Tuesday, July 16, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकराजनीति फ़ैक्ट चेककेजरीवाल के लिए नहीं उतरी सड़क पर ये भीड़, पुरी की रथ यात्रा की...

केजरीवाल के लिए नहीं उतरी सड़क पर ये भीड़, पुरी की रथ यात्रा की है तस्वीर: AAP समर्थक खुले में फैला रहे झूठ

जब हमने इंटरनेट पर सर्च करके इस फोटो की हकीकत जाननी चाही तो पता चला कि ये फोटो असल में केजरीवाल के समर्थन में उतरी भीड़ की नहीं है बल्कि ओडिशा के जगन्नाथ पुरी में जुटी भीड़ की है।

दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद से आम आदमी पार्टी के समर्थक सड़कों पर आ गए हैं। इस दौरान तरह-तरह के युक्तियाँ आजमा कर AAP अपने साथ ज्यादा से ज्यादा जनसमर्थन जोड़ने के प्रयास में है और इसी कोशिश को करते हुए वो फेक तस्वीरें शेयर करने से नहीं चूँक रहे।

जैसे एक फोटो शेयर हो रही है जिसमें खचाखच भीड़ नजर आ रही है और सोशल मीडिया पर लिखा जा रहा है- “यह तस्वीर बयान करती है कि तानाशाह का अंत निश्चित है। केजरीवाल की गिरफ़्तारी के ख़िलाफ़ जनता सड़कों पर है।”

देख सकते हैं सोशल मीडिया पर इस फोटो को कई अकॉउंट्स से शेयर किया गया है। आप समर्थक इसे शेयर करके दिखा रहे हैं कि लोग केजरीवाल के जेल जाने से कितनी बड़ी तादाद में रोष प्रकट कर रहे हैं।

जब हमने इंटरनेट पर सर्च करके इस फोटो की हकीकत जाननी चाही तो पता चला कि ये फोटो असल में केजरीवाल के समर्थन में उतरी भीड़ की नहीं है बल्कि ओडिशा के जगन्नाथ पुरी में जुटी भीड़ की है।

मीडिया से लेकर सोशल मीडिया पर ये तस्वीर केजरीवाल की गिरफ्तारी के साल भर पहले डाली जा चुकी है। मगर, फिर भी प्रदर्शन को मजबूत और व्यापक दिखाने के लगातार ऐसी तस्वीरें शेयर हो रही हैं।

इसके अलावा इस फोटो को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी अपने अकॉउंट से 20 जून 2023 को शेयर किया था। इससे साफ होता है कि लोगों की भीड़ वाली ये तस्वीर पुरी की रथ यात्रा की ही है। इसके साथ ही ये भी साफ होता है कि वायरल तस्वीर का हाल ही में हुए केजरीवाल के लिए किए प्रदर्शन से कोई लेना-देना नहीं है।

बता दें कि अरविंद केजरीवाल शराब घोटाला मामले में ईडी द्वारा अरेस्ट किए गए हैं। उनके जेल जाने के बाद से आप समर्थकों ने दिल्ली की सड़कों पर हंगामा किया हुआ है। लेकिन जो भीड़ दिखाकर ये फैलाया जा रहा है कि इतने ज्यादा लोग केजरीवाल के लिए सड़कों पर आए वो बिलकुल गलत है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -