Friday, August 12, 2022
Homeव्हाट दी फ*कोरोना के नाम पर 37 करोड़ रुपए का लोन: मुस्तफा ने गिरफ्तार होने से...

कोरोना के नाम पर 37 करोड़ रुपए का लोन: मुस्तफा ने गिरफ्तार होने से पहले खरीदे फेरारी, बेंटले और लैम्बोर्गिनी

मुस्तफा कादिरी ने कोरोना के नाम पर लगभग 37 करोड़ रुपए का लोन लिया बिजनेस करने के लिए। लेकिन अय्याशी करने और फेरारी, बेंटले, लैम्बोर्गिनी कार खरीदने में खर्च कर दिया।

अमेरिका में कैलिफोर्निया के इरविने में फोनी बिजनेस के लिए कोरोना रिलीफ लोन लिया गया। 5 मिलियन डॉलर (लगभग 37 करोड़ रुपए) का लोन लेने वाले मुस्तफा कादिरी (38 वर्ष) ने हालाँकि लोन के नाम पर फर्जीवाड़ा किया। अब उसे गिरफ्तार किया गया है।

इस मामले में अभियोजन पक्ष ने सोमवार (10 मई 2010) को कहा कि आरोपित ने कोरोना रिलीफ लोन को बेफिजूल की छुट्टियों और फेरारी, बेंटले और लैम्बोर्गिनी कार खरीदने में खर्च कर दिया। उसे पिछले हफ्ते ही पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

गौरतलब है कि कोरोना रिलीफ योजना को पिछले कोरोना वायरस के कारण तबाह हो चुके छोटे व्यापारियों की मदद करने के लिए शुरू किया गया था।

अमेरिका के अटॉर्नी ऑफिस की तरफ से इस बात की जानकारी दी गई है कि बैंक फ्रॉड, वायर फ्रॉड, पहचान छुपाने और मनी लॉन्ड्रिंग समेत कई मामलों में गिरफ्तार कादरी को फिलहाल दोषी नहीं पाया गया है। इस केस में कादरी का पक्ष रखने वाले अटॉर्नी बिलाल ए एस्साइली ने फिलहाल कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है।

अभियोजन पक्ष ने दावा किया है कि क्वादरी ने तीन बैंकों में चार कंपनियों के नाम पर गलत तरीके से पीपीपी लोन के लिए अप्लाई किया था। जबकि, वास्तव में वो कंपनियाँ हैं ही नहीं। अभियोग के अनुसार आवेदन में परिवर्तित बैंक रिकॉर्ड, फर्जी टैक्स रिटर्न और कर्मचारियों के बारे में जानकारी शामिल है।

इतना ही नहीं अभियोजन अधिकारी ने दावा किया है कि आरोपित मुस्तफा कादरी ने फ्रॉड के लिए किसी दूसरे के नाम, सोशल सिक्योरिटी नंबर और हस्ताक्षर का इस्तेमाल किया था।

जाँच अधिकारियों का कहना है कि मुस्तफा ने 5 मिलियन का लोन हासिल किया था, जिसे उसने घूमने, स्पोर्ट्स कार खरीदने पर खर्च कर दिया। फेडरल एजेंट ने कादरी द्वारा खरीदी गई फेरारी, बेंटले और लैम्बोर्गिनी कार के साथ उसके बैंक खाते से 2 मिलियन (करीब 15 करोड़ रुपए) जब्त कर लिया है।

अमेरिका की जिला जज जोसफिन एल स्टेटन ने मामले की अगली सुनवाई को 29 जून तक के लिए बढ़ा दिया है। वहीं कादरी को 100,000 डॉलर (करीब 73 लाख रुपए) के बॉन्ड पर जमानत दे दी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जैश के संदिग्ध आतंकी मोहम्मद नदीम को यूपी ATS ने किया गिरफ्तार, नूपुर शर्मा की हत्या का था प्लान, पाकिस्तान से जुड़े तार

यूपी के सहारनपुर से एटीएस ने जैश-ए-मोहम्मद और पाकिस्तान के संगठन तहरीक-ए-तालिबान से जुड़े संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया है।

कब्रिस्तान की बॉउंड्री से सटी मिली 25 वर्षीय लड़की की सिर कटी लाश, हत्यारों ने चादर में बाँधकर फेंका: मेरठ की घटना

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में कब्रिस्तान की बॉउंड्री के पास मार्निंग वॉक पर निकले लोगों को एक युवती की सिर कटी लाश मिली है

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,239FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe