डोनाल्‍ड ट्रम्प की बेटी ने माना ओवैसी के हॉस्पिटल का लोहा, स्पेशल विजिट करने आईं भारत: Fact Check

ओवैसी की पार्टी AIMIM के कार्यकर्ता भी इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं और कटाक्ष करते हुए लिख रहे हैं- "डंका तो सिर्फ मोदी का ही बज रहा है विदेश में।"

सोशल मीडिया पर कौन सी खबर किस दिशा में आगे बढ़ जाए, कहना मुश्किल होता है। ऐसा ही एक उदाहरण ओवैसी के प्रशंसकों द्वारा आजकल देखने को मिल रहा है।

क्या है मामला?

दरअसल, फेसबुक पर एक विडियो शेयर किया जा रहा है, जिसमें एक महिला इंटरव्यू देते हुए देखी जा रही है। इस विडियो को शेयर करते हुए दावा किया गया है कि यह महिला अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प की बेटी हैं, जो खासतौर पर हैदराबाद में ओवैसी के अस्पताल का दौरा करने गई थी।

वीडियो में महिला ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (AIMIM) नेता और असदुद्दीन ओवैसी के भाई अकबरूद्दीन ओवैसी की तारीफ करते सुनी जा सकती हैं। शेयर करते हुए इस विडियो के साथ कैप्शन लिखा गया है-

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

“डॉनल्ड ट्रम्प की बेटी खुद कह रही हैं कि हम स्पेशल अकबरुद्दीन ओवैसी के हॉस्पिटल विजिट करने आए हैं। असदुद्दीन ओवैसी नाम नहीं ब्रैंड हैं।”

AIMIM पार्टी समर्थकों द्वारा यह वीडियो शेयर किया जा रहा है

AIMIM पार्टी के अन्य समर्थकों द्वारा भी यह वीडियो इसी कैप्शन के साथ शेयर किया जा रहा है।

AIMIM समर्थक इस वीडियो में किए गए दावे पर अपनी प्रतिक्रियाएँ भी दे रहे हैं।

ओवैसी की पार्टी AIMIM के कार्यकर्ता भी इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं और कटाक्ष करते हुए लिख रहे हैं- “डंका तो सिर्फ मोदी का ही बज रहा है विदेश में।”

क्या है सच्चाई?

वास्तव में, सोशल मीडिया पर AIMIM समर्थकों द्वारा शेयर किया जा रहा यह वीडियो यूट्यूब डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी इवाँका ट्रम्प का नहीं बल्कि ब्रियाना कुक का है। यूट्यूब पर इस ओरिजनल वीडियो में साफ-साफ लिखा है कि इवाँका की दोस्‍त आसरा अस्‍पताल (अकबरुद्दीन ओवैसी) गईं थीं। इस वीडियो को दिसंबर 01, 2017 में SharpIndians TV News & Entertainment नाम के Youtube चैनल ने अपलोड किया था। इसका वॉटरमार्क भी वीडियो में देखा जा सकता है।

यूट्यूब पर अपलोडेड यह वीडियो यहाँ देखा जा सकता है –

यह पूरी तरह स्पष्ट हो चुका है कि वायरल वीडियो में दिख रहीं महिला डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी इवाँका ट्रंप नहीं बल्कि ब्रियाना कुक हैं। ब्रियाना भी अमेरिकी ही हैं।

जबकि, डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी इवाँका नवंबर 2017 में हैदराबाद गई थीं। हैदराबाद में हुए ग्लोबल ऑन्टरप्रिन्योरिशप समिट 2017 में वह अमेरिकी डेलिगेशन का नेतृत्व कर रही थीं। जैसा कि ANI के इस ट्वीट में देखा जा सकता है।

वीडियो पर दिख रहे वॉटरमार्क और लोगो से यह स्पष्ट है कि यह वीडियो असली है और इसी का एक हिस्सा फर्जी दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। असली वीडियो की शुरुआत में महिला कहती हैं, “इवाँका ट्रंप के डेलिगेशन के साथ अमेरिका से मैं ब्रियाना कुक हूँ।”

हालाँकि, वीडियो की वास्तविकता से हटकर AIMIM समर्थकों द्वारा वायरल किए जा रहे वीडियो में दिख रही महिला को ध्यान से देखने पर खुद यह साबित हो जाता है कि वह न तो इवाँका ट्रंप हैं और न ही डॉनल्ड ट्रम्प की दूसरी बेटी टिफनी ट्रम्प हैं। ऐसी भी कोई रिपोर्ट नहीं है कि टिफनी ट्रम्प अपनी बहन इवाँका से साथ भारत आई थीं।

अंतिम निर्णय

इस फैक्ट चेक से पता चलता है कि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रम्प की बेटी हैदराबाद स्थित ओवैसी के अस्‍पताल में कभी नहीं गईं थीं। ओवैसी की पार्टी AIMIM के समर्थकों द्वारा वायरल वीडियो में दिख रहीं महिला का नाम ब्रियाना कुक है, जो कि वे इवाँका के हैदराबाद दौरे के वक्‍त अ‍मेरिकी प्रतिनिधि मंडल में शामिल थीं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

सबरीमाला मंदिर
सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के अवाला जस्टिस खानविलकर और जस्टिस इंदू मल्होत्रा ने इस मामले को बड़ी बेंच के पास भेजने के पक्ष में अपना मत सुनाया। जबकि पीठ में मौजूद जस्टिस चंद्रचूड़ और जस्टिस नरीमन ने सबरीमाला समीक्षा याचिका पर असंतोष व्यक्त किया।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,578फैंसलाइक करें
22,402फॉलोवर्सफॉलो करें
117,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: