वाले लड़के उन्हें पसंद करते हैं। उनके मुताबिक छोटी उम्र के लड़के नई चीजें करने से नहीं कतराते और सेक्स के दौरान बेडरूम के माहौल को मनोरंजक बनाए रखते हैं।

वैलेंटाइन डे को तवज्जो हर कोई अपने हिसाब से देता है। कोई इसे सामान्य दिन मानता है तो कोई खास। लेकिन ओनली फैंस की मॉडल नीता मैरी के लिए ये दिन खास से भी बहुत खास है, क्योंकि इस दिन के नाम पर उन्हें एक दो नहीं बल्कि 400 के करीब तोहफे मिलते हैं। दिलचस्प बात ये है कि मॉडल की उम्र 46 साल है और वे शादीशुदा हैं। बावजूद इसके उनके वैलेंटाइन्स की सूची बस बढ़ ही रही है। कोई उन्हें फूल देता है, कोई कार्ड तो कोई चॉकलेट और कुछ लोग तो उन्हें तोहफे में तमाम डॉलर दे जाते हैं।

वह कहती हैं कि उन्हें अटेंशन पाना और अटेंशन देना दोनों बहुत अच्छा लगता है। उन्हें वैलेंटाइन डे भी इसलिए पसंद है क्योंकि इस दिन उन्हें लगभग 400 लोगों से ज्यादा के संदेश आते हैं जिनमें उन्हें कई चीजों के अलावा 20 डॉलर से लेकर 500 डॉलर तक गिफ्ट किए जाते हैं। वह बताती हैं कि उनके लिए अपनी उम्र से कम उम्र वाले लड़कों से संदेश पाना कोई अलग बात नहीं है। उन्होंने शादी भी एक ऐसे लड़के से की है जो उम्र में उनके 13 साल छोटा है। हालाँकि निजी कारणों से कभी उस शख्स के नाम का खुलासा नहीं किया।

न्यूड तस्वीरें डालकर पैसे कमाने वाले प्लेटफॉर्म ओनली फैंस की मॉडल नीता बताती हैं, “मेरे फैन्स की उम्र 25 साल है। मुझे एक ऐसी बड़ी उम्र की औरत होने में खुशी मिलती है जिसे छोटी उम्र के लड़के पसंद करते हैं। इससे मुझे अपने सेक्सुएलिटी और उस शक्ति का एहसास होता है जो मेरी त्वचा में है। कोई फर्क नहीं पड़ता कि उम्र क्या है।” वह कहती हैं, “नए लड़कों को डेट करना अच्छा लगता है क्योंकि वो कुछ नया करते हुए नहीं घबराते हैं। वह ज्यादा देर तक सेक्स कर पाते हैं और बेडरूम में चीजों को मजेदार बनाए रखते हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

18 साल से ईसाई मजहब का प्रचार कर रहा था पादरी, अब हिन्दू धर्म में की घर-वापसी: सतानंद महाराज ने नक्सल बेल्ट रहे इलाके...

सतानंद महाराज ने साजिश का खुलासा करते हुए बताया, "हनुमान जी की मोम की मूर्ति बनाई जाती है, उन्हें धूप में रख कर पिघला दिया जाता है और बच्चों को कहा जाता है कि जब ये खुद को नहीं बचा सके तो तुम्हें क्या बचाएँगे।""

‘घेरलू खान मार्केट की बिक्री कम हो गई है, इसीलिए अंतरराष्ट्रीय खान मार्केट मदद करने आया है’: विदेश मंत्री S जयशंकर का भारत विरोधी...

केंद्रीय विदेश मंत्री S जयशंकर ने कहा है कि ये 'खान मार्केट' बहुत बड़ा है, इसका एक वैश्विक वर्जन भी है जिसे अब 'इंटरनेशनल खान मार्केट' कह सकते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -