Monday, October 19, 2020
Home फ़ैक्ट चेक सोशल मीडिया फ़ैक्ट चेक 'ब्राह्मणों-जाटों ने मारा, गोमूत्र पिलाया': 12 मुस्लिम परिवारों को हिन्दू बनाने की घटना को...

‘ब्राह्मणों-जाटों ने मारा, गोमूत्र पिलाया’: 12 मुस्लिम परिवारों को हिन्दू बनाने की घटना को पुलिस ने बताया फर्जी

इस घटना की जाँच और पुलिस से बातचीत के बाद हमने पाया है कि इस वेबसाइट द्वारा किए गए दावे वास्तविकता से एकदम अलग हैं। इस घटना को कुछ मुस्लिम युवकों द्वारा साम्प्रदायिक रंग देने के लिए सोच-समझकर भ्रामक तथ्य जोड़ तैयार किए जा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर एक ऐसी खबर को फैलाने का प्रयास किया जा रहा है, जिसमें दावा किया गया कि हिन्दू युवकों ने 12 मुस्लिमों का जबरन धर्मान्तरण कर उन्हें हिन्दू बनाया है। यह भ्रामक और बेबुनियाद खबर सबसे पहले ‘इंडिया टूमारो’ (India Tomorrow) नामक वेबसाइट पर प्रकाशित की गई। बाद में इसने सोशल मीडिया पर अपने लिए जगह बना ली।

क्या है प्रपंच

इंडिया टूमारो की इस खबर में लिखा गया है, “हरियाणा के सोनीपत जिले की सीमा से लगे दिल्ली के बवाना इलाके के हरेवली गाँव में 12 मुस्लिम परिवारों को जबरन धर्म परिवर्तन करवाने का मामला सामने आया है। आरोप है कि 5 मई को बवाना इलाके के हरेवली गाँव के 12 मुस्लिम परिवारों के लगभग 60 लोगों को गाँव के कुछ जाट दबंगों द्वारा हिंदू धर्म अपनाने के लिए बाध्य किया गया।”

@Amreen8Malik ने ट्विटर पर दिलशाद का एक बयान भी ट्वीट किया है –

लेकिन, इस घटना की जाँच और पुलिस से बातचीत के बाद हमने पाया है कि इस वेबसाइट द्वारा किए गए दावे वास्तविकता से एकदम अलग हैं। इस घटना को कुछ मुस्लिम युवकों द्वारा साम्प्रदायिक रंग देने के लिए सोच-समझकर भ्रामक तथ्य जोड़ तैयार किए जा रहे हैं।

ऑपइंडिया ने दरियापुर पुलिस चौकी, बवाना से संपर्क कर जो जानकारी जुटाई, उनसे पता चला कि इस प्रोपेगेंडा को मुस्लिमों पर हो रहे अत्याचार के रूप में साबित करने का प्रयास किया जा रहा है, जबकि यह कुछ और ही था।

क्या है असली मामला

ऑपइंडिया से बातचीत में पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बवाना इलाके के हरेवली गाँव का ही एक मुस्लिम युवक दिलशाद, तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होकर भोपाल से लौटा था।

इसी बीच देशभर में तबलीगी जमात के उपद्रव के कारण खबरें सामने आने लगीं, जिनमें पता चला कि तबलीगी जमात देशभर में कोरोना संक्रमण का सबसे बड़ा स्रोत बनकर उभरा था। गाँव के लोगों में इन सभी बातों से भय का माहौल था।

जब दिलशाद ने अपने तबलीगी जमात से लौटने की बात बताई तो क्वारंटाइन जैसी बातों को लेकर गाँव के ही कुछ युवकों के साथ उसकी बहस हो गई और बाद में यह बहस झड़प में बदल गई। लोगों को शक था कि युवक साजिशन कोरोना वायरस फैलाने के लिए गाँव में घुसा है।

युवकों ने कहा कि दिलशाद कोरोना संक्रमण का जरिया बन सकता है। पुलिस ने बताया कि इस घटना को लेकर गाँव के कुछ युवकों पर FIR भी दर्ज की गई और सम्बंधित जाँच अभी भी जारी है।

लेकिन यहाँ से दिलशाद और उसके कुछ साथियों ने इस घटना को चर्चा में लाने का जरिया बनाने का प्रयास किया और अपने बयानों को पूरी तरह से नया रंग दे दिया, जिन्हें कि सोशल मीडिया पर खूब शेयर भी किया जा रहा है।

हकीकत यह है कि यदि आप इन रिपोर्ट्स को पढ़ेंगे, या दिलशाद के बयान का वीडियो देखेंगे तो आप स्वयं इस नतीजे पर पहुँच जाएँगे कि इसे हिन्दुओं के खिलाफ उनकी छवि ख़राब करने के लिए एक सुनियोजित तरीके से दुष्प्रचार कर फैलाया जा रहा है।

रिपोर्ट्स और वीडियो में दिलशाद ने आरोपितों को अनगिनत बार हिन्दू कहा है। तब भी हिन्दू कहा है, जब कि सवाल उनके मजहब को लेकर नहीं बल्कि कुछ और ही था। यानी, यदि सवाल यह है कि वो तबलीगी जमात से कब लौटा था, तो इसके जवाब में भी दिलशाद यही कहते देखे जा सकते हैं कि ‘वो सब हिन्दू थे, वो जाट थे, वो ब्राह्मण थे’।

इंडिया टूमारो की रिपोर्ट में ही इसके प्रोपेगेंडा और मनगढ़ंत कहानी का तरीका इन पंक्तियों से स्पष्ट होता है, जिन्हें आप इस वेबसाइट से लिए गए स्क्रीनशॉट में पढ़ सकते हैं –

यही नहीं, रिपोर्ट को सांप्रदायिक रंग देने के लिए लिखा गया है, “दबंगों ने जबरन मंदिर ले जाकर गौ मूत्र पिलाया और कहा कि आज से कोई भी मस्जिद नहीं जाएगा और मुर्दों को कब्रिस्तान में नहीं दफनाएगा। सभी को हिन्दुओं की तरह मुर्दे को शमशान ले जाकर जलाना है।”

किसी स्थानीय व्यक्ति के हवाले से इस कथित रिपोर्ट में लिखा गया है कि वो सभी मुसलमान ही हैं, मगर उनके नाम हिन्दू नामों जैसे हैं जिस कारण उन्हें हिन्दू बनाया जा रहा है।

पुलिस का कहना है कि दिलशाद के साथ झगड़ा करने वाले युवकों पर FIR के बाद उन्हें गिरफ्तार भी किया जा चुका है, लेकिन दिलशाद और उसके कुछ साथी इसे जबरन साम्प्रदायिक साबित करना चाह रहे हैं।

हमने जाँच की, स्पेशल ब्रांच और आईबी ने भी जाँच में पाया कि यह सब काल्पनिक और बेबुनियाद पाए गए हैं। उन्होंने बताया कि उनके ही किसी स्थानीय साथी, जो कि पेशे से वकील हैं ने इससे सम्बंधित बयान यूट्यूब पर डाल दिया।

पुलिस ने बातचीत में बताया कि दिलशाद के साथ उसका एक मित्र भी भोपाल गया था, जो कि वहीं रुक गया था। लेकिन सिर्फ इस घटना को मजहबी रंग देने के लिए नए बयान देकर कहा जा रहा है कि दिलशाद ने अपने साथ हुई धर्म परिवर्तन की घटना के बाद उसे दिल्ली ना आने को कह दिया।

पुलिस ने बताया कि वास्तविकता यह है कि वो दिल्ली न आने के बजाए वहीं रुक गया था, क्योंकि उसका घर वहीं है, ना कि दिल्ली। इस वेबसाइट द्वारा जिस तरह से ये पूरा घटनाक्रम दिखाया जा रहा है उसका निचोड़ इसी रिपोर्ट के अन्त में लिखा भी गया है।

वास्तव में इस तरह के प्रोपेगेंडा को सिर्फ और सिर्फ हिन्दुओं की छवि को नुकसान पहुँचाने के उद्देश्य से तैयार किया जा रहा है।

कोरोना वायरस के दौरान खुद को जबरन पीड़ित बताकर यह साबित करने का प्रयास किया जा रहा है कि जो उपद्रव देशभर में तबलीगी जमात और मुस्लिम समुदाय के ही अन्य लोगों ने किया है, शायद इस तरह के फर्जी नैरेटिव और कथानक तैयार कर उनकी भरपाई की जा सकेगी।

यह भी दिलचस्प बात है कि ऐसे दुर्भाग्यपूर्ण मामले तब सामने आ रहे हैं, जब कुछ दिन पहले ही शेखर गुप्ता के ‘द प्रिंट’ ने एक लेख में लोगों को सलाह दी कि भारत में यदि सत्ता से लड़ना है तो प्रपंच और झूठ का सहारा लिया जाना चाहिए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हाथरस में न्याय की लड़ाई का ढोंग करने वाली कॉन्ग्रेस ने पापरी बोस रेप कांड आरोपित प्रवीण कुशवाहा को दिया टिकट

प्रवीण सिंह कुशवाहा 1988 के पापरी बोस कांड रेप आरोपित हैं। प्रवीण सिंह आरोप लगा कि उन्होंने एक डॉक्टर की बेटी पापरी बोस को अगवा कर लिया। अगले दिन जबरन शादी कर ली।

उद्धव ठाकरे सरकार की कोर्ट में स्वीकृति के बाद परमबीर सिंह पर 200 करोड़ की मानहानि का मुकदमा करेगा रिपब्लिक TV

रिपब्लिक टीवी मानहानि का मुकदमा करने की प्रक्रिया शुरू कर चुकी है। अपने ही कमिश्नर के दावों में विरोधाभास पैदा करते हुए मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार के वकील ने कहा कि एफ़आईआर में रिपब्लिक टीवी का नाम नहीं है।

मिलिए भगवान महावीर की अहिंसा पर PHD होल्डर उस बाहुबली नेता से जिसने मुख्तार अंसारी के मर्डर के लिए दी थी ₹50 लाख की...

सुनील पांडेय का एक परिचय यह भी है कि वो पीएचडी हैं। अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाते हैं। हैरानी वाली बात तो यह है कि इन्होंने पीएचडी भगवान महावीर की अहिंसा पर की है।

‘अर्नब गोस्वामी आरोपित नहीं’: बॉम्बे HC ने ‘फेक TRP स्कैम’ में परमबीर को लगाई फटकार, ठाकरे की पुलिस ने छोड़ा कमिश्नर का साथ

फेक टीआरपी स्कैम में रिपब्लिक टीवी के खिलाफ दर्ज एफआईआर को रद्द करने की याचिका पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने सोमवार को कहा कि रिपब्लिक के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी मामले में आरोपित नहीं हैं।

DD के यूट्यूब चैनल पर 10 लाख से अधिक लोगों ने देखी ‘अयोध्या की रामलीला’ की Live स्ट्रीमिंग

रामलीला के पहले एपिसोड के व्यूज 1 मिलियन यानी लगभग 10 लाख से ज़्यादा हो चुके हैं। जबकि दूसरे एपिसोड के वीडियो को अब तक लगभग 9 लाख से अधिक लोग देख चुके हैं।

मजहबी कारणों से नहीं मिलाया महिला अधिकारी से हाथ, मुस्लिम शरणार्थी डॉक्टर को जर्मनी ने किया नागरिकता देने से इंकार

मुस्लिम शरणार्थी ने महिला अधिकारी से हाथ मिलाने पर असहमति जताई। उसके अनुसार उसने ऐसा धार्मिक आधार पर किया, इस मामले पर जर्मनी की अदालत ने उसे नागरिकता प्रदान करने से मना कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

‘बीच सड़क पर रेप होना चाहिए’: कंगना रनौत के नवरात्रि पोस्ट पर वकील मेहंदी रेजा, बोला – ‘अकाउंट हैक हो गया था’

मेहंदी रेजा ने दावा किया कि उसकी फेसबुक आईडी हैक हो गई थी और उसका प्रयोग करते हुए किसी ने कंगना रनौत पर आपत्तिजनक टिप्पणी पोस्ट कर दी।

देश का पहला ऐसा सांसद जिसे मिली फाँसी की सजा… उस बाहुबली का बेटा-बीवी दोनों RJD से लड़ रहे चुनाव

गोपालगंज के दलित IAS अधिकारी जी कृष्णैया की भीड़ ने पिटाई की और गोली मारकर हत्या कर दी। इस भीड़ को आनंद मोहन ने उकसाया था।

मैथिली ठाकुर के गाने से समस्या तो होनी ही थी.. बिहार का नाम हो, ये हमसे कैसे बर्दाश्त होगा?

मैथिली ठाकुर के गाने पर विवाद तो होना ही था। लेकिन यही विवाद तब नहीं छिड़ा जब जनकवियों के लिखे गीतों को यूट्यूब पर रिलीज करने पर लोग उसके खिलाफ बोल पड़े थे।

मुस्लिम व्यक्ति ने दारुल उलूम से पूछा- क्या उसकी शादी जैसा तनिष्क विज्ञापन में दिखाया गया वैसे हो सकती है? मिला ये चौकाने वाला...

मौलवी ने इसका उत्तर देते हुए स्पष्ट कर दिया कि ऐसा मिलन इस्लाम में स्वीकार्य नहीं है। दारुल उलूम देवबंद ने कहा, "ये सभी शर्तें इस्लाम के खिलाफ हैं।"

प्रिय हिन्दुओ! कमलेश तिवारी की हत्या को ऐसे ही जाने मत दो, ये रहे दो विकल्प

कमलेश तिवारी की हत्या के बाद एक आम हिन्दू की तरह, आपकी तरह- मैं भी गुस्से में हूँ और व्यथित हूँ। समाधान तलाश रहा हूँ। मेरे 2 सुझाव हैं। अगर आप चाहते हैं कि इस गुस्से का हिन्दुओं के लिए कोई सकारात्मक नतीजा निकले, मेरे इन सुझावों को समझें।

‘अरुणाचल भारत का हिस्सा नहीं, J&K चीन में है’: चीनी मोबाइल कम्पनी Xiaomi से भारत की जनता ने माँगा जवाब

वहीं लोगों ने जब नोकिया व अन्य नॉन-चीन कम्पनी के फोन्स में अरुणाचल प्रदेश के शहरों के मौसम का हाल शेयर किया, तब सब कुछ ठीक-ठीक बताया जा रहा था।
- विज्ञापन -

हाथरस में न्याय की लड़ाई का ढोंग करने वाली कॉन्ग्रेस ने पापरी बोस रेप कांड आरोपित प्रवीण कुशवाहा को दिया टिकट

प्रवीण सिंह कुशवाहा 1988 के पापरी बोस कांड रेप आरोपित हैं। प्रवीण सिंह आरोप लगा कि उन्होंने एक डॉक्टर की बेटी पापरी बोस को अगवा कर लिया। अगले दिन जबरन शादी कर ली।

उद्धव ठाकरे सरकार की कोर्ट में स्वीकृति के बाद परमबीर सिंह पर 200 करोड़ की मानहानि का मुकदमा करेगा रिपब्लिक TV

रिपब्लिक टीवी मानहानि का मुकदमा करने की प्रक्रिया शुरू कर चुकी है। अपने ही कमिश्नर के दावों में विरोधाभास पैदा करते हुए मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र सरकार के वकील ने कहा कि एफ़आईआर में रिपब्लिक टीवी का नाम नहीं है।

मिलिए भगवान महावीर की अहिंसा पर PHD होल्डर उस बाहुबली नेता से जिसने मुख्तार अंसारी के मर्डर के लिए दी थी ₹50 लाख की...

सुनील पांडेय का एक परिचय यह भी है कि वो पीएचडी हैं। अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाते हैं। हैरानी वाली बात तो यह है कि इन्होंने पीएचडी भगवान महावीर की अहिंसा पर की है।

शिक्षक का गला रेतने के बाद इस्लामी कट्टरपंथियों के विरुद्ध फ्रांस का सख्त एक्शन: 231 कट्टरपंथी किए जाएँगे देश से बाहर

एफ़एसपीआरटी की रिपोर्ट के अनुसार 231 विदेशी नागरिकों में से 180 कारावास में कैद हैं। इसके अलावा बचे हुए 51 को अगले कुछ घंटों में गिरफ्तार किया जाना था।

कट्टरपंथियों ने दीवार पर चिपकाया गुरुद्वारे की इमारत हटाने का पोस्टर, कहा- पाकिस्तान की पूरी जमीन मुस्लिमों की है

कट्टरपंथियों का दावा है कि शहीद भाई तारू सिंह और सिंह सिंघानिया गुरुद्वारे की जमीन पीर शाह काकू चिश्ती और शहीद गंज मस्जिद के मकबरे से जुड़ी है।

50 पुलिसकर्मियों के बीच बख्तरबंद गाड़ी में पंजाब से यूपी लाया जाएगा मुख्तार अंसारी: नए मामलों में होगी कोर्ट में पेशी

पिछले साल के जनवरी महीने से ही गैंगस्टर अंसारी को पंजाब की जेल में कैद किया गया है। उनकी गिरफ्तारी एक बिल्डर से फिरौती माँगने के मामले में हुई थी।

‘अर्नब गोस्वामी आरोपित नहीं’: बॉम्बे HC ने ‘फेक TRP स्कैम’ में परमबीर को लगाई फटकार, ठाकरे की पुलिस ने छोड़ा कमिश्नर का साथ

फेक टीआरपी स्कैम में रिपब्लिक टीवी के खिलाफ दर्ज एफआईआर को रद्द करने की याचिका पर सुनवाई करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट ने सोमवार को कहा कि रिपब्लिक के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी मामले में आरोपित नहीं हैं।

DD के यूट्यूब चैनल पर 10 लाख से अधिक लोगों ने देखी ‘अयोध्या की रामलीला’ की Live स्ट्रीमिंग

रामलीला के पहले एपिसोड के व्यूज 1 मिलियन यानी लगभग 10 लाख से ज़्यादा हो चुके हैं। जबकि दूसरे एपिसोड के वीडियो को अब तक लगभग 9 लाख से अधिक लोग देख चुके हैं।

न अपना नेता, न वीडियो बदल रही कॉन्ग्रेस: 11 माह पुरानी झारखंड चुनाव वाली वीडियो से ही बिहार में भी हो रहा चुनाव प्रचार

11 माह पहले झारखंड चुनावों में ‘आ रही है कॉन्ग्रेस’ कैप्शन वाली वीडियो बिहार चुनावों में हुई- ‘बोले बिहार बदले सरकार, जन जन को मिलेगा अधिकार’

मजहबी कारणों से नहीं मिलाया महिला अधिकारी से हाथ, मुस्लिम शरणार्थी डॉक्टर को जर्मनी ने किया नागरिकता देने से इंकार

मुस्लिम शरणार्थी ने महिला अधिकारी से हाथ मिलाने पर असहमति जताई। उसके अनुसार उसने ऐसा धार्मिक आधार पर किया, इस मामले पर जर्मनी की अदालत ने उसे नागरिकता प्रदान करने से मना कर दिया।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
78,820FollowersFollow
335,000SubscribersSubscribe