Tuesday, October 19, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकराजनीति फ़ैक्ट चेकगेहूँ खरीद पर झूठ फैलाते पकड़े गए AAP नेता गोपाल राय: FCI ने खोली...

गेहूँ खरीद पर झूठ फैलाते पकड़े गए AAP नेता गोपाल राय: FCI ने खोली पोल, लोगों ने कहा- ‘झूठ और मक्कारी केजरीवाल सरकार की आदत’

FCI ने जानकारी दी कि दिल्ली क्षेत्र में तीन केंद्र किसानों से गेहूँ खरीदने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं: FSD मायापुरी, FSD नरेला और APMC नजफगढ़ मंडी जो कि 1 अप्रैल 2021 से पूरी तरह से चालू हो गया है और 8 अप्रैल 2021 तक 15.8 मीट्रिक टन (158 क्विंटल) गेहूँ FSD नरेला पर FCI दिल्ली द्वारा खरीदा गया है।

दिल्ली के कृषि मंत्री गोपाल राय ने FCI पर बड़ा आरोप लगाया है। गोपाल राय का कहना है कि दिल्ली में MSP पर गेहूँ खरीद के लिए FCI ने काउंटर नहीं खोले हैं। राय की मानें तो FCI अपनी ओर से दावे कर रही है कि उन्होंने 1 अप्रैल से MSP पर खरीददारी के लिए काउंटर ओपन किए हैं। लेकिन हकीकत में यह झूठ है। राय के मुताबिक वह इस संबंध में तीन बार FCI को चिट्ठी लिख चुके हैं।

गोपाल राय ने दिल्ली सचिवालय में हुए एक प्रेस वार्ता में यह भी सफाई दी कि केंद्र सरकार फसल की एमएसपी तैयार करती है और एफसीआई खरीददारी करती है, लेकिन भाजपा झूठा आरोप लगा रही है कि दिल्ली सरकार एमएसपी पर गेहूँ नहीं खरीद रही है। उनके अनुसार MSP पर फसल खरीदने के प्रधानमंत्री के आश्वासन की यही हकीकत है, इसलिए MSP कानून बनाना जरूरी है।

मीडिया के जरिए गोपाय राय ने केंद्र सरकार से माँग की कि नजफगढ़ और नरेला मंडी में तत्काल एमएसपी पर खरीददारी शुरू की जाए और 1 अप्रैल से दिल्ली में खरीद करने के झूठे दावे की जाँच कर दोषियों पर कार्रवाई की जाए।

अब गोपाल राय के यह दावे हर जगह मीडिया में प्रकाशित हो रहे हैं। इनमें से एक मीडिया खबर को आम आदमी पार्टी ने अपने ट्विटर पर भी शेयर किया है। AAP ने खबर के साथ ट्वीट में लिखा, “MSP पर फसल खरीदने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आश्वासन की खुली पोल। दिल्ली में गेहूँ खरीद के लिए FCI ने नहीं खोला एक भी काउंटर।”

AAP के इस ट्वीट के बाद कई सोशल मीडिया यूजर्स इसे पार्टी का प्रोपगेंडा बताने लगे। लोगों ने कहा कि आम आदमी पार्टी नेताओं की आदत हो चुकी है कि वह झूठ फैलाएँ और पॉलिटिकल एजेंडा के तहत किसानों को बरगलाएँ।

इस बीच फुड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने भी आप नेता के आरोपों पर उन्हें करारा जवाब दिया। FCI ने अपने ट्विटर पर इस दावे को पूरी तरह गलत और निराधार बताया। FCI ने जानकारी दी कि दिल्ली क्षेत्र में तीन केंद्र किसानों से गेहूँ खरीदने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं: FSD मायापुरी, FSD नरेला और APMC नजफगढ़ मंडी जो कि 1 अप्रैल 2021 से पूरी तरह से चालू हो गया है और 8 अप्रैल 2021 तक 15.8 मीट्रिक टन (158 क्विंटल) गेहूँ FSD नरेला पर FCI दिल्ली द्वारा खरीदा गया है।

FCI के इस ट्वीट के बाद कई अन्य यूजर्स AAP पर सवाल खड़े कर रहे हैं। यूजर्स का कहना है, “दिल्ली की AAP सरकार का सिर्फ एक ही काम करने का तरीका है- झूठ फैलाना और किसी तरह केंद्र सरकार के ऊपर इल्जाम लगाकर जनता को बेवकूफ बनाना और राज करते रहना। दिल्ली की केजरीवाल सरकार के झूठ, मक्कारी और प्रोपगेंडों का फैक्ट चेक करते रहिए नहीं तो भ्रमित रहेंगे।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe